Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

निदास ट्रॉफी फाइनल में 19 गेंद खेल 17 रन बनाने वाले विजय शंकर बोले- अगर दिनेश कार्तिक वो छक्‍का न मारता तो…

By nidahas-trophy-2018 March 21, 2018

भारत और बांग्लादेश के बीच खेला गया निदास ट्रॉफी 2018 का फाइनल मैच काफी रोमांचक रहा। भारत को यह मैच जीतने के लिए एक गेंद पर पांच रन की जरुरत थी। भारतीय विकेटकीपर दिनेश कार्तिक की शानदार बल्लेबाजी के कारण भारत यह मैच जीतकर टाइटल अपने नाम करने में कामयाब हो पाया। मैच के आखिरी ओवरों पर बात करते हुए टीम के पेस बॉलर विजय शंकर ने कहा कि आखिरी गेंद के समय वे ड्रेसिंग रूम में अपनी आंखे बंद करके बैठे थे और प्रार्थना कर रहे थे कि दिनेश कार्तिक आखिरी गेंद को कहीं भी स्टैंड की तरफ मार दें। उन्होंने जब आंख खोली तो स्टेडियम में सभी काफी खुश थे।

इसके बाद शंकर ने गहरी सांस ली और खुशी के मारे झूमते हुए दिनेश कार्तिक के पास जा पहुंचे जिन्होंने आखिरी गेंद पर छक्का जड़ टीम को जीत दिलाई थी। विजय शंकर ने बताया कि दिनेश कार्तिक उनके केवल मेंटर ही नहीं बल्कि उनके आइडल भी हैं। रविवार को कोलंबो के आर प्रेमादासा स्टेडियम में ट्राई सीरीज के फाइनल मैच को याद करते हुए विजय शंकर ने कहा, “मैं अतिरंजित नहीं हूं क्योंकि यह मेरी जिंदगी का कभी न भूल पाने वाला क्षण था।”

शंकर ने कहा, “वो केवल 15 मिनट थे लेकिन मुझे ऐसा लग रहा था कि जैसे एक-दो घंटे हों। मैं सोचे जा रहा था कि मेरे साथ क्या होगा अगर दिनेश कार्तिक छक्का न मार पाए और हम हार गए। इसके साथ ही मैं यह भी सोच रहा था कि अगर मैंने डॉट बॉल न खेली होती तो हम यह मैच ज्यादा आसानी से जीत पाते लेकिन मैं दिनेश कार्तिक का शुक्रगुजार हूं कि उनकी बदोलत हम यह मैच जीत पाने में कामयाब हो सके। वहीं मैं थोड़ा निराश भी हूं क्योंकि इस मैच को खुद से जिताने के लिए मैंने एक बहुत बड़ा अवसर गंवा दिया।” आपको बता दें कि फाइनल में विजय शंकर ने 19 गेंदों पर रन बनाए थे।

 

 

Rate this item
(0 votes)
Last modified on Wednesday, 21 March 2018 13:14