Login to your account

Username *
Password *
Remember Me
News Desk

News Desk

दिल्ली पुलिस लगातार वाहन चालकों का भारी भरकम चालान काट रही है । जिसके परेशान हो कर आज दिल्ली में हड़ताल जारी है । वहीं अब दिल्ली से एक और भारी भरकम चालान कटने का मामला सामने आया है । जिसमें पुलिस ने स्कूटी का 33 हजार रुपये का चालान काटा । स्कूटी के मालिक ने फिलहाल चालान कोर्ट में जमा कर दिया है साथ ही उस चालान की तस्वीर सोशल मीडिया पर भी शेयर की है ।

मिली जानकारी के मुताबिक स्कूटी का चालान दिल्ली के साकेत इलाके में किया गया है । एएसआई वेद प्रकाश ने जे-ब्लाक, साकेत में स्कूटी चालक विशाल को रोका था। चालक ने हेलमेट नहीं पहन रखा था और खतरनाक ढंग से वाहन चला रहा था। बहुत ही मुश्किल से उसे काबू किया गया।

आपको बता दें कि, चालक ने इसलिए यह चालान कोर्ट में जमा कर दिया क्योंकि, उसके पास ना ही स्कूटी के कोई कागजात थे न ही उसके पास ड्राइविंग लाइसेंस था। आरोपी ने मौके से भागने की कोशिश की और ट्रैफिक पुलिसकर्मियों के साथ दुर्व्यवहार भी किया। पुलिसकर्मियों ने उसकी स्कूटी को जब्त कर लिया था।

सुप्रीम कोर्ट ने राम मंदिर जमीनी विवाद को लेकर सभी पक्षों से 18 अक्टूबर को बहस खत्म करने के आदेश दिए हैं । जिसके बाद से लगातार पक्ष-विपक्ष राम मंदिर को लेकर कई तरह के विवादित बयान दे रहा है । महाराष्ट्र के नासिक में रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने राम मंदिर मसले पर बयान दे रहे नेताओं को नसीहत दे डाली है ।

पीएम मोदी ने अपनी नासिक रैली के दौरान राम मंदिर पर बयान देते हुए कहा कि, पिछले 2-3 सप्ताह से कुछ बड़बोले लोग अनापशनाप बयानबाजी कर रहे हैं और राम मंदिर पर बोल रहे हैं। देश के सभी नागरिकों का भारत की सुप्रीम कोर्ट के प्रति सम्मान बहुत आवश्यक होता है, जब मामला सर्वोच्च अदालत में चल रहा हो तो पता नहीं ये बयानबहादुर कहां से टपक गए हैं, हमारा संविधान-सुप्रीम कोर्ट पर भरोसा होना चाहिए ।

पीएम मोदी ने कहा कि, पिछले 2-3 सप्ताह से कुछ बड़बोले लोग अनापशनाप बयानबाजी कर रहे हैं और राम मंदिर पर बोल रहे हैं। देश के सभी नागरिकों का भारत की सुप्रीम कोर्ट के प्रति सम्मान बहुत आवश्यक होता है, जब मामला सर्वोच्च अदालत में चल रहा हो तो पता नहीं ये बयानबहादुर कहां से टपक गए हैं, हमारा संविधान-सुप्रीम कोर्ट पर भरोसा होना चाहिए । बता दें कि, सुप्रीम कोर्ट के मुताबिक 17 नवंबर से पहले अयोध्या जमीनी विवाद को लेकर फैसला सुना देगा ।

देश में बढ़ती आबादी के साथ-साथ सड़को में वाहनें भी बढ़ती जा रही हैं । यही वजह है कि, देश के खासतौर से बड़े शहरों में ट्रैफिक जाम की रोजाना कितनी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है । इसी ट्रैफिक के हालातों से बचते हुए एक्टर अक्षय कुमार ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है । जिसमें उन्होंने ट्रैफिक से बचने के लिए एक नया तरीका जनता से शेयर किया है ।

दरअसल मुंबई में इन दिनों लगातार हो रही बारिश के कारण ट्रैफिक जाम होना आम बात हो गई है । वहीं बुधवार को अक्षय कुमार अपनी फिल्म की शुटिंग के लिए जा रहे थे तभी इस ट्रैफिक से बचने के लिए अक्षय कुमार ने मेट्रो का सहारा लिया और इस दौरान उन्हें कुछ ही लोग पहचान पाए । दरअसल अक्षय कुमार ने बुधवार की रात अपना एक वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में वह बताते हैं कि वह घाटकोपर में शूटिंग कर रहे थे और वहां से उन्‍हें वर्सोवा पहुंचना था। लेकिन जब उन्‍होंने मैप में चैक किया तो इस दूरी के लिए उन्‍हें कार से 2 घंटे 5 मिनट लगने वाले थे ।

बता दें कि, इस सफर में वह अकेले नहीं थे, बल्कि निर्देशक राज भी उनके साथ मेट्रो के इस सफर में थे । आप भी देखें अक्षय का यह वीडियो । अक्षय अपने वीडियो में यह भी कहते हुए नजर आ रहे हैं कि क्‍योंकि मेट्रो का मार्ग एलिवेटेड है, इसलिए बारिश की वजह से भी ये कभी रुकती नहीं है। आपको याद दिला दें कि मुंबई में बारिश के दौरान अक्‍सर उसकी लाइफ लाइन कही जाने वाली 'लोकल ट्रेन' ठप्‍प हो जाती है। ट्रैक पर पानी भरने के चलते हजारों लोगों को परेशान होना पड़ता है ।

 

लोकसभा चुनाव 2019 में हुई सियासी गरमाहट को भूलाकर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को पीएम मोदी से मुलाकात की थी। इस दौरान उन्होंन पीएम मोदी एक मिठाई का डिब्बा भी दिया साथ ही उन्हें बंगाल आने का न्योता भी दिया । पीएम मोदी से मुलाकात करने के बाद ममता बनर्जी ने गुरूवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की । ममता बनर्जी का इस तरह का भाजपा की तरफ बदला व्यवहार को देख भाजपा ने इसका दिल से स्वागत किया ।

गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात के बाद ममता बनर्जी ने कहा कि, 'मैं पहली बार गृह मंत्री मिली हूँ। मेरा अक्सर दिल्ली आना नहीं हो पाता है। कल मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मिली थी। यह मुलाकात गृह मंत्री के साथ संवैधानिक दुरुपयोग समेत कई मामलों को लेकर हुई' । बता दें कि, बुधवार को जब ममता बनर्जी पीएम मोदी से मुलाकात करने पहुंची थी तब उन्होंने गृह मंत्री अंमित शाह से मुलाकात करने की इच्छा जाहिर की थी । उन्होंने कहा था कि, वह जल्द ही अमित शाह से मुलाकात करेंगी ।

प्रधानमंत्री के साथ बैठक को अच्छा बताते हुए ममता ने कहा कि राज्य का नाम बदलने से संबंधित उनका एजेंडा सबसे ऊपर है। उन्होंने कहा, "हमने पश्चिम बंगाल का नाम बदलकर बांग्ला करने पर चर्चा की और उन्होंने इसके बारे में कुछ करने का वादा भी किया है" । इसके अलावा बैठक के दौरान रेलवे और खनन से संबंधित रुकी हुई परियोजनाओं व कुछ सार्वजनिक क्षेत्र की इकाइयों के विनिवेश के संबंध में भी बातचीत की गई ।

 

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव नजदीक हैं ऐसे में पीएम मोदी चुनाव प्रचार के लिए गुरूवार को नासिक में एक रैली को संबोधित करेंगे । बता दें कि, पीएम मोदी इस रैली के दौरान नासिक की एक दिन की यात्रा करेंगे । इस रैली से पहले मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि, महाजनादेश यात्रा कल खत्म हो रही है और महाविजय यात्रा शुरू हो रही है ।

फडणवीस की महाजनादेश यात्रा के दो चरण खत्म हो चुके हैं। वहीं तीसरे चरण की यात्रा का आखिरी दिन आज है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नासिक के तपोवन मैदान से लोगों को संबोधित करेंगे । महाराष्ट्र में अगले महीने ही चुनाव होने की संभावना जताई जा रही है । वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी इस रैली के दौरान कई बड़ी योजनाओं की घोषणा कर सकते हैं ।

यात्रा के बुधवार शाम नासिक पहुंचने के बाद फड़णवीस ने कहा, ‘‘महाजनादेश यात्रा कल खत्म हो रही है और महाविजय यात्रा शुरू हो रही है'' । भाजपा के एक प्रवक्ता ने बताया कि मोदी बृहस्पतिवार को होने वाली रैली के माध्यम से विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी का विमर्श का मुद्दा तय करेंगे ।

पाकिस्तान लगातार सीमा पर सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है । इससे साफ जाहिर होता है कि पाकिस्तान इस वक्त कितना बौखलाया हुआ है । वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अब खबर यह सामने आ रही है कि, पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सीजफायर का उल्लंघन किया है । पाकिस्तानी रेंजर्स की ओर से कठुआ जिले के हीरानगर सेक्टर में फायरिंग की गई है ।

बता दें कि, भारतीय सेना की तरफ से लगातार फायरिंग की जा रही है और सेना पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दे रही है । इससे पहले बुधवार को भी बालाकोट में पाकिस्तान की ओर से दागे गए 9 जिंदा मोर्टार को नष्ट किया था। बता दें कि, बालाकोट सेक्टर में पाकिस्तान ने रविवार को रात भर भारतीय सेना पर गोलीबारी की । जिसका भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सैनिकों को करारा जवाब दिया ।

इससे पहले 2 सितंबर को भी LOC के पास पाकिस्तान की ओर से सीजफायर तोड़े के बाद एक भारतीय सैनिक शहीद हो गया था। सीजफायर उल्लंघन की यह घटना पुंछ सेक्टर की है। सेना ने शहीद सैनिक की पहचान ग्रेनेडियर हेमराज जाट (23) के तौर पर की। सीजफायर उल्लंघन के दौरान पाकिस्तानी सैनिकों ने मोर्टार दागे और छोटे हथियारों से गोलीबारी की, जिसमें जाट गंभीर रूप से घायल हो गए। इस तरह पाकिस्तान की तरफ से लगातार सीजफायर का उल्लंघन करना साफतौर पर जाहिर करता है कि, जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाने से वह कितने बौखलाए हुए हैं ।   

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार सत्ता संभाले 2.5 साल आज पूरे हो गए हैं। 2.5 वर्ष के कार्यकाल के पूरा होने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज जनता के समक्ष अपने कार्यविवरण का ब्यौरा देंगे और साथ ही साथ आने वाले 2.5 सालों में क्या काम करेंगे इसके बारे में भी जानकारी देंगे।

आपको बता दें कि CM योगी ने अपने 2.5 साल के कार्यकाल में कई अहम और बड़े फैसले लिए हैं। चाहे वो महिला सुरक्षा को लेकर एंटी रोमियो स्क्वाड का हो या फिर अपराधियों पर लगाम लगाने के कानून व्यवस्था को सुदृढ़ करना हो।

सीएम योगी के 2.5 साल के कार्यकाल के दौरान कई परेशानियां भी आई, लेकिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

योगी सरकार की 2.5 साल में ये रही बड़ी उपलब्धियां

  1. अपराधियों के एनकाउंटर की खुली छूट
  2. 2. शहरों के नाम बदले गए
  3. अवैध बूचड़खानों पर लगाम
  4. गाय को लेकर बनीं नीतियां
  5. एंटी रोमियो स्क्वाड
  6. नकलविहीन परीक्षा
  7. पूर्वांचल-बुंदेलखंड पर सरकार मेहरबान
  8. नोएडा आकर तोड़ा मिथक
  9. धार्मिक शहरों के विकास पर मेहरबान
  10. कुंभ को बनाया 'दिव्य कुंभ'

गुरूवार यानी 19 सितंबर को दिल्ली-एनसीआर में कमर्शियल वाहनों की हड़ताल है । ऐसे में आने-जाने वाले यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है । दरअसल सरकार ने जब से ट्रैफिक नियमों को लेकर मोटर व्हीकल एक्ट लागू किया है तो इन्हीं नियमों के विरोध में कमर्शियल वाहन चालकों ने हड़ताल पूरे दिल्ली-एनसीआर में चक्का जाम किया है । कमर्शियल वाहन चालकों की माने तो सरकार पहले सुविधा दे उसके बाद इतना भारी चालान काटे ।

मिली जानकारी के मुताबिक, दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद, गुरुग्राम, फरीदाबाद आदि के जिन निजी स्कूलों के पास अपनी बसें नहीं हैं, वह छुट्टी घोषित कर रहे हैं । हड़ताल के हालातों को देखते हुए दिल्ली एनसीआर के कुछ स्कूलों को बंद कर दिया गया है । आपको बता दें कि, यह हड़ताल आज सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक जारी रहेगी । इस हड़ताल के दौरान पूरे दिल्ली-एनसीआर में ओला (OLA) उबर (UBER) की सर्विस की गाड़ी को ही मिले । इसके अलावा इस पर्चे में यह भी कहा गया है कि एमसीडी को अपनी मनमानी बंद करनी चाहिए और दिल्ली में रजिस्टर गाड़ियों से पैसा लेना बंद करे। इस पर्चे में कमर्शियल वाहन ड्राइवरों से हड़ताल में शामिल होने की अपील की गई है। साथ ही कहा गया है कि कोई भी ड्राइवर गुरुवार को ओला-उबर में भी अपनी सर्विस न दे, अन्यथा नुकसान का वह खुद जिम्मेदार होगा ।

दूसरी तरफ दिल्ली एनसीआर के गौतम बुद्ध नगर में डीएम द्वारा स्कूल बंद करने के आदेश देने की खबरों को प्रशासन ने भ्रामक बताया है। गौतम बुद्ध नगर के जिला सूचना अधिकारी ने एक विज्ञप्ति में कहा है कि जिला प्रशासन ऐसी खबर फैलाने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करेगा। ऐसे व्यक्तियों के संबंध में जिला प्रशासन द्वारा जांच कराई जा रही है। जिला मजिस्ट्रेट बीएन सिंह ने कहा है कि कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा डीएम के द्वारा स्कूल बंद करने के आदेश देने जैसी भ्रामक खबरें सोशल मीडिया पर प्रसारित की जा रही हैं ।

5 अगस्त को मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर में धारा 370 को हटाने क फैसला किया था । जिसके बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है । वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान ने जब कश्मीर मुद्दे को लेकर विदेश से मदद मांगी तो उन्हें मूंह की खानी पड़ी है । अब पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र (United Nations) से जब मदद मांगी तो एक बार फिर मूंह की खानी पड़ी । संयुक्त राष्ट्र ने कश्मीर मुद्दे को लेकर किसी भी तरह से मध्यस्थता करने से इनकार कर दिया है। यूएन का कहना है कि दोनों देश आप में बातचीत के जरिए इस समस्या का समाधान निकालें ।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटरेस ने कश्मीर मुद्दे को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच चल रही तल्खी पर बयान देते हुए कहा है कि, 'मैं इस बात पर स्पष्ट राय रखता हूं कि कश्मीर में मानवाधिकारों का पूरी तरह से सम्मान होना चाहिए। “मैं इस बात पर स्पष्ट राय रखता हूं कि, कश्मीर समस्या के समाधान के लिए भारत और पाकिस्तान के बीच बातचीत एक आवश्यक तत्व है' ।  यूएन महासचिव ने साफतौर पर कहा है कि, कश्मीर मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान को आपस में बातचीत करनी चाहिए उसमें किसी तीसरे पक्ष की कोई जरूरत नहीं है ।

पोलैंड ने सख्त तेवर अपनाते हुए कहा है कि, भारत में आतंकी चांद से नहीं पाकिस्तान से आते हैं। पोलैंड ने यह बात EU की संसद में कही है। वहीं इटली ने कहा कि, पाकिस्तान आतंकी यूरोप में हमले की योजना बना रहे हैं। फ्रांस के स्‍ट्रॉसबर्ग में यूरोपीय संघ की संसद ने बुधवार को पिछले 11 सालों में पहली बार कश्‍मीर मुद्दे पर चर्चा की और भारत को अपना समर्थन दिया ।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह कुछ देर में बेंगलुरु में लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (LCA) में उड़ान भरेंगे । आपको बता दें कि, राजनाथ सिंह देश के पहले रक्षा मंत्री होंगे जो कि लाइट कॉम्बेट एयरक्राफ्ट तेजस से कुछ ही देर में उड़ान भरेंगे । तेजस को हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड और एयरोनॉटिकल डेवलपमेंट एजेंसी द्वारा डिजाइन और विकसित किया गया है। इस सिंगल-इंजन फाइटर के शामिल होने से भारतीय वायुसेना को मिग -21 बाइसन विमान को बदलने की अनुमति मिल जाएगी ।

आपको बता दें कि 83 तेजस विमानों में से 10 दो सीट वाले होंगे और भारतीय वायुसेना इन विमानों का इस्तेमाल अपने पायलटों के प्रशिक्षण के लिए करेगी । 13 सितंबर 2019 को तेजस का नौसैनिक वर्जन एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर हासिल करने में सफल रहा, जब इसने गोवा में समुद्री तट -आधारित टेस्ट फैसिलिटी (SBTF) INS हंसा में वायर-अरेस्ट लैंडिंग की। वायर अरेस्टेड लैंडिंग करने वाले तेजस विमान को चीफ टेस्ट पायलट कमोडोर जयदीप ए मौलंकर ने उड़ाया था ।

तेजस एयरक्राफ्ट की सर्वाधिक स्पीड 1.6 मैक है। 2000 किमी की रेंज को कवर करने वाले तेजस का अधिकतम थ्रस्ट 9163 केजीएफ है। इसमें ग्लास कॉकपिट, हैलमेट माउंटेड डिस्प्ले, मल्टी मोड रडार, कम्पोजिट स्ट्रक्चर और फ्लाई बाई वायर डिजिटल सिस्टम जैसे आधुनिक फीचर हैं। इस जेट पर दो आर-73 एयर-टू-एयर मिसाइल, दो 1000 एलबीएस क्षमता के बम, एक लेजर डेजिग्नेशन पॉड और दो ड्रॉप टैंक्स हैं। एक तेजस को बनाने में लगभग 300 करोड़ रुपये खर्च होते हैं। ज्यादातर भारतीय तकनीकी होने के बावजूद इस लड़ाकू विमान का इंजन अमेरिकी है, रडार और वेपन सिस्टम इजरायल का और इजेक्शन सीट ब्रिटेन का है।

मंगलवार को पीएम मोदी का जहां जन्मदिन के तौर पर कई बड़े नेताओं ने उन्हें जन्मदिन की शुभकामनाएं दी । तो वहीं उनके जन्मदिन के अगले दिन यानी बुधवार को लोकसभा चुनाव 2019 में हुई तमाम चुनावी जंग को भूल कर बंगाल की मुख्यमंत्री ने ममता बनर्जी ने उनसे मुलाकात की । इतना ही नहीं उन्होंने पीएम मोदी से मुलाकात कर उन्हें मिठाई और कुर्ता दिया साथ ही उन्होंने कई बड़े मुद्दों पर भी चर्चा की ।

पीएम मोदी से मुलाकात कर ममता बनर्जी ने उन्हें बंगाल आने का भी न्यौता दिया । ममता बनर्जी ने कहा कि पीएम के साथ चर्चा अच्छी रही है। दूसरे कार्यकाल में पीएम के रूप में कार्यभार संभालने के बाद मैं उनसे नहीं मिली थी। ममता बनर्जी ने कहा कि मैंने राज्य के लिए 13500 करोड़ रुपये की मांग की है। साथ ही राज्य का नाम परिवर्तन करना भी लंबित है। ममता बनर्जी ने अपनी इस मुलाकात को चेयर टू चेयर मीटिंग बताया ।

उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह से भी मुलाकात करने की इच्छा जाहिर की । उन्होंने कहा कि अगर अमित शाह समय दें तो मैं कल उनसे भी मुलाकात करूंगी. ममता बनर्जी ने कहा कि मैंने पीएम से आग्रह किया है कि वे दुनिया के दूसरे सबसे बड़े कोल ब्लॉक का उद्घाटन पश्चिम बंगाल में आकर करें। बता दें कि, पहले दोनों नेताओं की ये मुलाकात मंगलवार को होने वाली थी। लेकिन जन्मदिन पर पीएम मोदी के पहले से तय कार्यक्रम के कारण ये मुलाकात संभव नहीं हो पाई ।

चांद के दक्षिण ध्रुव पर कुछ ही घंटो में काली अंधेरी रात होने वाली है । इसरो (Indian Space Research Organisation - ISRO) का विक्रम लैंडर से संपर्क करना अब नामुमकिन सा हो गया है । कुछ ही घंटे बाकि रह गए हैं चांद पर अंधेरा होना वाला है । जिसके बाद ISRO की मदद अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा समेत दुनिया की कोई भी स्पेस एजेंसी विक्रम लैंडर से संपर्क नहीं करा पाएगी ।

बता दें कि, 14 दिनों की इस खतरनाक रात में विक्रम लैंडर का सही सलामत होगा भी या नहीं यह कहना बेहद ही मुश्किल है । तापमान घटकर माइनस 183 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता है. इस तापमान में विक्रम लैंडर के इलेक्ट्रॉनिक हिस्से खुद को जीवित नहीं रख पाएंगे। अगर, विक्रम लैंडर में रेडियोआइसोटोप हीटर यूनिट लगा होता तो वह खुद को बचा सकता था। क्योंकि, इस यूनिट के जरिए इसे रेडियोएक्टिविटी और ठंड से बचाया जा सकता था। यानी, अब विक्रम लैंडर से संपर्क साधने की सारी उम्मीदें खत्म होती दिख रही है ।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, इसरो LRO के जरिए आम जनता तक विक्रम लैंडर की तस्वीरें शेयर करेगा । लेकिन यह तस्वीरें कब तक सामने आएंगी इसकी कोई जानकारी इसरो ने नहीं दी है । इसरो ने कहा है कि, वह जल्द ही विक्रम लैंडर से जूड़ी जानकारी सोशल मीडिया पर आम जनता से शेयर करेंगे । लेकिन हालातों को देखते हुए विक्रम लैंडर की तस्वीरें सामने आना मुश्किल है । यानी की अब इसरो का सपना इस काली रात के अंधेरे की तरह खत्म हो जाएगा ।

केंद्र सरकार ने आज ई सिगरेट और ई हुक्का पर प्रतिबंध लगाने को लेकर एक बड़ा फैसला लिया है । दरअसल केंद्र सरकार ने केंद्रीय कैबिनेट की बैठक के दौरान फैसला लिया है कि, देश में ई-सिगरेट और ई हुक्का बनाने, बेचने, एक्सोर्ट-इंम्पोर्ट विज्ञापन और ड्रिस्ट्रीब्यूशन पर पूरी तरह से रोक लगा दी गई है । इसके साथ ई सिगरेट और ई हुक्का का इस्तेमाल किए जाने वाले पर 1 लाख का जुर्माना लगाया जाएगा ।

अगर ई सिगरेट और ई हुक्का पहली बार पीते पकड़े गए तो 1 साल की सजा का प्रावधान किया गया है । वहीं अगर दूसरी बार पीते पकड़े गए तो 5 लाख जुर्माना और 3 साल की सजा या दोनों । इसके साथ ही केंद्र सरकार ने बैठक के दौरान एक और बड़ा फैसला लिया । बैठक के दौरान फैसला हुआ कि 11 लाख से ज्यादा रेलवे कर्मचारियों को 78 दिन की सैलरी बोनस के तौर पर दी जाएगी । सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया रेलवे कर्मचारियों को बोनस की यह रकम वेतन की तरह ही दी जाएगी ।

बता दें कि, सरकार की तरफ से यह छठा साल है जब सरकार ने बोनस का ऐलान किया है । सरकार का मानना है बोनस देने से रेलवे कर्मचारियों की कार्य करने की क्षमता में इजाफा होगा । वहीं सरकार की तरफ ई सिगरेट और ई हुक्का पर रोक लगाने को लेकर लिए गए फैसले को एक बड़ी पहल माना जा रहा है । इससे देश में हो रहे प्रदुषण पर भी रोक लगेगी ।

अयोध्या राम मंदिर जमीनी विवाद को लेकर 26वें दिन की सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने दोनों पक्षकारों को बहस 18 अक्टूबर खत्म करने को कहा है । साथ ही उन्होंने कहा है कि, उन्हें अयोध्या विवाद को लेकर एक महीने का समय चाहिए जिससे वह इस पर अपना फैसला सुना सके । वहीं अब रंजन गोगोई इस बयान को लेकर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने बुधवार को कहा कि हर पार्टी को बहस का पूरा वक्त मिलना चाहिए ।

ओवैसी ने राम मंदिर मुद्दे पर मध्यस्थता करने वाली की चिट्ठी लीक होने पर भी सवाल उठाए और पूछा कि यह चिट्ठी कैसे मीडिया तक पहुंच गई। अजीब बात है कि मध्यस्थता करने वाले चिट्ठी मीडिया में लीक कर रहे हैं । ओवैसी ने कहा है कि, बीजेपी नेताओं को कैसे पता है कि फैसला उनके पक्ष में आएगा। जजमेंट तो सुप्रीम कोर्ट को देना है। उन्होंने कहा कि चुनाव आ गया है तो बयानबाजी करने शुरू हो गए, चुनाव नहीं आता तो भूल जाते।

बता दें कि, अयोध्या राम मंदिर जमीनी विवाद को लेकर 26वें दिन सुनवाई शुरू हो गई है । इस दौरान चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि, हमें उम्मीद अयोध्या राम मंदिर जमीनी विवाद को लेकर 18 अक्टूबर तक सुनवाई पूरी हो जाएगी । जिसके लिए सभी पक्षों को अगले हफ्ते पूरे हफ्ते में अपनी दलीलें खत्म करनी होंगी । धवन ने कहा कि उसके बाद मुझे भी 2 दिन लगेंगे। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा आप लोगों ने जो समय-सीमा दी है, उसके मुताबिक 18 अक्‍टूबर तक सभी पक्ष कोर्ट के समक्ष अपनी दलीलें रख लेंगे ।

आयुष्मान खुराना अपनी एक्टिंग को लेकर हमेशा छाए रहते हैं। आए दिन आयुष्मान अपने फैंस के लिए अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर अपनी तस्वीरें शेयर करते रहते हैं । बता दें कि, आयुष्मान खुराना ने अपने करियर की शुरूआत अपनी शानदार फिल्म विकी डोनर से की थी । उनकी यह फिल्म उनके फैंस को काफी पसंद आई थी । इस फिल्म के बाद लगातार आयुष्मान खुराना ने बॉक्स ऑफिस को एक के बाद हिट फिल्म दी है ।

बता दें कि, आयुष्मान खुराना ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट में एक बार फिर अपने फैंस के लिए एक तस्वीर शेयर की है । जिसमें लवह बेहद ही अलग अंदाज में नजर आ रहे हैं । बता दें कि, अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर तस्वीर में आयुष्मान खुराना शर्टलेस दिखाई दे रहे हैं। तस्वीर में आयुष्मान खिड़की के बार समुद्र को देख रहे हैं। इसके साथ आयुष्मान ने पोस्ट में शानदार कैप्शन भी लिखा है। इसे उन्होंने हिंदी में पोस्ट किया है ।

बता दें कि, आयुष्मान खुराना ने एक के बाद एक शानदार फिल्मे कर अपने फैंस का दिल जीता है । वहीं अब शुक्रवार को रिलीज हुई ड्रीम गर्ल बॉक्स ऑफिस पर जमकर कमाई कर रही है। आयुष्मान खुराना और नुशरत भरूचा स्टारर फिल्म ने 4 दिन में 50 करोड़ का आंकड़ा पार कर लिया है। कॉमेडी एंटरटेनर फिल्म को क्रिटिक्स और दर्शकों का भरपूर प्यार मिल रहा है ।

पाकिस्तान के लरकाना इलाके में मंगलवार को एक हिंदू मेडिकल की छात्रा की हत्या के बाद पूरे पाकिस्तान में लगातार विरोध प्रदर्शन जारी है । इस तरह की घटना के बाद लोग छात्रा के लिए इंसाफ की मांग कर रहे हैं । बता दें कि, इस घटना के बाद से लोग लगातार सोशल मीडिया पर भी इस घटना के खिलाफ विरोध जता रहे हैं । इस घटना इस वक्त सोशल मीडिया पर इतना बवाल मचा दिया है कि, लोगों ने एक ऑनलाइन अभियान चलाया है ।

बता दें कि, अब पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शोएब अख्तर ने भी छात्रा के लिए इंसाफ की मांग की है । शोएब ने ट्वीट कर लिखा कि, ' यूवा मासूम लड़की नम्रता की संदिग्ध मौत के बारे में सुन कर बहुत दुखी और आहत हुआ हूं। मुझे उम्मीद है कि न्याय मिलेगा और असल गुनहगार पकड़े जाएंगे। मेरा दिल हर पाकिस्तानी के साथ धड़कता है चाहे वह किसी भी मजहब का हो, उनकी आत्मा को शांति मिले’ ।

बता दें कि, लड़की का नाम नम्रता चंदानी है नम्रता को उसके होस्टल में रहस्मय हालातों में मृत पाया गया था। उनका शव हॉस्टल के कमरे में चारपाई पर पड़ा मिला और उसके गले को रस्सी का फंदा लगा मिला। सुबह जब नमृता की दोस्तों ने उसके कमरे का दरवाजा खटखटाया तो अंदर से काफी देर तक जवाब ना मिलने पर उन्होंने पुलिस को सूचित किया । जिसके बाद पुलिस ने चौकीदार की मदद से दरवाजे का ताला तोड़ा और और लड़की के शव को बरामद किया ।

अयोध्या राम मंदिर जमीनी विवाद को लेकर 26वें दिन सुनवाई शुरू हो गई है । इस दौरान चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि, हमें उम्मीद अयोध्या राम मंदिर जमीनी विवाद को लेकर 18 अक्टूबर तक सुनवाई पूरी हो जाएगी । जिसके लिए सभी पक्षों को अगले हफ्ते पूरे हफ्ते में अपनी दलीलें खत्म करनी होंगी । हिन्दू पक्षकारों ने कहा कि उस पर क्रॉस आर्गुमेंट के लिए हमें 2 दिन लगेंगे। धवन ने कहा कि उसके बाद मुझे भी 2 दिन लगेंगे। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा आप लोगों ने जो समय-सीमा दी है, उसके मुताबिक 18 अक्‍टूबर तक सभी पक्ष कोर्ट के समक्ष अपनी दलीलें रख लेंगे ।

बता दें कि, 17 नवंबर को चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के रिटायरमेंट से पहले सुप्रीम कोर्ट को अपना फैसला सुनाने के लिए एक महीने का वक्त चाहिए । वहीं, चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि, मध्यस्थता को लेकर पत्र मिला. अगर पक्ष आपसी बातचीत से मसले का समझौता करना चाहते है तो इसे कोर्ट के समक्ष रखे। आप मध्यस्थता कर सकते हैं। इसकी गोपनीयता बनी रहेगी । बता दें कि, सुनवाई के दौरान हिन्दू पक्ष भगवान राम जन्म स्थल का सही स्थान बताने में नाकाम रहे हैं। इसलिए सिर्फ विश्वास स्वयंभूमि होने के लिए काफी नहीं है। यह एक ऐसी अभिव्यक्ति का होना चाहिए जिसे हम दिव्य रूप में स्वीकार कर सकते हैं ।

जस्टिस बोबडे ने कहा था कि देवता एक रूप व्यक्ति के रूप में भी हो सकता है और नहीं भी हो सकता है या दूसरे रूप में भी हो सकता है। धवन ने कहा कि हिंदुओं की मान्यता है और अगर ऐसा होता है तो उसकी पूजा की जाती है। राजीव धवन ने कहा था कि बाबरी माजिद वक़्फ़ की संपत्ति है और सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड पर उसका अधिकार है। धवन ने कहा था कि 1885 के बाद ही बाबरी मस्जिद के बाहर के राम चबूतरे को राम जन्मस्थान के रूप में जाना गया ।

जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटने के बाद से पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है । हर रोज सामने आ रही खबरों से यह साफ अंदाजा लगाया जा सकता है कि, इस वक्त POK का माहौल गरमाया हुआ है । बता दें कि, पाकिस्तान के लांचिंग पैड से आतंकियों के घुसपैठ का नया वीडियो सामने आया है । जिसमें आतंकी घुसपैठ की कोशिश कर रहे हैं ।

इस वीडियो में यह साफ तौर पर दिखाई दे रहा है कि, किस तरह पाकिस्तानी सेना और आतंकियों के समूह 'BAT' के घुसपैठिए भारतीय सेना में घूसने की कोशिश कर रहे हैं । वीडियो में दिख रहा है कि बॉर्डर एक्शन टीम (बैट) की ओर से घुसपैठ की कोशिश के दौरान पाकिस्तान के स्पेशल सर्विस ग्रुप (एसएसजी) कमांडो और आतंकियों पर भारतीय सेना ने ग्रेनेड से हमला किया और उनकी कोशिशों को नाकाम कर दिया ।

इससे पहले 14 सितंबर को भी भारतीय सेना की तरफ एक वीडियो जारी किया गया था । जिसमे 11 और 12 सितंबर को भारतीय सेना और पाकिस्तानी सेना के बीच भारी गोलीबारी हुई थी । बता दें कि, पाकिस्तानी सेना ने लगातार भारतीय सेना पर गोलीबारी की थी । जिसका जवाबी कार्रवाई कर भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सेना को करारा जवाब दिया और इस दौरान पाकिस्तानी सेना के दो सैनिकों को मार गिराया । जिसके बाद पाकिस्तानी सेना ने भारतीय सेना को सफेद झंडा दिखाया और भारतीय सेना इंसानियत दिखाते हुए उन्हें दोनों के शवों को ले जाने दिया ।  

दिल्ली से कटरा जाने वाली ट्रेन दिल्‍ली-कटरा वंदे भारत एक्सप्रेस का ट्रायल पूरा हो चुका है । जिसकी जानकारी भारतीय रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने दी है । मिली जानकारी के मुताबिक, यह ट्रेन आने वाले नवरात्रि से शुरू हो जाएगी । इस नवरात्री यह यात्रियों के लिए सरकार की तरफ से एक बड़ा तोहफा होगा ।

बता दें कि, नवरात्री 29 नवंबर से शुरू होने वाले हैं । विनोद कुमार यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि, "देश में 2022 तक 40 वंदे भारत ट्रेनें चलाई जाएंगी। नए विशिष्‍ट निर्देशों के अनुसार काम किया जा रहा है। इस काम में पूरी तरह पारदर्शिता होगी। देश के व्‍यस्‍त रूटों को अपग्रेड किया जा रहा है। दिल्‍ली-मंबई और दिल्‍ली-हावड़ा रूट को दिसंबर, 2021 तक तैयार होंगे" ।

बता दें कि, वंदे भारत एक्सप्रेस दिल्ली से कटरा 8 घंटे का सफर तय करेगी । इस ट्रेन में यात्रियों को हर तरह की सुविधा दी जाएगी । यह ट्रेन सुबह 6:00 बजे दिल्ली से रवाना होगी अंबाला व लुधियाना होते हुए दोपहर 12:38 बजे जम्मू पहुंचेगी। दोपहर 2:00 बजे यह ट्रेन कटरा पहुंचेगी वहीं शाम 3:00 बजे यह ट्रेन कटरा से दिल्ली के लिए रवाना होगी ।

अफगानिस्तान के परवन शहर में मंगलवार को आत्मघाती हमला हुआ । बता दें कि, परवन शहर में राष्ट्रपति अशरफ गनी की जनसभा का आयोजन किया गया था । इस दौरान एक आत्मघाती हमला हुआ जिसमें कम से कम 24 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई वहीं 10 लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए । फिलहाल उन सभी लोगों की हालत नाजुक बताई जा रही है ।

घटना की जानकारी देते हुए राष्ट्रपति के चुनाव कैंपेन के प्रवक्ता हामिद अजीज ने कहा कि, घटना के वक्त राष्ट्रपति अशरफ गनी मौके पर मौजूद थे, लेकिन वह पूरी तरह सुरक्षित हैं। घायलों को अस्पताल ले जाया गया है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि, वह जल्द ही इस घटना को लेकर जानकारी देंगे । मिली जानकारी के मुताबिक, फिलहाल इस घटना को आतंकवाद से जोड़ा जा रहा है ।

प्रांतीय सरकार की प्रवक्ता वाहिदा शाहकर ने कहा कि यह धमाका उस वक्त हुआ, जब राष्ट्रपति की रैली चल रही थी। रैली स्थल के गेट पर ही बम धमाका हुआ, जिसके बाद इलाके में हलचल मच गई। उन्होंने बताया कि अभी तक किसी भी आतंकी समूह ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। अफगानिस्तान में अगले महीने राष्ट्रपति चुनाव होने वाले हैं, जिसके लिए फिलहाल चुनाव प्रचार तेजी से चल रहा है। इस हमले से भी कई आतंकी हमले लोकतांत्रिक प्रक्रिया को निशाना बनाते हुए हो चुके हैं।

मंगलवार यानी 17 सितंबर को पीएम मोदी 69 वर्ष के हो गए हैं । इस मौके पर पीएम मोदी को बॉलीवुड से लेकर कई बड़े नेताओं ने जन्मदिन की शुभकामनाएं दी । बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी उन्हें जन्मदिन की शुभकामनाएं दी । रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और भाजपा अध्यक्ष एवं गृह मंत्री अमित शाह समेत अनेक नेताओं ने उन्हें जन्मदिन की शुभकामनाएं दी हैं । वहीं सूर्खियां बटोरने वाले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर पीएम मोदी को जन्मदिन की शुभकामनाएं दी हैं।

बता दें कि, राहुल गांधी पीएम मोदी को जन्मदिन की शुभकामनाएं देते हुए ट्वीट कर लिखा कि, , 'नरेंद्र मोदी जी को उनके 69वें जन्मदिन पर हार्दिक शुभकामनाएं। वह हमेशा खुश और स्वस्थ रहें' । बता दें कि, राहुल गांधी ने अपने इस ट्वीट पर पीएम मोदी भी टैग किया है । राहुल गांधी समेत विपक्ष के कई बड़े नेताओं ने पीएम मोदी को ट्वीट कर जन्मदिन की शुभकामनाएं दी हैं ।

पीएम मोदी केवडिया स्थित सरदार सरोवर बांध पहुंचे, जहां उन्होंने बांध में पानी फुल हो जाने का नजारा लिया. इसके अलावा उन्होंने कैक्टस गार्डन, सफारी पार्क का दौरा किया और नर्मदा नदी की पूजा भी की। पीएम मोदी ने केवडिया में एक जनसभा को संबोधित किया और गुजरात में चल रहे विकास कार्यों, केंद्र सरकार के द्वारा 100 दिन के कार्यकाल में कराए गए कामों के बारे में बताया । जिसके बाद पीएम मोदी हर बार की तरह अपने जन्मदिन के मौके पर अपनी मां से मिलने गए और उनका आशिर्वाद लिया ।

 

पीएम मोदी का मंगलवार को 69वां जन्मदिन है । उनके जन्मदिन को मनाने के लिए देश के कई हिस्सों में कई खास तैयारी की गई हैं । अपने जन्मदिन के मौके पर हर बार की इस बार भी पीएम मोदी गांधीनगर स्थित अपनी मां का आशिर्वाद लेने पहुंचे । साथ ही उन्होंने अपनी मांग के साथ लंच भी किया । इस मौके पीएम मोदी के साथ सेल्फी लेने के लिए लोगों ने उनको घेर लिया ।

बता दें कि, पीएम मोदी ने अपने जन्मदिन की शुरूआत मान सरोवर से की थी । जहां उन्होंने नर्मदा नदी की पूजा की थी । पीएम मोदी को जन्मदिन की बधाई बॉलीबुड स्टार्स से लेकर सभी नेताओं ने दी है । सीएम योगी आदियानाथ और राजनाथ सिंह कई बड़े नेताओं ने पीएम मोदी को सोशल मीडिया के जरिए जन्मदिन की बधाई दी है।  

बता दें कि, जन्मदिन के मौके पर मां से मिलने से पहले पीएम मोदी ने केवड़िया में जनसभा को संबोधित किया । जहां उन्होंने कहा कि, आज हैदराबाद मुक्ति दिवस है, 17 सितंबर 1948 में हैदराबाद का विलय भारत में हुआ था. और आज हैदराबाद देश की उन्नति में योगदान दे रहा है। एक भारत-श्रेष्ठ भारत का सपना आज साकार हो रहा है, आजादी के बाद जो काम अधूरे रह गए उनको आज हिंदुस्तान पूरा कर रहा है ।

जहां आज देशभर में पीएम मोदी के जन्मदिन को लोग धूमधाम से मना रहे हैं । ऐसे में पीएम मोदी के जन्मदिन के मौके पर फिल्म निर्देशक संजय लीला भंसाली ने भी उन्हें जन्मदिन की शुभाकामनाओं के साथ एक तोहफा भी दिया है । दरअसल संजय लीला भंसाली पीएम मोदी पर आधारित एक फिल्म बनाने जा रहे हैं । जिसका फस्ट लुक रिलीज हो चुका है ।

फिल्म का नाम “मन बैरागी” है जिसका पोस्टर हिंदी सिनेमा के बाहुबाली यानी प्रभास ने लॉन्च किया है ।  फिल्म की जानकारी देते हुए फिल्म के निर्देशक संजय लीला भंसाली ने बताया कि, 'मुझे इस कहानी की सबसे दिलचस्प बात इसकी यूनिवर्सल अपील और संदेश लगी। मुझे लगा कि यह एक ऐसी अनसुनी कहानी है, जिसे बताया जाना चाहिए' ।

बता दें कि, इससे पहले भी पीएम मोदी पर आधारित पीएम मोदी की बायोपिक फिल्म इसी साल मई में रिलीज हुई थी । जिसमें लीड रोल एक्टर विवेक ओबरॉय ने किया था । लेकिन फिल्म बॉक्स ऑफिस पर उतनी धमाल नहीं मचा पाई । बता दें कि, संजय लीला भंसाली इस फिल्‍म का प्रोडक्‍शन कर रहे हैं, जबकि एस संजय त्रिपाठी इसका निर्देशन करेंगे ।

अपने जन्मदिन के मौके पर पीएम मोदी केवड़िया में जनसभा को संबोधित किया । इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि, आज सरदार पटेल का सपना पूरा होने जा रहा है । इस स्थिति तक आने में लाखों लोगों को योगदान रहा है, साधु-संतों की भूमिका भी रही है. आज हम हर किसी का आभार व्यक्त करते हैं। प्रधानमंत्री बोले कि आने वाले दिनों में बड़े स्तर पर पेड़ लगाने का काम होगा । पीएम मोदी ने कहा कि, हर घर जल का लक्ष्य प्राप्त करेगा ।

पीएम मोदी ने कहा कि, गुजरात में हो रहे सफल कार्यों से देश को आगे बढ़ाना है । गुजरात के हर गांव में हमें विकास पहुंचाना है । आजादी के बाद जो काम अधूरे रह गए उनको पूरा करने का काम आज भारत पूरा कर रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि, आज हम देश के हर घर को आगे बढ़ाना को चाहते हैं जिसमें आप सभी का सहयोग चाहिए । वहीं धारा 370 को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को 70 साल तक भेदभाव का सामना करना पड़ा, इसका दुष्परिणाम पूरे हिंदुस्तान ने भुगता है ।

पीएम मोदी ने कहा कि, सरदार साहब की प्रेरणा से एक जरूरी फैसला देश ने लिया है, अब नए रास्ते पर चलने का फैसला लिया गया है। हम जम्मू, कश्मीर और लद्दाख में विश्वास और विकास की गंगा बहाएंगे । भारत की एकता और श्रेष्ठता के लिए आपका सेवक पूरी तरह प्रतिबद्ध है, 100 दिन में हमारी सरकार ने कई बड़े फैसले लिए हैं। इसमें किसान, अर्थव्यवस्था समेत कई बड़े फैसलों को लिया गया है। हमारी नई सरकार पहले से भी तेज गति से काम करेगी और बड़े लक्ष्यों को प्राप्त करेगी ।

पीएम मोदी का मंगलवार को 69वां जन्मदिन है । उनके जन्मदिन को मनाने के लिए देश के कई हिस्सों में कई खास तैयारी की गई हैं । बता दें कि, पीएम मोदी अपने इस खास अवसर पर पहले सरदार सरोवर बांध पहुंचे थे, जहां उन्होंने नर्मदा नदी की पूजा की थी । इस मौके पर उनके साथ गुजरात के सीएम विजय रूपाणी, डिप्टी सीएम नितिन पटेल भी मौजूद रहे । फिलहाल पीएम मोदी केवड़िया के गरुडेश्वर दत्त मंदिर पहुंच चुके हैं ।

पीएम मोदी के जन्मदिन के इस खास मौके पर पीएम मोदी केवड़िया में मौजूद सरदार सरोवर बांध पहुंच गए हैं। यहां वह नर्मदा नदी की पूजा अर्चना करेंगे। इसके बाद वह डैम का जायजा लेंगे और फिर मंदिर में जाएंगे। बता दें कि, पीएम मोदी नर्मदा डैम पहुंच चुके हैं ।  इस दौरान पीएम मोदी ने बांध के पास ‘जंगल सफारी’ का जायजा लिया ।

पीएम मोदी को जन्मदिन की बधाई बॉलीबुड स्टार्स से लेकर सभी नेताओं ने दी है । सीएम योगी आदियानाथ और राजनाथ सिंह कई बड़े नेताओं ने पीएम मोदी को सोशल मीडिया के जरिए जन्मदिन की बधाई दी है। पीएम मोदी इसके बाद अपने जन्मदिन के मौके पर अपनी मां से मिलने अहमदाबाद मिलने जाएंगे । बता दें कि, पीएम मोदी हर साल अपने जन्मदिन के मौके पर अपनी मां से मिलने अहमदाबाद जरूर जाते हैं ।

धार्मिक उपदेशक जाकिर नाईक  हमेशा से अपने विवादित बयान को लेकर सुर्खियों में रहते हैं । लेकिन इस बार उन्होंने अपने विवादित बयान से खुद के लिए मुसीबत खड़ी कर ली है । बता दें कि, जाकिर फिलहाल मलेशिया में रह रहे हैं और उन्हें वापस भेजने पर पाबंदी लगा दी गई है । वहीं इस मामले पर मलेशिया के प्रधानमंत्री डॉ महाथिर मोहम्‍मद ने कहा है कि, ''अधिकांश देश उसे नहीं चाहते । “मैं प्रधानमंत्री मोदी से भी मिला था, उन्‍होंने भी उसके बारे में बात नहीं की । ये आदमी भारत के लिए भी परेशानी का सबब बन सकता है।''

महातिर मोहम्मद ने कहा कि, जाकिर नाइक इस देश का नागरिक नहीं है। उसे पिछली सरकार द्वारा स्थायी दर्जा दिया गया था। स्थायी निवासी को देश की प्रणाली या राजनीति पर टिप्पणी करने का हक नहीं होता। उसने इसका उल्लंघन किया है। इसलिए अब उसे बोलने की अनुमति नहीं है। साथ ही उन्होंने कहा कि, जाकिर को कोई भी अपनाना नहीं चाहता है । यहां तक जब मेरी भारत के प्रधानमंत्री पीएम मोदी से मुलाकात हुई तो उन्होंने मलेशिया से वापस भेजने का अनुरोध नहीं किया ।

डॉ महाथिर ने कहा, ''जाकिर नाईक इस देश का नागरिक नहीं है। पिछली सरकार ने उसको यहां का परमानेंट स्‍टेटस दिया था। ऐसे लोगों से देश की व्‍यवस्‍था या राजनीति पर टिप्‍पणी करने की अपेक्षा नहीं की जाती. उसने इसका उल्‍लंघन किया। इस कारण उसके बोलने पर पाबंदी लगा दी गई'' ।

22 सितंबर को होने वाली पीएम मोदी की अमेरिकी यात्रा से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का बड़ा बयान सामने आया है । दरअसल डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि, वह जल्द ही भारत और पाकिस्तान के साथ बैठक करेंगे । बता दें कि, व्हाइट हाउस ने सोमवार को कहा कि , 'ह्यूस्टन में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम में शामिल होंगे। इस कार्यक्रम में हजारों लोगों के आने की संभावना जताई जा रही है ।

दरअसल पाकिस्तान और भारत को बीच चल रहे इन बूरे हालातों के मद्देनजर डोनाल्ड ट्रंप ने इस 22 सितंबर होने वाले इस कार्यक्रम से पहले यह फैसला लिया कि, वह पाकिस्तान और भारत के साथ बैठक करेंगे । डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि, मुझे लगता है कि, वहां बहुत कुछ प्रगति हो रही है । लेकिन सवाल यह उठता है कि, भारत पाक के बीच पैदा हो रहे हालातों को देखते हुए डोनाल्ड ट्रंप के लिए यह एक कड़ी चुनौती हो सकती है ।

बता दें कि, पीएम मोदी के 'howdy modi'  कार्यक्रम में भारतीय समुदाय के हज़ारों लोगों के भाग लेने की संभावना है। दरअसल दक्षिण पश्चिम अमेरिका में दोस्ताना अंदाज़ में एक-दूसरे को 'हाओडी (Howdy)' कहने का चलन है। हाओडी (Howdy) अंग्रेजी शब्द हाओ डू यू डू (How do you do) का संक्षिप्त रूप है ।

पीएम मोदी का मंगलवार को 69वां जन्मदिन है । उनके जन्मदिन को मनाने के लिए देश के कई हिस्सों में कई खास तैयारी की गई हैं । बता दें कि, वाराणसी के संकटमोचन मंदिर में पीएम मोदी के एक समर्थक ने संकटमोचन मंदिर में 1.25 KG. का सोने का मुकुट चढ़ाया है ।

पीएम मोदी के जन्मदिन के इस खास मौके पर पीएम मोदी केवड़िया में मौजूद सरदार सरोवर बांध पहुंच गए हैं। यहां वह नर्मदा नदी की पूजा अर्चना करेंगे। इसके बाद वह डैम का जायजा लेंगे और फिर मंदिर में जाएंगे। बता दें कि, पीएम मोदी नर्मदा डैम पहुंच चुके हैं ।  इस दौरान पीएम मोदी ने बांध के पास ‘जंगल सफारी’ का जायजा लिया ।

पीएम मोदी को जन्मदिन की बधाई बॉलीबुड स्टार्स से लेकर सभी नेताओं ने दी है । सीएम योगी आदियानाथ और राजनाथ सिंह कई बड़े नेताओं ने पीएम मोदी को सोशल मीडिया के जरिए जन्मदिन की बधाई दी है। पीएम मोदी इसके बाद अपने जन्मदिन के मौके पर अपनी मां से मिलने अहमदाबाद मिलने जाएंगे । बता दें कि, पीएम मोदी हर साल अपने जन्मदिन के मौके पर अपनी मां से मिलने अहमदाबाद जरूर जाते हैं ।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने योगी सरकार को बड़ा झटका दिया है । दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने ओबीसी की 17 जातियों को एससी में शामिल करने पर रोक लगा दी है । इस मामले में हाईकोर्ट ने समाज कल्याण विभाग के प्रमुख सचिव मनोज कुमार सिंह व्यक्तिगत हलफनामा मांगा है । इस मामले की सुनवाई जस्टिस सुधीर अग्रवाल और जस्टिस राजीव मिश्र ने की है । सुनवाई के दौरान डिवीजन बेंच ने यह आदेश जारी किया है ।

बता दें, इस बाबत उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने 24 जून के आदेश जारी किया था । कोर्ट ने साफ तौर कहा है कि, योगी सरकार का यह फैसला गलत है । साथ ही कोर्ट ने योगी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि, सरकार पर इस तरह के फैसले लेने का कोई अधिकार नहीं है । साथ ही कोर्ट ने यह भी कहा कि, अगर किसी को इस मामले में फैसला लेना है तो देश की सांसद लेगी ।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने 24 जून को शासनादेश जारी किया था। योगी सरकार ने 17 पिछड़ी जातियों को अनुसूचित जातियों की सूची में शामिल कर दिया है। इन जातियों को अनुसूचित जातियों की लिस्ट में शामिल करने के पीछे योगी सरकार ने कहा था कि ये जातियां सामाजिक और आर्थिक रूप से ज्यादा पिछड़ी हुई हैं। योगी सरकार ने इन 17 पिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति का प्रमाणपत्र देने का फैसला किया था। इसके लिए जिला अधिकारियों को इन 17 जातियों के परिवारों को जाति प्रमाण पत्र जारी करने का आदेश दिया गया था।

 

 

बॉलिवुड सुपरस्टार सलमान खान और मशहूर एक्ट्रेस आलिया भट्ट की फिल्म 'इंशाअल्लाह’ बॉक्स ऑफिस में ना आने से फैंस को बड़ा झटका लगा था । अब इस फिल्म के बंद होने की खास वजह सामने आ चुकी है । बता दें कि, इस फिल्म के डायरेक्टर संजय लीला भंसाली है। काफी लंबे अरसे के बाद सलमान खान और संजय लीला भंसाली को साथ में काम करने का मौका मिला था ।

मिली जानकारी के मुताबिक पहले यह खबर सामने आई थी कि, संजय लीला भंसाली और सलमान खान के बीच फिल्म को लेकर कोई आपसी मतभेद हो गया । जिसके चलते सलमान खान ने इस फिल्म में काम करने से साफ इंकार कर दिया । वहीं अब खबर यह सामने आ रही है कि, फिल्म में किसी सीन के दौरान सलमान खान ने आलिया भट्ट को किस करना था जिसे करने से सलमान खान ने मना कर दिया ।

बताया जा रहा है कि, उम्र के अंतर के चलते सलमान खान ने फिल्म की लीड ऐक्ट्रेस आलिया भट्ट के साथ किसिंग सीन के कारण फिल्म को छोड़ने का फैसला किया है । बता दें कि सलमान खान और डायरेक्टर संजय लीला भंसाली की फिल्म 'इंशाअल्लाह' 2020 की ईद रिलीज होने वाली थी। फिलहाल फिल्म ठंडे बस्ते में जा चुकी है ।

फिल्म मिशन मंगल के जरिए अपने फैंस के दिलों में जगह बनाने विद्या बालन का इन दिनों सोशल मीडिया पर एक नए लुक में नजर आ रही हैं । बता दें कि, विघा बालन ने जहां फिल्म मिशन मंगल में एक साइंटिस्ट का किरदार निभा कर बॉक्स ऑफिस पर अपना कब्जा जमा लिया था । वहीं अब उनकी आने वाली फिल्म शकुंतला देवी में भी वह कुछ नए अंदाज में नजर आने वाली हैं । जिसका फस्ट लुक सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है ।

 

बता दें कि, ह्यूमन कंप्यूटर के नाम से जानी जाने वालीं शकुंतला देवी की बायोपिक के लीड रोल में विघा बालन नजर आने वाली हैं । जिसका टीजर आज ही रिलीज हो चुका है । साथ ही विघा बालन का यह नया लुक भी रिलीज कर दिया गया है । जो कि उनके फैंस को भी काफी पसंद आया । आपको बता दें कि, शकुंतला देवी के इस टीजर को खुद विघा बालन अपने ट्वीटर अकाउंट पर शेयर किया है । साथ ही उन्होंने शेयर कर लिखा है कि, 'वो अपने हर शब्द को लेकर हैं एक्स्ट्राऑर्डिनरी! जानिए इस ह्यूमन कंप्यूटर की कहानी' ।

बता दें कि, फस्ट लुक रिलीज करने के बाद ही फिल्म की शुटिंग शुरू और फिल्म के रिलीज होने की भी जानकारी दी । बता दें कि, यह फिल्म साल 2020 की गर्मीयों में रिलीज होगी । बता दें कि ह्यूमन कंप्यूटर के नाम से फेमस शकुंतला देवी एक नामी गणितज्ञ हैं। जो अपनी बुद्धिमत्ता के दम पर किसी भी कंप्यूटर को भी मात देने में सक्षम मानी जाती हैं ।

राजस्थान में पिछले कुछ दिनों से भारी बारिश का दौर चल रहा है। यहां की सारे नदियां और नाले अपने पूरे उफान पर है, जिसकी वजह से राज्य के 5 बड़े बांध कोटा बैराज, राणाप्रताप सागर, जवाहर सागर और माही बजाज के सभी गेट खोलने पड़ गए हैं। भारी बारिश के चलते बीसलपुर बांध के भी 18 में से पहली बार 17 गेट खोले गए। राजस्थान के कोटा, बारां, बूंदी, चित्तौड़गढ, झालावाड़ में बाढ़ के हालात बने हुए हैं। बारां, झालावाड़ में सोमवार को स्कूल बंद रहेंगे। बाढ़ से बिगड़ते हालात को देखते हुए यहां सेना-एनडीआरएफ ने मोर्चा संभाल लिया है।

जयपुर में रविवार देर रात तक लगभग सवा दो इंच बारिश हुई। कोटा में पानी चंबल नदी से करीब 100 फीट ऊपर बने मकानों की तरफ बढ़ रहा है। शहर के कई इलाकों में पानी 8 से 10 फीट तक पहुंच गया है। प्रशासन का कहना है कि सोमवार को भी बाढ़ के हालात बने रहेंगे। उधर, चंबल के पास संजय कॉलोनी में पानी बढ़ने पर एक परिवार के दो मासूम फंस गए। कांस्टेबल राकेश मीणा ट्‌यूब के सहारे 7-8 फीट गहरे पानी में कूदे और दोनों को सुरक्षित निकाल लिया।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बाढ़ प्रभावित जिलों के कर्मचारियों के अवकाश निरस्त किए हैं। गहलोत ने मध्यप्रदेश के सीएम कमलनाथ से भी बात की और आशा जताई कि दोनों राज्य बचाव कार्यों में कमी नहीं आने देंगे। गहलोत सोमवार को बूंदी, कोटा, झालावाड़ और धौलपुर के बाढ़ प्रभावित इलाके का दौरा करेंगे।

असम की नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस (NRC) को 31 अगस्त को जारी कर दिया गया है । जिसकी फाइनल लिस्ट शनिवार ऑनलाइन जारी कर दी गई है । बता दें कि, असम में एनआरसी में शामिल होने के लिए 3,30,27,661 लोगों ने आवेदन किया था । असम के इस कदम के बाद अब यूपी और हरियाणा के मुख्यमंत्री ने भी अपने राज्यों में एनआरसी लागू करने का फैसला लिया है ।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्‌टर ने असम की तरह ही हरियाणा में एनआरसी लागू करने की बात कही है। उन्होंने कहा कि परिवार पहचान पत्र पर हरियाणा सरकार तेजी से कार्य कर रही है। इसके आंकड़ों का उपयोग राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर में भी किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य परिवार के पहचान पत्र पर तेजी से कार्य कर रहा है और इसके डॉटा का इस्तेमाल एनआरसी के लिए भी किया जाएगा । दूसरी तरफ यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदियानाथ ने भी एनआरसी लागू करने की बात कही है ।

सीएम योगी ने कहा है कि, अगर आवश्यकता पड़ी तो वह उत्तर प्रदेश में इसे लागू कर सकते हैं । साथ ही उन्होंने कहा कि, एनआरसी लागू कराना एक अहम और साहसपूर्ण कदम है । सीएम योगी ने कहा कि,‘इन बातों को चरण-वार लागू किया जा रहा है और मुझे लगता है कि जब उत्तर प्रदेश को एनआरसी की जरूरत होगी, हम ऐसा करेंगे। सीएम योगी ने कहा कि, इसे लागू करना राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण था और अवैध आव्रजन के कारण गरीबों को होने वाली समस्याओं का भी अंत होगा।

सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिकाओं पर सुनवाई हुई । जिसको लेकर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई का बड़ा बयान सामने आया है । उन्होंने जम्मू-कश्मीर में दायर याचिकाओं की सुनवाई करते हुए कहा है कि, अगर जरूरत पड़ी तो मैं खुद जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट जाउंगा । जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि, उन्होंने जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट से एक रिपोर्ट मांगी है । उन्होंने कहा कि, अगर इस रिपोर्ट में किसी भी उन्हें लगता है कि, उन्हें जाना चाहिए तो वह वहां के हाईकोर्ट खुद जाएंगे ।

सीजेआई रंजन गोगोई ने कहा कि उच्च न्यायालय में लोगों की पहुंच प्रभावित हुई है, हम मामले में उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश से जवाब चाहते हैं। अगर जरूरत पड़ी तो मैं उच्च न्यायालय जाऊंगा और मुख्य न्यायाधीश से बात करूंगा। यदि लोग हाई कोर्ट से संपर्क नहीं कर सकते हैं तो हमें कुछ करना होगा।

बता दें कि, केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा है कि, कश्मीर स्थित सभी समाचार पत्र चल रहे हैं और सरकार हर तरह से उन्हें मदद देने की हर संभव कोशिश कर रही है। प्रतिबंधित इलाकों में पहुंच के लिए मीडिया को ‘पास' दिए गए हैं और पत्रकारों को फोन और इंटरनेट की सुविधा भी मुहैया कराई गई है । बता दें कि फिलहाल जम्मू-कश्मीर में नेट सुविधा बंद कर दी गई है । सुप्रीम कोर्ट ने अटार्नी जनरल के. के. वेणुगोपाल से कहा कि, जम्मू-कश्मीर में स्थिति समान्य करने के लिए प्रयास किए जाएं ।

सोमवार को सुप्रीम कोट में जम्मू-कश्मीर मामले में 8 याचिकाओं पर सुनवाई हुई । साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा में नेता विपक्ष गुलाम नबी आजाद को आज सुप्रीम कोर्ट ने कश्मीर जाने की इजाजत दे दी है । इस दौरान गुलाम नबी आजाद चार जिलों का दौरा कर सकते हैं । लेकिन इस दौरान वह सिर्फ अपने घर वालों से ही मिल सकते हैं वह किसी भी तरह के राजनीतिक कार्यक्रम में हिस्सा नहीं ले सकते । इसके अलावा उन्हें वहां जाने के लिए एक रिपोर्ट जमा करनी होगी ।

कोर्ट में सुनवाई के दौरान कोर्ट को आजाद ने बताया कि, वह अपने राज्य में जाना चाहते हैं, दो बार श्रीनगर और एक बार जम्मू जाने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि, “मैं बारापुला, अनन्तनाग, श्रीनगर और जम्मू जाकर लोगों से मिलना चाहता हूं” । साथ ही उन्होंने कहा कि, “मैं कोर्ट को भरोसा देना चाहता हूं कि मैं कोई रैली नही करूंगा”। वहां फलों आदि से जुडे लोगों से मिलना चाहता हूं । इस पर CJI रंजन गोगोई ने कहा कि, आजाद ने कहा कि वो राजनीतिक रैली नहीं करना चाहते, चार जगहों पर जाने की मांग की है ।

बता दें कि, जम्मू-कश्मीर में धारा 370 लागू होने के बाद गुलाम नबी आजाद जब अपने परिवार से मिलने गए थे तो उन्हें श्रीनगर के एयरपोर्ट से ही वापस भेज दिया गया था। वहीं दूसरी तरफ सुप्रीम कोर्ट ने माकपा नेता मोहम्मद यूसुफ तारिगामी को अपने गृह राज्य जम्मू-कश्मीर वापस जाने की सोमवार को अनुमति दे दी है। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति एस ए बोबडे और एस ए नजीर की पीठ ने कहा कि, अगर एम्स के चिकित्सक उन्हें अनुमति दें तो पूर्व विधायक को घर जाने के लिए किसी की अनुमति आवश्यक नहीं है ।  

भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो (Indian Space Research Organisation - ISRO) के वैजानिकों पर हर भारतीय को गर्व है । लेकिन अब भी सभी भारतीय वैज्ञानिक अपनी कोशिशों में जुटे हुए हैं । वह मून मिशन चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर से संपर्क करने की कोशिश करने में लगे हुए हैं । वहीं इसरो की मदद करने के लिए अब NASA अपने नेटवर्क से संपर्क साधने की कोशिशों में जुटा हुआ है । लेकिन बात अगर इसरो की करें तो तमाम कोशिशों के बाद भी विक्रम लैंडर को भेजे गए संदेशो का वैज्ञानिको को कोई संदेश नहीं मिल रहा है ।

लगातार संपर्क ना होने के कारण वैज्ञानिकों की उम्मीद खत्म होती हुई नजर आ रही है । आपको बता दें कि, 7 सितंबर को 1.50 बजे के आजपास विक्रम लैंडर चांद के दक्षिण ध्रुव पर गिरा था । जिस समय विक्रम लैंडर वैज्ञानिको के संपर्क में था उस समय वहां सुबह थी । लेकिन जैसे-जैसे दिन बीतते गए विक्रम लैंडर से संपर्क वैज्ञानिको का संपर्क टूटने लगा है । वहीं चांद का पूरा वाला दिन यानी सूरज की रोशनी वाला पूरा समय 14 दिन बात होता है यानी कि, 20 और 21 सितंबर को चांद पर रात होगी।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक विदेशी वैज्ञानिकों का कहना है कि, चांद पर अब शाम होने लगी है । अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के लूनर रिकॉनसेंस ऑर्बिटर (LRO) ने कहा है कि, अगर LRO विक्रम लैंडर की तस्वीरें लेगा तो जरूरी नहीं है कि, उसकी तस्वीरें साफ आए । साथ ही उन्होंने कहा कि, हो सकता है कि तस्वीरें धुंधली हो लेकिन जो भी तस्वीरें होंगी उन्हें हम भारतीय वैज्ञानिकों को जरूर साझा करेंगे । इन सबके के बाद अब विक्रम लैंडर से संपर्क करना भारतीय वैज्ञानिको के लिए नामुमकिन सा हो गया है ।

जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान लगातार सीजफायर का उल्लंघन कर रही है । बता दें कि, पाकिस्तान ने रविवार की देर रात 10.30 बजे पाकिस्तान ने उल्लंघन किया जिसने भारतीय सेना को चौंका दिया । वहीं भारतीय सेना ने पाकिस्तान को करारा जवाब देते हुए जमकर गोलीबारी की । दूसरी तरफ पाकिस्तान भी पूरी रात गोलीबारी करता रहा । बता दें कि, हाल ही में पाकिस्तान के सीजफायर का उल्लंघन करने पर भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सेना को करारा जवाब दिया और पाकिस्तान के दो सैनिकों को मार गिराया ।

बता दें कि, इससे पहले भी पाकिस्तान ने कई बार सीजफायर का उल्लंघन किया जिसमें भारतीय सेना के कई जवान मारे गए । वहीं एक बयान में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा है कि, भारत ने बार-बार पाकिस्तान से 2003 के संघर्ष विराम (Ceasefire) समझौते का पालन करने और अंतर्राष्ट्रीय सीमा व नियंत्रण रेखा पर शांति बनाए रखने का आह्वान किया है । साथ ही उन्होंने कहा कि भारतीय बलों ने अधिकतम संयम बरता और सीमा पार आतंकवादी घुसपैठ के प्रयासों व अकारण उल्लंघन का जवाब दिया ।

उन्होंने कहा कि भारत ने पाकिस्तानी बलों द्वारा अकारण संघर्ष विराम उल्लंघन पर अपनी चिंता को उजागर किया।  इसमें सीमा पार से आतंकवादियों के घुसपैठ को समर्थन देना व उनके द्वारा भारतीय नागरिकों व सीमा चौकियों को निशाना बनाया जाना शामिल है । यह बयान पाकिस्तानी सेना द्वारा अपने दो पंजाबी जवानों के शव प्राप्त किए जाने के बाद आया है । बता दें कि, सीमा पर तैनात भारतीय जवान और पाकिस्तानी सैनिक के बीच ताबड़तोड़ फायरिंग हुई जिसमें भारतीय सेना ने पाकिस्तान के दो सैनिकों को ढेर कर दिया । जिसके बाद पाकिस्तानी सैनिकों ने भारतीय सेना को सफेद झंडा दिखा कर दोनों शवों को ले जाने को कहा ।

 

सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने और वहां पर पाबंदी लगाए जाने को लेकर सुनवाई होनी है । बता दें कि, सोमवार को कश्मीर मामले को लेकर दाखिल 8 पीआईएल पर सुनवाई होनी है। इस दौरान शीर्ष अदालत का फैसला आ सकता है । कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने सुप्रीम कोर्ट से अपने परिवार से मिलने की अनुमति मांगी है । इस मामले की भी सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को होगी ।

आपको बता दें कि, जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद उन्होंने दो बार कश्मीर जाने की कोशिश की, लेकिन हवाई अड्डे से ही प्रशासन ने उन्हें वापस लौटा दिया था। इसके अलावा, सज्जाद लोन के नेतृत्व वाली जम्मू एंड कश्मीर पीपुल्स कांफ्रेंस पार्टी ने भी राज्य से धारा 370 हटाने के खिलाफ याचिका दायर की है। वहीं बाल अधिकार कार्यकर्ता एनाक्षी गांगुली और प्रोफेसर शांता सिन्हा ने भी जम्मू और कश्मीर में अवैध तरीके से बच्चों को बंधक बनाए जाने के खिलाफ याचिका दायर की है।

एमडीएमके के संस्थापक वाइको की याचिका की भी सोमवार को ही सुनवाई होनी है। इसमें उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री फारुक अब्दुल्ला को उपस्थित करने का केंद्र और जम्मू-कश्मीर प्रशासन को निर्देश देने की अपील की है। उन्होंने अपनी याचिका में कहा है कि, प्रशासन को फारुक अब्दुल्ला को 15 सितंबर को चेन्नई भेजने की इजाजत देनी चाहिए।  

आंध्र प्रदेश में गोदावरी नदी में रविवार की दोपहर एक नाव के डूबने से पांच लोगों की मौत हो गई। सू्त्रों से मिली जानकारी के मुताबिक नाव में क्रू मेंबर समेत कुल 62 लोग सवार थे। ईस्ट गोदावरी के एसपी अदनान नईम ने कहा कि, इस घटना के बाद 30 लोग अभी भी लापता है वहीं 24 लोगों को बचा लिया गया है। हालाकि विभाग के प्राधिकारियों के मुताबिक, मौके पर दो एनडीआरएफ की टीम भेजी गई हैं, हर टीम में 30 सदस्य हैं। ज्यादातर लोग जो रॉयल वशिष्ट पर सवार थे वे सभी पर्यटक थे जो पापीकोंडलु जा रहे थे। यह राजामुंदरी के नजदीक का एक प्रसिद्ध पर्यटक स्थल है।

मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने सरकार में मंत्री अवंती श्रीनिवास के साथ ही जिले में मौजूद मंत्रियों को मौके पर पहुंचने और राहत कार्य की निगरानी करने के लिए कहा है. मुख्यमंत्री ने ईस्ट गोदावरी जिले के जिलाधिकारी और अधिकारियों से बात कर हादसे के संबंध में जानकारी ली है. मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को रेस्क्यू ऑपरेशन युद्ध स्तर पर चलाने के निर्देश दिए.

 बता दें कि मुख्यमंत्री ने हादसे पर दुःख जताते हुए अधिकारियों से घटना की सारी जानकारी प्राप्त की है। साथ ही अधिकारियों को युद्ध स्तर पर राहत एवं बचाव कार्य करने के निर्देश दिए हैं। वहीं मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से राहत कार्य में ओएनजीसी और नौसेना के हेलिकॉप्टरों का भी उपयोग करने और क्षेत्र में नौका संचालन पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने के आदेश दिए हैं।

केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने रविवार को देश में हो रही रोजगार की कमी को लेकर विवादित बयान दिया था । उनके इस बयान को लेकर मुसीबतें कम होती हुई नज़र नहीं आ रही हैं । दरअसल संतोष गंगवार के इस विवादित बयान पर बसपा प्रमुख मायावती ने ट्वीट कर उनके खिलाफ कई आरोप लगाए साथ ही उनसे मांफी मांगने को भी कहा । वहीं मायावती से कांग्रेस महासचिव प्रियंका ने भी संतोष गंगवार जमकर हमला बोला । साथ ही उनकी सरकार के खिलाफ कई विवादित टिप्पणी भी की ।

मायावती ने ट्वीट कर कहा, 'देश में छाई आर्थिक मंदी आदि की गंभीर समस्या के सम्बंध में केन्द्रीय मंत्रियों के अलग-अलग हास्यास्पद बयानों के बाद अब देश व खासकर उत्तर भारतीयों की बेरोजगारी दूर करने के बजाए यह कहना कि रोजगार की कमी नहीं बल्कि योग्यता की कमी है, अति-शर्मनाक है जिसके लिए देश से माफी मांगनी चाहिए।' दूसरी तरफ संजय सिंह ने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि, इस सरकार पर ही योग्यता की कमी है ।

आपको बता दें कि, रविवार को रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने कहा कि, देश में रोजगार की कमी नहीं है बल्कि कमी लोगों में योग्यता की है । उन्होंने कहा कि, रोजगार दफ्तर के आलावा हमारा मंत्रालय भी इसकी मॉनिटरिंग कर रहा है। रोजगार की देश में कोई समस्या नहीं है बल्कि जो भी कंपनियां रोजगार देने आती हैं, उनका कहना होता है कि उन युवाओं में योग्यता नहीं है। मंदी की बात समझ में आ रही है, लेकिन रोजगार की कमी नहीं है।

 

  

पूरे देश में ट्रैफिक पुलिस सरकार द्वारा जारी ट्रैफिक नियमों का पालन ना करने वालों से अच्छी तरह चालान वसूल रही है । दरअसल एक और मामला बिहार से सामने आया है जिसकी जानकारी बिहार पुलिस ने दी है । पुलिस ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि, एक ऑटो ड्राइवर ने सीट बेल्ट नहीं लगाया हुआ था । जिसके चलते उस पर 1 हजार का जुर्माना लगाया गया ।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि, ऑटो में कोई भी सीट बेल्ट नहीं होती । बता दें कि घटना बिहार के मुजफ्फरनगर की है । वहीं घटना की जानकारी देते हुए पुलिस अधिकारी ने बताया कि, शनिवार को सराय इलाके में एक ऑटो ड्राइवर पर एक हजार का जुर्माना इसलिए लगाया गया क्योंकि उसने सीट बेल्ट नहीं लगा रखी थी । वहीं सराय के थानाध्यक्ष अजय ने बताया कि, ड्राइवर पर न्यूनतम जुर्माना लगाने के लिए कम से कम चालान भरने को कहा गया था। यह एक गलती थी लेकिन यह सिर्फ ड्राइवर पर न्यूनतम जुर्माना लगाने के लिए किया गया था' ।

बता दें कि, सरकार के इस फैसले से पुलिस लोगों से काफी से पेश आ रही है और जो भी ट्रैफिक नियमों का पालन नहीं करते पुलिस तुरंत उनसे चालान वसूलती है । लेकिन कई लोग सरकार के इस फैसले के सख्त खिलाफ हैं । लोगों का कहना है कि, जितनी आम आदमी की आमदनी होती है उससे कई ज्यादा जुर्माना लगाया जा रहा है । बता दें कि, इससे पहले भी एसे कई मामले सामने आए हैं जिसमें ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ भारी जुर्माना लगाया गया है ।

मोदी सरकार के 100 दिन पूरे होने को लेकर कांग्रेस लगातार भाजपा के कार्यशैली पर सवाल खड़े कर रही है । दरअसल कांग्रेस महासचिव पिछले कुछ दिनों से मोदी सरकार पर अर्शव्यवस्था और रोजगार को लेकर लगातार हमला कर रही है । वहीं दूसरी तरफ भाजपा नेता संतोष गंगवार के बयान ने कांग्रेस को एक और मौका दे दिया है। दरअसल प्रियंका गांधी ने संतोष गंगवार के बयान पर पलटवार कर कहा कि, इन 5 सालों में नई नौकरियां नहीं आई हैं ।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर लिखा कि, 5 साल में नौकरियां पैदा नहीं हुईं और जो नौकरियां थीं वो सरकार द्वारा लाई आर्थिक मंदी के चलते छिन रही हैं। उन्होंने कहा, नौजवान रास्ता देख रहे हैं कि सरकार कुछ अच्छा करे। प्रियंका गांधी ने कहा कि, यह लोग उत्तर भारतीयों का अपमान करके बचना चाहते हैं । दरअसल रविवार को केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने देश में रोजगार की हो रही कमी जैसे मुद्दे को लेकर एक बड़ा बयान दिया था । उन्होंने कहा था कि, देश में रोजगार की कमी नहीं बल्कि लोगों में योग्यता की कमी है ।

उन्होंने कहा कि रोजगार दफ्तर के अलावा हमारा मंत्रालय भी इसकी मॉनिटरिंग कर रहा है। रोजगार की कोई समस्या नहीं है बल्कि जो भी कंपनियां रोजगार देने आती हैं, उनका कहना होता है कि उन युवाओं में योग्यता नहीं है। मंदी की बात समझ में आ रही है, लेकिन रोजगार की कमी नहीं है । उनके इसी बयान पर प्रियंका गांधी ने पलटवार कहा कि, उत्तर भारत के युवाओं को रोजगार देने के बजाय सरकार उनका अपमान कर रही है ।  

 

मोदी सरकार के जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने जैसे फैसले को लेकर जहां देश की जनता ने इसका दिल से स्वागत किया, तो वहीं विदेश में भी इस फैसले को लेकर मोदी सरकार को लोगों का काफी समर्थन मिला । बता दें कि, ऑस्ट्रेलिया में रविवार को भारतीय मूल के ऑस्ट्रेलियाई नागरिकों ने धारा 370 हटाने को लेकर मोदी सरकार का काफी समर्थन किया । साथ ही कश्मीरी पंडितों के नेतृत्व में एक रैली का आयोजन किया गया ।

जी हां हम बात कर रहे हैं मेलबर्न में जुटे लोगों की जिन्होंने रविवार को विक्टोरियन स्टेट पार्लियामेंट से फेडरेशन स्क्वायर तक कश्मीरी पंडितों के नेतृत्व में एक रैली का आयोजन किया । वहीं बात अगर पाकिस्तान की करें तो धारा 370 हटने के बाद से इस वक्त पाकिस्तान को लगातार सब जगहों से मुंह की खानी पड़ रही है । जिससे पाकिस्तान बौखलाया हुआ है । इसी बौखलाहट के चलते पाकिस्तान लगातार भारत पर हमले कर रहा है ।

गृह मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक अब पाकिस्‍तान सोशल मीडिया के जरिये लोगों को भड़का रहा है। इसके साथ ही वह नगालैंड के उग्रवादियों तक अपनी पहुंच बना रहा है । बता दें मोदी सरकार ने कश्मीर से 5 अगस्त को धारा 370 हटाने का फैसला लिया । जिसको लेकर आम जनता का मोदी सरकार जहां समर्थन मिला तो वहीं विपक्ष ने जमकर हमला बोला ।  

हमेशा से आम जनता सरकार पर रोजगार को लेकर सवाल करती आई है । जनता का कहना है कि हमारे देश में रोजगार की कमी है जिसे लेकर सरकार किसी तरह की पहल नहीं करती है । वहीं जनता के इन्हीं का जवाब देते हुए बरेली में केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने मोदी सरकार की उपलब्धियां गिनाई । उन्होंने कहा कि, हमारे देश में रोजगार और नौकरी की कोई कमी नहीं है बल्कि कमी लोगों में योग्यता की है ।

संतोष गंगवार ने कहा कि, हमारे उत्तर प्रदेश में जो रिक्रूटमेंट करने आते हैं, वो इस बात का सवाल करते हैं कि जिस पद के लिए हम रख रहे हैं उस क्वालिटी का व्यक्ति हमें नहीं मिल रहा है, कमी है तो योग्य लोगों की है । मंत्री का कहना है कि हम इसी मंत्रालय को देखने का काम करते हैं। इसलिए मुझे जानकारी है कि देश में रोजगार की कोई कमी नहीं है, रोजगार बहुत है ।

उन्होंने कहा कि, कई जगहों से जहां कंपनियां रोजगार देने आती हैं उन्हें कैंडिडेट में वो योग्यता नहीं दिख पाती जो वह देखना चाहते हैं । इसका मतलब साफ है कि, कमी रोजगार में नहीं कमी लोगों में है । उन्होंने कहा कि, मंदी की बात समझ में आ रही है, लेकिन रोजगार की कमी नहीं है । बता दें कि, इस वक्त कांग्रेस लगातार मोदी सरकार पर रोजगार जैसी समस्या को लेकर हमला बोल रहा है । वहीं संतोष गंगवार के इस बयान से भाजपा के लिए और मुसीबतें खड़ी हो सकती हैं । कांग्रेस का मानना है कि, भाजपा इन 100 दिनों में इन सभी मुद्दों से बचने की कोशिश कर रही है ।  

 

हमेशा अपनी ही पार्टी पर सवाल खड़े करने वाले भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी का आज जन्मदिन है । इस मौके पर वह आज अपने अयोध्या के दौरे के दूसरे दिन राम लला के दर्शन किए । इस दौरान अपने जन्मदिन के मौके पर उन्होंने अयोध्या मुद्दे को लेकर कई बड़े ऐलान किया हैं । उन्होंने कहा है कि, नवंबर के बाद से अयोध्या का राम मंदिर निर्माण शुरू हो जाएगा ।

सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि, सुप्रीम कोर्ट जल्द ही राम मंदिर निर्माण के पक्ष में अपना फैसला सुनाने वाला है । उन्‍होंने इस दौरान कहा कि पूजा करने का सभी को अधिकार है, जिसे कोई भी छीन नहीं सकता है। साथ ही जो व्यवस्था जन्म स्थान पर बनी हुई है, वहां से मंदिर को हटाया भी नहीं जा सकता है। सुब्रमण्यम स्वामी अपना जन्‍मदिन आज पूजा-पाठ, हवन और गौसेवा के साथ संतों के बीच मना रहे हैं । उन्होंने कहा कि, नवंबर के बाद अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण शुरू हो जाएगा। हिंदुओं का मूलभूत अधिकार मुसलमानों की संपत्ति के अधिकार से ऊपर है। मुसलमानों का केवल साधारण अधिकार है।

सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि, सुप्रीम कोर्ट भी कहता है मूलभूत अधिकार सर्वोपरि है। जब मूलभूत अधिकार और संपत्ति के अधिकार का होता है। बता दें कि, अपने जन्मदिन के दिन रामलला के दर्शन के दौरान स्वामी ने जय श्रीराम के नारे भी लगाए साथ ही कहा कि हमारे रामलला हम जरूर लाएंगे । लेकिन सुब्रमण्यम स्वामी के इस बयान में कितनी सच्चाई है यह तो सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद ही पता चलेगा ।

शनिवार को मुंबई के एनसीपी भवन में एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने कई विवादित बयान दिए । दरअसल उन्होंने पाकिस्तान की प्रशंसा की और कहा कि, मैं पाकिस्तान गया था, वहां मेरा सत्कार हुआ । इसके साथ ही उन्होंने आर्टिकल 370 और मॉब लिचिंग जैसे मुद्दों पर भी अपना बयान दिया । शरद पवार ने कहा कि, मैंने जब पाकिस्तान का दौरा किया था, तब मैंने देखा कि पाकिस्तान के लोग काफी नाखुश हैं ।

शरद पवार ने कहा कि, जो लोग पाकिस्तान में रह रहे हैं वह वहां नहीं रहना चाहते उनके साथ अन्याय हुआ है । साथ ही भारतीय राजनीति पर निशाना साधते हुए कहा कि, हमारे देश के नेता इन मुद्दों को नहीं समझते वह सिर्फ इन्हें राजनीति के लिए इस्तेमाल करते हैं । वहीं मॉब लिचिंग जैसे मुद्दे पर निशाना साधते हुए शरद पवार ने कहा कि, ''वर्तमान में समाज के एक वर्ग को नफरत के नाम पर निशाना बनाया जा रहा है. कुछ लोग "मैं भारतीय हूं" का उच्चारण करने के लिए हर भारतीय पर दबाव बनाने में लगे हुए हैं, लेकिन मैं पूछ रहा हूं कि हर भारतीय को 'मैं भारतीय हूं' इसका उच्चारण करना क्या आवश्यक है?

वहीं कश्मीर में अनुच्छेद 370 मुद्दे को लेकर उन्होंने कहा कि, यह ठीक है कि जम्मू और कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाया गया।  लेकिन मैं कहता हूं कि सत्तारूढ़ पार्टी यह संदेश दे रही है कि हम अल्पसंख्यक बहुल राज्य के खिलाफ कुछ कर रहे हैं। और इस तरह के कदमों के बीच अल्पसंख्यक के बीच आतंकवाद का प्रसार कर रहे हैं ।  

शनिवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह देश की रक्षा करते हुए मोर्चे पर शहीद 122 जवानों के परिजन के सम्मान समारोह में सूरत पहुंचे । इस दौरान राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी दे डाली । उन्होंने कहा कि, पाकिस्तान अगर इसी तरह आतंकवाद को बढ़ावा देता रहेगा और वह नहीं सुधरा तो उसके टुकड़े-टुकड़े होने से कोई भी नहीं रोक सकता । साथ ही उन्होंने कहा कि, अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को रद्द करने के फैसले के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है ।

राजनाथ सिंह ने कहा कि, भारत के अल्पसंख्यक सुरक्षित थे, सुरक्षित हैं और सुरक्षित ही रहेंगे। रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत लोगों को धर्म या जाति के आधार पर नहीं बांटता है । साथ ही उन्होंने कहा कि, अंतरराष्ट्रीय समुदाय पाकिस्तान के कथन पर यकीन करने का इच्छुक नहीं है। इसके अलावा पाकिस्तान को आगाह करते हुए उन्होंने कहा कि उसे आतंकवाद को रोकना होगा नहीं तो कोई भी उसके टुकड़े होने से नहीं रोक सकता । वहीं इमरान खान के एलओसी बयान को लेकर राजनाथ सिंह ने उन पर जमकर निशाना साधा । उन्होंने कहा कि, मैं इमरान से कहना चाहता हूं कि हमारे सैनिक भी एलओसी पार करने की प्रतीक्षा कर रहे हैं। सैनिक वहां से किसी को वापस नहीं जाने देंगे।  

रक्षा मंत्री ने जम्मू-कश्मीर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दृढ़ रुख को दोहराया और कहा कि नई दिल्ली अब पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) के मुद्दे पर इस्लामाबाद के साथ बातचीत करेगी। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि, "मैंने स्पष्ट रूप से कहा है कि अगर भारत और पाकिस्तान के बीच वार्ता होती है, तो यह पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (PoK) पर ही होगी" ।

जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान तिलमिलाया हुआ है । जिसके बाद से पाकिस्तान लगातार कश्मीर को पाने के लिए कई देशों से मदद की गुहार लगा रहा है । लेकिन इसके बावजूद भी पाकिस्तान को मुंह की खानी पड़ी है । पाकिस्तान की इसी बौखलाहट का एक और उदाहरण 14 सितंबर को सामने आया जिसमें पाकिस्तानी सेना सीजफायर का उल्लंघन कर भारतीय सेना पर लगातार फायरिंग की । जिसके बाद भारतीय सेना ने जवाबी कार्रवाई कर पाकिस्तानी सेना के दो सैनिकों को ढेर कर दिया । जिसके बाद से इससे अब पाकिस्तान की हवा निकल गई है।

दरअसल अल जज़ीरा के साथ एक इंटरव्यू के दौरान इमरान खान ने कहा कि, अगर पारंपरिक युद्ध में कोई देश हारने लगता है तो उसके पास दो ही विकल्प होते हैं- “या तो वह आत्मसमर्पण करे है या अपनी आजादी के लिए मौत से लड़े। मुझे पता है कि पाकिस्तान आजादी के लिए मौत से लड़ेगा, जब एक परमाणु सशस्त्र देश मौत से लड़ता है, तो उसके अपने नतीजे होते हैं । जब उनसे परमाणु युद्ध को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि, पाकिस्तान कभी भी परमाणु युद्ध शुरू नहीं करेगा। मैं शांतिवादी हूं, मैं युद्ध विरोधी हूं"। हम मानते हैं कि युद्ध समस्याओं का समाधान नहीं करते हैं, युद्ध के अनपेक्षित परिणाम हैं ।

इमरान खान ने अपने इस इंटरव्यूह के दौरान यह भी कहा कि, LOC पर कब जाना है कब नहीं यह मैं बताउंगा । साथ ही उन्होंने कहा कि, यह युद्ध किसी भी तरह का कोई समाधान नहीं है । इमरान खान ने कहा कि, अगर यह युद्ध होता है तो, इसका भारतीय उपमहाद्वीप के परिणाम काफी खराब होगा। उनके इस बयान से यह साफ जाहिर होता है कि, वह पहले ही हार मान चुके हैं । बता दें कि, पाकिस्तान अक्सर भारत को परमाणु युद्ध की धमकी देता रहता है ।

देश की आर्थिक स्थिति में बदलाव लाने के वित्त मंत्री ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस की । जिसमे कई स्थिति नियंत्रण लाने के लिए कई बड़े फैसले लिए गए। जिसका सबसे ज्यादा असर रियल एस्टेट सेक्टर देखने को मिल सकता है । दरअसल वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि सरकार ने 10 हजार करोड़ रुपये का फंड उन अधूरे प्रोजेक्ट को देने की घोषणा की है, जिनमें 60 फीसदी काम हो चुका है ।

निर्मला सीतारमण ने जानकारी देते हुए बताया कि, इससे 3.5 लाख घरों को फायदा मिलेगा । मोदी सरकार के इस फैसले से दिल्ली में रहने वाले लोगों को काफी फायदा होगा । बता दें कि, सरकार के इस फैसले से लटके हुए प्रोजेक्ट ही पूरे नहीं होंगे बल्कि खरीदारों को भी जल्‍द पजेशन मिल सकेगा । इसके साथ ही घर खरीदने के लिए जरूरी फंड को स्पेशल विंडो बनाया जाएगा। इस विंडो के जरिए होमबायर्स को घर लेने में आसानी होगी और आसानी से लोन लिया जा सकेगा ।

बता दें कि घर खरीदने वालों को हाउस बिल्डिंग एडवांस पर ब्याज दर कम की जाएगी । सरकार की इस बड़ी पहल से आम जनता को घर लेने की दिक्कतों से मुक्ति मिलेगी । साथ ही बैंकों में होम लोन को लेकर हो रही दिक्कतों से भी छुटकारा मिलेगा । निर्मला सीतारमण ने बताया कि अफोर्डेबेल हाउसिंग को बढ़ावा देने के लिए सरकार ईसीबी गाइडलाइंस में कई सुधार करेगी । बता दें कि, ईसीबी विंडो के तहत भारत की कंपनियां अलग-अलग इंस्ट्रूमेंट्स के जरिये कुछ खास स्थितियों में विदेश से ऋण जुटाने की योग्य हैं ।

आज हिंदी दिवस है यानी की जिस दिन हिंदी भाषा को भारत की मातृभाषा के तौर पर चुना गया था । आज के दिन सभी भारतीय इसे धूमधाम से मना रहे हैं । बता दें कि, आज के ही दिन संविधान सभा ने हिन्दी को देश की आधिकारिक भाषा के रूप में चुना था । जिस तरह से हिंदी भाषा का प्रयोग सोशल मीडिया और इंटरनेट पर किया जाता है इससे हिंदी यानी हमारी मातृभाषा आज तीसरे स्थान पर पहुंच चुकी है । जो कि, पूरी दुनिया में सभी भाषाओं में से सबसे ज्यादा बोले जाने वाली भाषाओं में से एक है ।

दरअसल वर्ल्‍ड इकोनॉमिक फोरम की एक रिपोर्ट के अनुसार 2050 तक हिंदी को विश्‍व की सबसे ताकतवर भाषाओं में शामिल होगी । बता दें कि, हिंदी जैसी भाषा का प्रयोग आज के समय में इतना बढ़ गया है कि, दूसरे देशों में भी लोग इस भाषा को सीखने में काफी इच्छुक होते हैं । इतना ही नहीं हिंदी भाषा का प्रयोग आज के समय पर इतना ज्यादा बढ़ गया है कि गूगल जैसे बढ़े प्लेटफार्म पर भी लोग अंग्रेजी से ज्यादा हिन्दी का प्रयोग करते हैं । दरअसल वर्ल्‍ड इकोनॉमिक फोरम की एक रिपोर्ट के अनुसार 2050 तक हिंदी को विश्‍व की सबसे ताकतवर भाषाओं में शामिल होगी ।

दूसरी तरफ मोबाइल फोन की बात करें पहले के फोनों में हिंदी में चैट नहीं की जा सकती थी । लेकिन आज समय में आप हिंदी भाषा में भी चैट कर सकते हैं । इससे हिंदी भाषा की उपयोगिता और भी ज्यादा बढ़ने लग गई । अब तो व्हॉट्सएप पर जोक भी अंग्रेजी से ज्यादा हिन्दी में आते हैं। जो अपने आप में दर्शाती है कि हिन्दी की उपयोगिता कितनी ज्यादा बढ़ गई है ।

देश की अर्यव्यवस्था में सुधार लाने के आज वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉंन्फ्रेंस की । जिसमे उन्होंने कई बड़े फैसले लिए । इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान निर्मला सीतारमण ने कहा कि, सरकार का फोकस एक्सपोर्ट और होम बायर्स पर है। साथ ही, उन्‍होंने कहा कि देश में व्‍यापार करना पहले से और आसान हुआ है । वित्‍त मंत्री ने कहा कि NBFC को क्रेडिट गारंटी स्कीम का फ़ायदा मिला है। साथ ही इनकम टैक्स में ई-एसेसमेंट लागू किया गया है। उन्‍होंने यह भी बताया कि 19 सितंबर को PSU बैंकों के साथ एक बैठक भी होनी है ।

निर्मला सीतारमण ने बताया कि 45 लाख रुपये तक के मकान को खरीदने पर टैक्स में छूट के फैसले का फायदा रियल एस्‍टेट सेक्‍टर को मिला है। तो वहीं, अफोर्डेबल, मिडिल इनकम हाउसिंग के लिए सरकार ने 10 हजार करोड़ के फंड का ऐलान किया है । अफोर्डेबल हाउसिंग पर एक्सटर्नल कॉमर्शियल बोरोइंग यानी ईसीबी गाइडलाइंस आसान की जाएगी। निर्मला सीतारमण ने कहा कि, एक्‍सपोर्ट के लिए नई स्‍कीम लॉन्‍च की गई है। 1 जनवरी 2020 से मर्चन्डाइज एक्सपोर्ट फ्रॉम इंडियन स्कीम यानी एमईआईएस की जगह नई स्‍कीम आरओडीटीईपी को लॉन्‍च किया गया है। नई स्‍कीम से सरकार पर 50 हजार करोड़ रुपये का बोझ बढ़ेगा। वहीं एक्‍सपोर्ट में ई-रिफंड जल्‍द लागू होगा ।

निर्मला सीतारमण ने कहा कि अब सभी नोटिस सिस्टम के जरिए लागू हो रहे हैं। अब छोटे टैक्स डिफॉल्‍ट करने पर मुकदमा नहीं किया जा रहा है। 25 लाख तक के डिफॉल्‍ट पर 2 बड़े अफसरों की मंजूरी ज़रुरी होगी। साथ ही उन्‍होंने कहा कि अप्रैल-जून में इंडस्ट्री के रिवाइवल के संकेत हैं । साथ ही उन्होंने कहा कि, इस साल के आखिर तक टेक्सटाइल में MEIS लाया जाएगा। गुड्स एंड सर्विस में MEIS की नई स्कीम लाई जाएगी साथ ही एक्सपोर्ट के लिए नई स्कीम का ऐलान भी किया जाएगा ।

 

मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद से पूरे देशभर में पुलिस सख्ती से ट्रफिक नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई कर रही है । वहीं अगर बात करें देश की राजधानी दिल्ली की तो दिल्ली पुलिस की इन सख्त कार्रवाई के बावजूद भी शुक्रवार की देर रात को कुछ हुड़दंगी लड़कों ने जो किया उसे देख कर आप यह अंदाजा लगा सकते हैं कि, इन्हें पुलिस से कोई डर नहीं है ।

बता दें कि, इन लड़कों ने दिल्ली यूनिवर्सिटी के सामने वाली सड़क पर कानून को हाथ पर लेकर सड़क पर खूब उत्पात मचाया । इतना ही नहीं बल्कि देर रात नशे की हालत में गाड़ी पर चढ़कर डांस कर खूब तमाशा भी किया। जिससे सड़क पर आने-जाने वाले लोगों को कई दिक्कतों का सामना भी करना पड़ा । बता दें कि, उनके इस तमाशे से सड़क पर चल रहे लोग भी काफी परेशान हो गए थे । वह चलती गाड़ी में कभी तेज गाने बजाकर डांस कर रहे तो कभी गाड़ी के अंदर बैठ कर कई तरह आवाजे निकाल रहे थे ।

दरअसल शुक्रवार को दिल्ली यूनिवर्सिटी कैम्पस में छात्र यूनियन चुनाव की मतगणना हुई थी । लेकिन इनकी इस हरकत से यह कहा जा सकता है कि, सरकार के इस ट्रैफिक नियमों को लेकर इनके अंदर किसी भी तरह का कोई डर नहीं है । वहीं इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद जागी दिल्ली पुलिस ने मामले का संज्ञान लिया और कहा कि गाड़ियों की पहचान की जा रही जिसके बाद उनके खिलाफ सख्ती से कार्रवाई की जाएगी ।

जैसे-जैसे देश में जागरूकता बढ़ती जा रही है उसी तरह लगातार रेप जैसे मामले अब खुलकर सामने आ रहे हैं । दरअसल राजस्थान के चित्तौड़गढ़ से एक बाप-बेटी जैसे पवित्र रिश्ते को शर्मसार कर देने वाला ममला सामने आया है । दरअसल एक पिता लगातार 6 साल अपनी ही 2 बेटियों का बलात्कार कर रहा था । लेकिन जब पिता की हदे पार हो गई तो बड़ी बेटी ने किसी तरह हिम्मत जुटा कर चाइल्ड हेल्पलाइन को इस मामले की जानकारी दी और उनसे मदद की गुहार लगाई । जिसके बाद पुलिस ने बेटी की मदद कर उसके आरोपी पिता को गिरफ्तार किया ।

घटना की जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया कि, 'चाइल्ड हेल्पलाइन 1098 पर खबर मिली थी कि 2 बच्चियों ने हमें संपर्क किया है। उन्होंने बताया कि उनके पिता बच्चियों के साथ साथ दुष्कर्म कर रहे हैं । पुलिस को पीड़ित बच्ची ने बताया कि, लगभग 6 7 साल पहले उनकी मां उन्हें छोड़कर चली गई थी जिसके बाद से उसके पिता दोनों बच्चियों के साथ दुष्कर्म करने लगे । उस वक्त वह बच्ची छठी कक्षा में पढ़ाई कर रही थी ।

बेटी ने जानकारी देते हुए बताया कि उसकी छोटी बहन के साथ भी उन्होंने जब यह काम करना शुरू कर दिया तब उसने किसी की मदद से चाइल्ड लाइन से संपर्क किया। साथ ही उसने कहा कि, कुछ भी गलती होने पर उसका पिता दोनों को खूब मारता पीटता था और घर से बाहर निकालने की धमकी भी देता था। फिलहाल दोनों ही बेटियों को चाइल्डलाइन की मदद से समाज कल्याण विभाग के शेल्टर होम में रखा गया है ।

 

लोकसभा चुनाव 2019 में मिली हार के बाद समाजवादी पार्टी को एक और बड़ा झटका लगा है । दरअसल यूपी की सरकार ने मुलायम के परिवार को से लोहिया ट्रस्ट बिल्डिंग छीन ली है । बता दें कि, राज्य संपत्ति विभाग ने शुक्रवार को लोहिया ट्रस्ट का यह बंगला खाली करा दिया है । इस ट्रस्ट से समाजवादी पार्टी के कई लोग जुड़े हुए हैं लेकिन इस खबर के बाद से मुलायम परिवार को करारा झटका मिला है ।

बताया जा रहा है कि, इस बिल्डिंग को शिवपाल यादव की पार्टी ने कब्जे में ले लिया था । लेकिन जब इस मामले का खुलासा हुआ तो राज्य संपत्ति विभाग ने इसकी जानकारी सुप्रीम कोर्ट को दी । जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने मुलायम परिवार को यह बिल्डिंग खाली करने के आदेश दे दिए हैं । साथ ही एक्शन लेते हुए कड़ी सुरक्षा के बीच लोहिया ट्रस्ट को कब्जे में ले लिया ।

आपको बता दें कि, मुलायम सिंह यादव ट्रस्ट के अध्यक्ष और शिवपाल सिंह यादव सचिव हैं । समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और कई शीर्ष नेता ट्रस्ट के सदस्य हैं । दरअसल बंगला खाली करने के लिए लोहिया ट्रस्ट ने राज्य संपत्ति विभाग से वक्त मांगा था। आवंटन रद्द होने के बाद ट्रस्ट 70 हजार रुपये प्रतिमाह बंगले का किराया दे रहा था जो कि बाजार दर से वसूला जा रहा था। आवंटन 10 साल के लिए किया गया था जबकि संशोधित एक्ट के मुताबिक बंगला पांच साल के लिए आवंटित किया जा सकता है ।

Page 1 of 24