सेना अध्यक्ष के बयान पर भड़के कांग्रेस नेता पी चिदंबरम

Spread the love

कांग्रेस का आज 135वां स्थापना दिवस है. इस अवसर पर कांग्रेस देशभर में ‘संविधान बचाओ-भारत बचाओ’ संदेश के साथ मार्च कर रही है. नागरिकता संशोधन अधिनियम को लेकर जहां देश के कई हिस्सों में विरोध-प्रदर्शन हो रहे हैं, वहीं विपक्ष भी भारतीय जनता पार्टी को घेरने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है. वहीं अब कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने देश के आर्मी चीफ बिपिन रावत को दो टूक कहा है.

कांग्रेस पार्टी 135वें स्थापना दिवस के मौके पर तिरुवनंतपुरम में एक रैली में पी चिदंबरम ने कहा, “डीजीपी, आर्मी जनरल को सरकार को सपोर्ट करने को कहा जा रहा है… ये शर्मनाक है… मुझे जनरल रावत से अपील करना है कि आप आर्मी के मुखिया हैं और अपने काम से काम रखिए… जो नेताओं को करना है वो नेता ही करेंगे. ये आर्मी का काम नहीं है कि वे नेताओं से कहें कि हमें क्या करना चाहिए… जैसा कि ये हमारा काम नहीं है कि हम आपको बताएं कि युद्ध कैसे लड़ा जाए? यदि आप एक जंग लड़ रहे हैं तो हम आपको नहीं कहते हैं कि युद्ध इस तरह लड़िए. आप युद्ध अपने दिमाग से लड़ते हैं. इस देश में राजनीति हम चलाएंगे.”

दरअसल पी चिदंबरम बिपिन रावत के उस बयान पर प्रतिक्रिया दे रहे थे जिसमें उन्होंने कहा था कि नेता नेतृत्व देने वाला होता है, लोगों को गलत दिशा में ले जाने वाला नहीं. बता दें कि देश भर में नागरिकता संशोधन बिल को लेकर हो रहे प्रदर्शन पर आर्मी चीफ बिपिन रावत ने एक बयान दिया था. बिपिन रावत ने कहा था कि नेता वे नहीं हैं जो लोगों को गलत दिशा में ले जाएं. रावत ने तब कहा था, “नेता वे नहीं हैं जो लोगों को गलत दिशा में ले जाएं, जैसा कि हम देख रहे हैं कि बड़ी संख्या में विश्वविद्यालय और कॉलेज के छात्रों को ले जाया जा रहा है. जहां बाद में आगजनी हुई, हिंसा हुई, ये नेतृत्व नहीं है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *