राजस्थान की सियासत में जल्द कैबिनेट फेरबदल संभव, पायलट गुट के तीन नेताओं को मिल सकती है जगह

 

राजस्थान की सियासत में लंबे समय से चल रही है उठापटक को अब खत्म किया जा सकता है. मिली जानकारी के मुताबिक राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात कर इस पर चर्चा की, जिसके बाद अब राज्य में कैबिनेट फेरबदल लगभग तय माना जा रहा है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि पार्टी अध्यक्ष ने एक साल पहले जो समिति बनाई थी, उसका काम पूरा हो गया है.

 

कांग्रेस आलाकमान पर छोड़ा मंत्रिमंडल फेरबदल का फैसला- गहलोत

 

तो वहीं दूसरी तरफ राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य में मंत्रिमंडल विस्तार का फैसला कांग्रेस आलाकमान यानी सोनिया गांधी पर छोड़ दिया है. ऐसे में गहलोत ने प्रियंका गांधी वाड्रा और अजय माकन के साथ भी बैठक की थी. इन मुलाकातों के बाद अटकले लाई जा रही है कि गहलोत जल्द फेरबदल कर सकते हैं. वहीं, कांग्रेस पार्टी एक व्यक्ति एक पद का फार्मूला लागू कर सकती है.

 

इन तीन मंत्रियों की हो सकती है छुट्टी

 

कैबिनेट विस्तार के दौरान गहलोत सरकार के तीन मंत्री- रघु शर्मा, हरीश चौधरी और डोटासरा को पद से इस्तीफा देना पड़ सकता है. चूंकि 3 मंत्री संगठन में अहम पद संभाल रहे हैं. इन इस्तीफों के बाद मंत्रिमंडल में 12 जगह खाली हो जाएगी. ऐसे में पायलट अपने दर्जन समर्थकों को गहलोत मंत्रिमंडल में जगह दिला सकते हैं.