भारत को देवी-देवताओं का देश कहा जाता है जहां करोड़ो देवी-देवता निवास करते हैं। मंदिरों की बात की जाए तो भारत का विश्व में कोई सानी नहीं है, लेकिन सृष्टि के रचियता भगवान विष्णु का सबसे बड़ा मंदिर भारत में नहीं बल्कि कंबोडिया में स्थित है। भगवान विष्णु का ये धाम इतना विशाल और भव्य है कि इसका नाम गिनीज बुक में भी दर्ज हो चुका है।

Photo: Internet

यह मंदिर है अंकोरवाट मंदिर जो कंबोडिया में स्थित है जिसे भगवान विष्णु का सबसे बड़ा मंदिर कहा जाता है। फ्रांस से आजादी मिलने के बाद यही मंदिर कंबोडिया की पहचान बन गया। कंबोडिया के निवासी इस मंदिर को पानी में डूबा हुआ मंदिर का बगीचा भी कहते है। अंकोरवाट का यह हिन्दू मंदिर इतना ख़ास है कि यह कम्बोडिया राष्ट्र का राष्ट्रीय प्रतीक है, जिसकी तस्वीर को यहां के राष्ट्रीय ध्वज पर अंकित किया गया है।

Photo: Internet

सबसे खास बात है की इस मंदिर की दीवारों पर रामायण और महाभारत की कहानिया भी लिखी हुई हैं और साथ ही देवताओं और असुरों के अमृत मंथन का भी उल्लेख किया गया है। इस मंदिर की विशेषता है कि इस मंदिर का मुख्य द्वार पश्चिम दिशा में स्थित है जबकि सभी प्रमुख हिंदू तीर्थों और मंदिरों के द्वार पूर्व दिशा में स्थित होता हैं।

Photo: Internet

यह मंदिर सूर्यास्त के समय सूर्यदेव को नमन करता हुआ प्रतीत होता है और ढलते सूरज की रोशनी इसकी सुंदरता को कई गुना तक बढ़ा देती है। 11 वीं शताब्दी में यंहा सम्राट सूर्यवर्मन द्वितीय का शासन था। सूर्यवर्मन ने ही इस मंदिर का निर्माण करवाया था। इस मंदिर को 1992 में यूनेस्को ने विश्व विरासत में भी शामिल किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here