Login to your account

Username *
Password *
Remember Me

देश की राजधानी नई दिल्ली के रेलवे स्टेशन पर उस समय अफरा तफरी मच गई जब प्लेटफार्म नंबर 8 पर खड़ी चंडीगढ़-कोचुवेली एक्सप्रेस की आखिरी बोगी में अचानक आग लग गई। ये आग की लपटें इतनी भयावह थी कि रेलवे स्टेशन के ऊपर आग के धुएं का पूरा गुबार बन गया था। ये आग 2 बजे दोपहर में लगी थी।

हालांकि आग के इन कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है। ये आग ट्रेन की पावर कार बोगी में लगी थी। अब ट्रेन को हजरत निजामुद्दीन स्टेशन के लिए रवाना कर दिया गया है. जहां पर पावर कार बोगी की मरम्मत की जाएगी।

 

 

सूत्रों से मिली आधिकारिक बयान के मुताबिक, आग चंडीगढ़-कोचुवेली एक्सप्रेस की पावर कार बोगी में लगी थी। ट्रेन नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर आठ पर खड़ी थी. ट्रेन में बैठे सभी यात्री सुरक्षित हैं और मौके पर पहुंच दमकल कर्मचारियों ने आग बुझाने के काम को आगे बढ़ाया।

केंद्रीय रेल मंत्री इस घटना को लेकर ट्वीट किया है। पीयूष गोयल ने लिखा कि दिल्ली में चंडीगढ़-कोचुवेली एक्सप्रेस की पिछली पावर कार में आग लगने की घटना हुई है। फायर ब्रिगेड द्वारा मौके पर पहुंच आग पर काबू पा लिया गया है. वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पर हैं तथा स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। घटना में किसी प्रकार की कोई जनहानि नहीं हुई है।

 

होली पर घर आने-जाने वालों की भीड़ के बीच राजकीय रेलवे पुलिस ने लखनऊ के चारबाग स्टेशन के प्लेटफॉर्म एक पर बम मिलने की सूचना देकर मॉक ड्रिल शुरू कर दी। जीआरपी ने स्टेशन पर एंट्री बंद करने के साथ प्लेटफॉर्म का आधा हिस्सा भी खाली करवा दियायययय यही नहीं, डॉरमेट्री और प्रतीक्षालय के दरवाजे भी बंद करवा दिए। ऐसे में मॉक ड्रिल होने तक यात्रियों की सांसें थमी रहीं। स्टेशन की सुरक्षा व्यवस्था परखने के नाम पर जीआरपी ने बम होने की झूठी सूचना फैला दी। जीआरपी और आरपीएफ जवानों ने प्लेटफॉर्म एक पर मौजूद यात्रियों को हटाकर वहां रस्सी लगा दी और एंट्री गेट भी बंद करवा दिया। इसके अलावा वेटिंग हॉल में मौजूद यात्रियों को भी नहीं निकलने दिया। इसके बाद बम निरोधक दस्ते और डॉग स्क्वॉड भी मौके पर पहुंच गए। यह सब देख कई यात्री परेशान हो उठे।