गौतबुद्धनगर के कमिश्नर की बड़ी कार्रवाई… लापरवाही के आरोप में सूरजपुर थाना प्रभारी निलंबित

रवि श्रीवास्तव

 

गौतबुद्धनगर में कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह जी तोड़ मेहनत कर रहे है, बावजूद इसके अपराधियों के हौसले अगर बुलंद है तो इसकी बड़ी वजह थानेदारों की लचर व्यवस्था है। लेकिन इसी बीच नोएडा कमिश्नर ने सूरजपुर थाना इंचार्ज पर बड़ी कार्रवाई करते हुए नजीर पेश करदी है

 

थाना इंचार्ज को पुलिस कमिश्नर ने सस्पेंड किया

 

कमिश्नर आलोक सिंह ने ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर थाना कोतवाली के इंस्पेक्टर प्रदीप त्रिपाठी को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है।

 

वजह क्या है ?

दरअसल ग्रेटर नोएडा के देवला के पास इंडियन ऑयल पेट्रोल पंप के मैनेजर से बदमाशों ने पिस्टल तानकर 8 लाख कैश लूट लिया और फरार हो गए। इस मामले में पुलिस की भूमिका पर भी सवाल उठे क्योंकि वारदात वाली जगह से पुलिस स्टेशन भी बेहद नजदीक है

 

 

इंस्पेक्टर प्रदीप त्रिपाठी की पहले भी मिली है शिकायत

 

जानकारी के मुताबिक सूरजपुर के इंस्पेक्टर प्रदीप त्रिपाठी के व्यवहार को लेकर भी पब्लिक की तरफ से लगातार शिकायतें मिल रही थीं।हाल ही में दो युवकों को सूरजपुर कोतवाली में बंद करके पीटा गया था। बड़ी बात यह है कि युवकों ने जिन लोगों पर घर में घुसकर मारपीट करने का आरोप लगाया था। उन्हीं लोगों ने कोतवाली में इंस्पेक्टर प्रदीप त्रिपाठी की मौजूदगी में उनके साथ मारपीट की थी। बाद में पता चला कि एक आईपीएस अफसर का रिश्तेदार होने के नाते प्रदीप त्रिपाठी ने आरोपियों को यह रियायत बरती थी। इस मामले को लेकर भारी संख्या में ग्रामीणों ने सूरजपुर कोतवाली का घेराव किया था। उस दिन पूरे दिन हंगामा चलता रहा था। जिसकी वजह से गौतम बुद्ध नगर पुलिस कमिश्नरेट की छवि खराब हुई थी। हालांकि इस मामले को किसी तरह पुलिस अधिकारियों ने शांत करवा दिया था। इस तरह की और भी कई शिकायत है। प्रदीप त्रिपाठी के खिलाफ लगातार उच्चाधिकारियों को मिल रही थी।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *