Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

ट्रंप के शांति वार्ता रद्द करने के बाद बौखलाए तालिबान ने दी धमकी, कहा अमेरिका को होगा बड़ा नुकसान

By Shubhi Srivastava September 09, 2019
डोनाल्ड ट्रंप की फाइल फोटो डोनाल्ड ट्रंप की फाइल फोटो डोनाल्ड ट्रंप की फाइल फोटो

तालिबानी आतंकियों का गढ़ माना जाने वाला काबूल शहर में तालिबानी हमलें में अमेरिकी सैनिक के मारे जाने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्द ट्रंप ने अंतिम समय में शांति वर्ता से इंकार कर दिया है। जिसके बदले में बौखलाए तालिबान ने ट्रंप को धमकी देते हुए कहा है की राष्ट्रपति के इस फैसले के बाद अमेरिका को बड़ा नुकसान होगा और अब वहां के बहुत से नागरिकों की जान जाएगी।

रविवार देर रात तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद की तरफ से यह बयान जारी किया गया, जिसमें उन्होंने कहा, ''जिस वक्त डोनाल्ड ट्रंप हमले की दुहाई दे रहे हैं उसी वक्त अमेरिका की सेनी भी वेसा ही कर रही है। वह भी अफगानिस्तान में लगातार बम बरसा रही है। ट्रंप के फैसले से और लोगों की जान जाएगी, शांति भंग होगी।''

सालों से चले आ रहे अमेरिका और अफगानिस्तान के बीच लड़ाई को खत्म करने को लेकर अमेरिका और तालिबान अब तक नौ चरणों में शांति वार्ता कर चुके हैं, जो हालिया घोषणा के बाद बेनतीजा रहीं। अमेरिकी राष्ट्रपति ने ट्वीट किया कि रविवार को ‘कैंप डेविड’ में तालिबान के बड़े नेता और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी के साथ अलग-अलग गोपनीय बैठक करनी थी। वे लोग शनिवार देर अमेरिका आने वाले थे। दुर्भाग्य से वे सिर्फ झूठा दिलासा देने के लिए आ रहे थे। तालिबान ने काबुल में हुए हमले की जिम्मेदारी ली है, जिसमें हमारा एक महान सैनिक और 11 लोग मारे गए। मैंने तत्काल इस बैठक को रद्द कर दिया और शांति वार्ता रोक दी।''

Rate this item
(0 votes)