लोजपा के 206 कार्यकर्ता जेडीयू में शामिल, क्या खिसक रही है बिहार में चिराग की जमीन?

206 LJP workers

 

-अक्षत सरोत्री

 

 

बिहार विधानसभा चुनाव में लोजपा नेता चिराग पासवान (206 LJP workers) द्वारा नितीश कुमार को खुलेतौर पर चुनौती देकर अपने आप को एनडीए से अलग कर दिया था। उस समय लगातार चिराग पासवान जवाबी हमले नितीश कुमार पर करते रहे थे। उन्होंने नितीश कुमार को मौकापरस्त तक कह दिया था। जब नतीजे आये उसमें नितीश को नुकसान जरूर हुआ लेकिन भाजपा की कश्ती के सहारे वो मुख्यमंत्री बनने में सफल रहे। लेकिन अब जेडीयू ने लोजपा को झटके देना शुरू कर दिया है।

 

टिकैत का सरकार को दो टूक, अभी ट्रेक्टर भी वहीं और किसान भी वहीं

 

 

ऐसे चढ़ा सियासी पारा

 

जेडीयू में दूसरे दलों के नेताओं के शामिल होने का सिलसिला जारी है। इस बीच गुरुवार को जेडीयू के प्रदेश कार्यालय में गहमागहमी के माहौल के बीच (206 LJP workers) 206 एलजेपी नेता जेडीयू में शामिल हो गए। इन सभी नेताओं को जेडीयू में शामिल करवाने के लिए खुद जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह मौजूद रहे। वहीं जेडीयू में शामिल हुए नेता केशव सिंह ने कहा कि हम लोगों ने पार्टी को अर्श से फर्श तक पहुंचाने का काम किया। लेकिन स्वर्गीय रामविलास पासवान के चले जाने के बाद बिहार फर्स्ट और बिहारी फर्स्ट का नारा देने वाली पार्टी चिराग फर्स्ट और परिवार फर्स्ट की विचारधारा पर चलने लगी है।

 

कई पदाधिकारियों ने भी छोड़ी लोजपा

 

 

इसके बाद भी पार्टी के असल कार्यकर्ता को टिकट नहीं दिया गया। प्रदेश जेडीयू कार्यालय में एलजेपी नेताओं को अपनी पार्टी में शामिल करवाने के बाद (206 LJP workers) राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह ने कहा कि आज जो भी नेता अपनी पार्टी छोड़ कर जेडीयू में शामिल हुए हैं वे सभी एलजेपी के पदाधिकारी हैं। उन्होंने कहा कि आपको जानकर हैरानी होगी कि अकेले हाज़ीपुर लोकसभा क्षेत्र के 77 पंचायतों के अध्यक्ष, सचिव और पार्टी के विभिन्न पदों पर बैठे हुए लोग हमारी पार्टी में आये हैं।

 

 

नीतीश कुमार से दूसरे दलों के नेताओं से कर रहे हैं मुलाक़ात

 

 

गौरतलब है कि हाल के दिनों में प्रदेश (206 LJP workers) के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से दूसरे दलों के नेताओं से मिलने का सिलसिला जारी है। मुख्यमंत्री पहले सीपीआई नेता कन्हैया कुमार से मुलाक़ात कर चुके हैं। आपको बता दें कि एलजेपी के एकलौते विधायक रामकुमार सिंह और सांसद चंदन सिंह ने हाल ही में मुख्यमंत्री से मुलाक़ात की थी। जिसके बाद इनके जेडीयू में शामिल होने की चर्चाएं तेज हैं।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *