जम्मू-कश्मीर, खासकर कश्मीर घाटी में सक्रिय आतंकियों के खात्मे के लिए भारतीय सेना की ताकत और बढ़ गई है। दरअसल, एलओसी पर आतंकियों के घुसपैठ और पाकिस्तानी सेना से निबटने के लिए भारतीय सेना को अमेरिका से नया हथियार मिल गया है। सेना की नार्दन कमांड को अत्याधुनिक एसआईजी 716 असॉल्ट राइफल मिले हैं, जिनके सामने आतंकी नहीं टिक पाएंगे। दरअसल, केंद्र सरकार ने सेना के आधुनिकीकरण की दिशा में अहम कदम उठाते हुए अमेरिका से 72 हज़ार असॉल्ट राइफल खरीदने की योजना बनाई थी। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने अमेरिकी सिग सॉयर राइफलों के खरीद प्रस्ताव को मंजूरी दे दी थी। चीन और पाकिस्तान के साथ लगती सीमा पर तैनात जवान इन राइफलों का इस्तेमाल करेंगे। यूएस आर्मी के साथ ही कई यूरोपीय देश भी इन राइफलों का इस्तेमाल कर रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक, पहले चरण में अमेरिका से 10 हजार एसआईजी-716 असॉल्ट राइफल मिले हैं, जिन्हें नार्दन कमांड को भेज दिया गया है। नार्दन कमांड जम्मू-कश्मीर में काउंटर टेररिस्ट ऑपरेशंस देख रहा है। इसके साथ ही ये कमांड पाकिस्तान में प्रशिक्षित आतंकियों और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से होने वाले घुसपैठियों को रोकने का काम भी करता है। इस नए राइफल से जवानों को आतंकियों का सामना करने में मदद मिलेगी।ये राइफल अमेरिकी में ही बने हैं और सभी राइफल की सप्लाई एक साल के अंदर होनी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here