सट्टेबाजी के आरोप में गिरफ्तार हुए मुर्गे, पिछले कई दिनों से जेल में बंद!

-करिश्मा राय तंवर

 

जैसा की आप जानते हैं हमारे देश में  हर आरोप की एक सजा तय की गई है. जिनमें कुछ जुर्मों की सजा काफी खतरनाक होती है. वही हमारे देश में अगर किसी को सट्टेबाजी करते हुए गिरफ्तार कर लिया जाता है तो उसे जमानत भी काफी मुश्किल से मिलती है. यही वजह है कि सट्टेबाजी के जुर्म में गिरफ्तार हुए लोगों को तुरंत सलाखों के पीछे भेज दिया जाता है. लेकिन क्या आपने कभी सट्टेबाजी के आरोप में मुर्गों को गिरफ्तार होते हुए देखा है? ये सुनने में थोड़ा अजीब है लेकिन सच है.

 

दरअसल तेलंगाना में पुलिस ने 2 मुर्गों को गिरफ्तार कर लिया है. उन पर सट्टेबाजी का आरोप लगा है. यह मामला तेलंगाना के खम्मम का है. यहां मिदिगोंडा पुलिस स्टेशन के अंदर ये मुर्गे पिछले कई  दिनों से लॉकअप में बंद हैं. यहां की पुलिस ने इन्हें 10 जनवरी को पकड़ा था.

 

छूटे सट्टेबाज, फंस गए मुर्गे

जानकारी के मुताबिक मकर संक्रांति के पर्व पर मुर्गों की लड़ाई (का खेल चल रहा था. इसी खेल में लोग सट्टा लगा रहे थे. सट्टेबाजी की खबर मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और 10 लोगों को गिरफ्तार कर लिया. उन लोगों के साथ ही 2 मुर्गे और 1 बाइक भी बरामद हुई थी. पुलिस ने उन मुर्गों को भी गिरफ्तार कर लिया. बाद में वे लोग तो जमानत पर रिहा हो गए लेकिन बेचारे मुर्गे जेल में ही फंस गए.

 

सुनवाई के बाद होगा फैसला

मुर्गों पर अभी तक कोई भी अपना दावा बोलने के लिए नहीं आया है, इसलिए पुलिस ने मुर्गों को मामले के सबूत के तौर पर थाने में बंद रखा हुआ है. पुलिस का कहना है कि इन मुर्गों को मामले की सुनवाई के बाद ही छोड़ा जा सकता है. सुनवाई के बाद जब मुर्गों को छोड़ने का आदेश मिलेगा तो इनकी बोली लगेगी. ज्यादा बोली लगाने वाले व्यक्ति को दोनों मुर्गे दे दिए जाएंगे.

 

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *