Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

मुजफ्फरपुर: तारीख पे तारीख, लेकिन कब मिलेगा नवरुणा को इंसाफ

Jk24x7News.Tv Jk24x7News.Tv Jk24x7News.Tv

मुज़फ़्फ़रपुर की चर्चित नवरुणा हत्याकांड मामले में बुधवार को विशेष कोर्ट ने सीबीआइ से प्रगति प्रतिवेदन को लेकर तलब किया है। आपको बता दें कि मामले में नवरुणा की मां मैत्रेयी चक्रवर्ती की ओर से दाखिल एक अर्जी की सुनवाई के बाद विशेष सीबीआइ कोर्ट के दंडाधिकारी उमेशमणि त्रिपाठी ने यह रिपोर्ट तलब की है। सीबीआइ के ओर से कोई अधिकारी विशेष कोर्ट में उपस्थित नहीं थे। अब मामले में अगली सुनवाई के लिए कोर्ट ने 4 जुलाई की तारीख तय की है।

नवरुणा की मां की ओर से उनकी अधिवक्ता रंजना सिंह ने विशेष कोर्ट में दाखिल अर्जी में कहा है कि 2014 से सीबीआइ मामले की जांच कर रही है, लेकिन अब तक कोई भी प्रगति प्रतिवेदन व अभियोजन साक्ष्य कोर्ट में पेश नहीं किया है। अर्जी में सीबीआइ को रिपोर्ट सौंपने के लिए निर्देशित करने की विशेष कोर्ट से प्रार्थना की गई है।

मामले में जांच पूरी करने को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआइ को 21 अगस्त तक की नई डेडलाइन दे दी है। वहीं हालांकि सीबीआइ की कोई गतिविधियां सामने नहीं आ रही है।

18 सितंबर 2012 की रात नगर थाना क्षेत्र के जवाहरलाल रोड स्थित अपने आवास से सोई अवस्था में नवरुणा का अपहरण कर लिया गया था और उसके लगभग ढाई माह बाद उसके घर के निकट के नाला से मानव कंकाल मिला था। जिसमें डीएनए जांच से पता चला की यह नवरुणा की लाश है। शुरू में मामले की जांच पुलिस व बाद में सीआइडी ने की और जब कोई नतीजा नहीं निकला तो मामले की जांच सीबीआइ को सौंपी दी गई। फरवरी 2014 से सीबीआइ इस मामले की जांच कर रही है। वहीं मामले के शुरुआत में सीबीआई ने कई लोगों से पूछताछ भी किया था। जिसमें शहर के एक वार्ड पार्षद को भी लेकर पूछताछ कर चुकी है। सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद जांच में तेजी लाने का निर्देश भी दिया गया था। आधे दर्जन लोगों को सीबीआई जांच में ले चुकी, लेकिन किसी के खिलाफ चार्जशीट दाखिल नहीं कर सकी और सब बरी हो गए।

Rate this item
(0 votes)