दुनिया में मौजूद ऐसा गांव, जहां पूरे गांव में रहती है सिर्फ एक महिला!

-करिश्मा राय तंवर

 

अक्सर लोगों को अकेले रहने से डर लगता हैं आस-पड़ोस में लोग होने के बावजूद लोग अकेले घरों में रहने से कतराते हैं लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि दुनिया में एक ऐसा गांव भी है, जहां एक महिला अकेले रहती है. जी हां, यह महिला पूरे गांव में अकेले रहती है और उसे इस बात से न तो कोई परेशानी है और न ही डर लगता है.

 

 

अमेरिका के नेब्रास्का राज्य में मोनोवी नाम का एक गांव है. इस गांव में 84 साल की एल्सी आइलर नाम की महिला एकेले रहती हैं. यह दुनिया का इकलौता ऐसा गांव है, जहां आबादी के तौर पर सिर्फ एक महिला रहती है. इस गांव में एल्सी के अलावा और कोई नहीं रहता है.

 

एल्सी को अपने गांव से बहुत प्यार है और वे यहां अकेले रहती हैं ताकि कोई भी उनके गांव को भूतिया न कहे. सिर्फ इतना ही नहीं, एक सच्ची नागरिक की जिम्मेदारियां निभाते हुए वे अपने गांव का पानी और बिजली का टैक्स भी अदा करती हैं. यह लगभग 500 डॉलर यानी 35 हजार रुपये पड़ता है.

 

 

गांव की मुखिया भी खुद एल्सी

गांव में अकेले रहने के कारण एल्सी ही यहां की कर्ता-धर्ता हैं. इस पूरे गांव के रखरखाव की जिम्मेदारी एल्सी पर है. वहां की पब्लिक जगहों की देख-रेख के लिए सरकार उन्हें कुछ रुपये देती है. उसको कैसे और कहां खर्च करना है, यह एल्सी पर ही निर्भर करता है. वे अपने गांव की मुखिया और क्लर्क भी हैं.

 

क्यों गांव में अकेली रहती हैं एल्सी?

साल 1930 तक इस गांव में तकरीबन 150 लोग रहा करते थे. 54 हेक्टेयर में फैले इस गांव की आबादी 1930 के बाद कम होती चली गई थी. 1980 तक यहां महज 18 लोग ही बचे थे. उसके बाद साल 2000 तक गांव में सिर्फ एल्सी और उनके पति ही बचे थे. साल 2004 में पति रूडी की मौत के बाद से इस गांव में एल्सी अकेले रह रही हैं. गांव से लोगों के पलायन की वजह पता नहीं चल पाई है.

 

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *