टूलकिट मामले में गिरफ्तार दिशा रवि को 5 दिन का पुलिस रिमांड

toolkit

 

-अक्षत सरोत्री

 

ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट (toolkit) मामले में गिरफ्तार दिशा रवि को दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने 5 दिन का रिमांड दिया है। दिल्ली पुलिस का दावा है कि दिशा रवि ने टूल किट बनाने में अहम भूमिका निभाई। उसने ही ग्रेटा को टूल किट डॉक्यूमेंट रिमूव करने के लिए कहा था। पुलिस के मुताबिक दिशा ने व्हाट्सएप ग्रुप बनाया था और वह खालिस्तान समर्थक पोएटिक जस्टिस फाउंडेशन के सहयोग से देश के खिलाफ असंतोष का माहौल बनाने का काम कर रही थी।

 

रघुनाथ मंदिर, जम्मू रेलवे स्टेशन थे आतंकियों के टारगेट, अल बद्र ने रची थी साजिश

 

क्लाइमेट एक्टिविस्ट हैं दिशा रवि

 

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने बेंगलुरु से 21 साल (toolkit) की क्लाइमेट एक्टिविस्ट दिशा रवि को गिरफ्तार किया था। कोर्ट में सरकारी वकील ने कहा कि दिशा रवि ने अपने डेटा को नष्ट कर दिया है, उनका मोबाइल फोन बरामद कर लिया गया है। पुलिस ने इस मामले में खालिस्तान के एंगल की जांच कर रही है। दिल्ली पुलिस ने ट्वीट करते हुए कहा, “दिशा रवि ने टूल किट डॉक्यूमेंट तैयार करने और उसे वायरल करने में अहम भूमिका निभाई थी। उसने व्हाट्सएप ग्रुप शुरू किया और टूल किट तैयार सहयोग किया था। ड्राफ्ट तैयार करने वालों के साथ जुड़कर काम कर रही थी।”

 

 

एथलेक्टिस ट्रेनर हैं दिशा के पिता

 

दिशा के पिता मैसुरू में रहकर एथलेटिक्स की ट्रेनिंग देते हैं। दिशा की मां हाउस वाइफ हैं। दिशा खुद बंगलुरू की कंपनी गुड (toolkit) मिल्क में कलीनरी एक्सपीरियंस मैनजर के रूप में काम करती हैं। दिल्ली पुलिस की टीम ने दिशा को उनके घर से गिरफ्तार किया। इसके बाद उन्हें दिल्ली लाकर मजिस्ट्रेट अदालत में पेश किया गया।

 

 

ग्रेटा थनबर्ग और अन्य ने यह ‘टूलकिट’ ट्विटर पर साझा की थी

 

दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार को गूगल और अन्य सोशल मीडिया कंपनियों से ‘टूलकिट’ (toolkit) बनाने वालों से जुड़े ईमेल आईडी, डोमेन यूआरएल और कुछ सोशल मीडिया अकाउंट की जानकारी देने को कहा था। जलवायु परिवर्तन कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग और अन्य ने यह ‘टूलकिट’ ट्विटर पर साझा की थी। ‘टूल किट’ में ट्विटर के जरिये किसी अभियान को ट्रेंड कराने से संबंधित दिशानिर्देश और सामग्री होती है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *