तालिबान को अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी की अंतिम चेतावनी

 

-आयुषी प्रधान

 

तालिबान को रोकने के लिए अफगानिस्तान ने कमर कस ली है. तालिबान को अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने अंतिम चेतावनी दे दी है. उन्होंने कहा है कि तालिबान ने साफ कर दिया है की उसे शांती की कोई इच्छा नही है.मगर तालिबान यह समझ ले की अब अफगानिस्तान बदल चुका है.

 

अशरफ गनी की तालिबान को अंतिम चेतावनी

 

नमाज का वक्त था,अफगानिस्तान के बड़े नेता नमाज पढ़ रहे थे. उसी वक्त एक एक करके तीन रॉकेट से हमला होता है. मगर कोई डरता नहीं. वहीं खड़े रहते हैं और नमाज अदा करते हैं। तालिबान का यह अफगानिस्तान सरकार क संदेश समझा गया था की वो काबुल तक पहुंच गए हैं. मगर अफगान के नेताओं ने वहां पर खडे होकर साबित कर दिया की वो तालिबान से डरने वाले नहीं हैं.

 

तालिबान के साथ जंग को तैयार अफगानिस्तान

 

 

तीन रॉकेट से हमलों के बाद अफगानिस्तान के राष्ट्रपति ने चेतावनी जारी की औऱ तालिबान को साफ कर दिया की अफगानिस्तान आखिरी सांस तक उनके साथ जंग लडेगा।गनी ने कहा कि हाल ही में तालिबान की ओर से उठाए गए कदम से पता चलता है कि तालिबान का शांति के लिए कोई इरादा नहीं है. ऐसे में आगे चलकर सरकार इसी के आधार पर फैसला लेगी. इसी के साथ राष्ट्रपति अशरफ गनी ने कहा कि सरकार का वार्ता के लिए दोहा प्रतिनिधिमंडल भेजना तालिबान को अंतिम चेतावनी थी.
अशरफ गनी ने तालिबान को साफ कर दिया है की दोहा की बातचीत से साफ हो गया है की तालिबान शांती नहीं चाहता। उन्होंने कहा, ‘अब्दुल्ला ने कुछ मिनट पहले मुझसे कहा कि तालिबान का शांति का कोई इरादा नहीं है. हमने अल्टीमेटम देने के लिए प्रतिनिधिमंडल को भेजा और यह दिखाया कि हम शांति चाहते हैं. इसके लिए हम बलिदान देने को भी तैयार हैं लेकिन तालिबान शांति के लिए कोई इच्छा नहीं रखता. लिहाजा हमें इसी आधार पर फैसला लेना चाहिए.

 

अशरफ गनी ने पाकिस्तान पर बोला हमला

 

ईद के मौके पर अशरफ गनी ने पाकिस्तान पर भी निशाना साधा औऱ कहा की पाकिस्तान अपनी धरती पर तालिबान को नहीं चाहता मगर उसकी कोशिश अफगानिस्तान की सत्ता पर तालिबान को लाने की है। पाकिस्तान पर हमला बोलते हुए कहा की तालिबान के घायल आतंकियों का पाकिस्तान में इलाज किया जा रहा है.तालिबान आतंकियों के सरदारों के परिवार पाकिस्तान में रह रहे हैं..यह इस बात का संकेत हैं पाकिस्तान तालिबान की खुलकर मदद कर रहा है.

 

अशरफ गनी ने इस दौरान अफगानिस्तान के सुरक्षाबलों की काफी ज्यादा तारीफ की औऱ कहा की अफगान बलों के बलिदान और साहस के सम्मान करने के लिए उन्हे हमेशा याद रखा जाएगा, खासकर पिछले तीन महीनों में. उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान के सुरक्षा और रक्षा बलों ने पिछले 20 सालों में, खासकर पिछले तीन महीनों में, इस धरती और इस मातृभूमि के सम्मान की रक्षा के लिए कई बलिदान दिए हैं.

 

वहीं उन्होंने कहा की तालिबान के खिलाफ अफगानिस्तान का प्लान तैयार है और अब तालिबान के खिलाफ और कड़ाई की जाएगी. पिछले 20 सालों में अफगानिस्तान बदल गया है. सेना जहां मजबूत हुई है वहीं अफगानिस्तान विकास की राह पर है. मगर तालिबान इस विकास को वाधित करना चाहता है मगर अफगानिस्तान के लोग उसे एसा नहीं करने देंगे। सब मिलकर तालिबान का मुकाबला करने के लिए तैयार है.

 

https://jk24x7news.tv/priyanka-gandhi-attacks-center-over-no-death-due-to-lack-of-oxygen-statement/

Share