हिंदू धर्म में बहुत महत्व रखते हैं ये खास पेड़-पौधे, जानिए कौन-कौन से हैं ये…

 

हिंदू संस्कृति  कई तरह की पौराणिक मान्यताओं को महत्व दिया गया है. इसी तरह से कई पौधों और पेड़ों को भी काफी शुभ माना गया है. कई ऐसे पेड़ पौधों को मान्यता दी गई है, जो जीवन में परेशानियों को दूर करते हैं. खास बात ये है कि ऐसे पेड़ पौधों की ना सिर्फ लोग पूजा की जाती है, बल्कि घर से नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने के लिए भी इन पेड़ों का इस्तेमाल होता है.

 

वेद पुराणों में भी कई पड़ों आदि के बारे में बताया गया है. तुलसी हो या फिर पीपल सभी का अपना आध्यात्मिक महत्व है. आज के आधुनिक युग में भी लोग पेड़ों की पूजा करते हैं. आइए जानते हैं हिंदु धर्म में सबसे ज्यादा पूजनीय कुछ पेड़ों के बारे में.

 

पीपल का पेड़

 

हिंदू परंपरा के अनुसार, पीपल के पेड़ को पवित्र और पूजनीय माना गया है. इस पेड़ को भगवान हनुमान और भगवान शनि के मंदिर के आसपास देखा जा सकता है. कहते हैं अगर जीवन में कोई परेशानी हो तो पीपल की पेड़ की हर रोज सेवा करनी चाहिए, इससे कष्ट दूर हो जाएंगे. शनिदोष दूर के लिए भी पीपल के पेड़ की पूजा की जाती है. कहते हैं शनि खराब होने पर शाम को तेल का दिया पेड़ के नीचे जलाना चाहिए.

 

तुलसी का पौधा

 

लगभग हर घर में तुलसी के पौधे को पवित्र माना जाता है. लोग कुछ भी शुभ काम करें तो तुलसी पूजा को स्थान देते है. कहते हैं कि इस पौधे को घर में लगाने से नकारात्मकता भी दूर होती है. इस पौधे को औषधि के रूप में ही प्रयोग में लाया जाता है. घर में धन संपत्ति आदि के लिए भी तुलसी की पूजा की जाती है.

 

केले का पेड़

 

हिंदू संस्कृति में इसे काफी शुभ वृक्ष माना जाता है. इस पेड़ को भगवान विष्णु का भी प्रतीक माना जाता है. यही कारण है कि गुरुवार को खास रूप से इस पेड़ की पूजा की जाती है. कहते हैं कि अगर गुरुवार को इस पेड़ की पूजा की जाए तो हर एक बिगड़ा हुआ और रूका हुआ कार्य सफल हो जाता है.

 

कमल का फूल

 

कमल के फूल पर देवी लक्ष्मी विराजती हैं. ये फूल कई देवी  देवताओं का पसंदीदा फूल माना जाता है. यह पवित्रता, सुंदरता, तपस्या और दिव्यता का प्रतीक है.  यह फूल कीचड़ में खिलता है. ऐसा माना जाता है कि कमल का फूल अर्पित करने से भक्तों को सौभाग्य और आध्यात्मिक ज्ञान प्राप्त हो सकता है.