Article: आने वाले मौसम के मिजाज से कोरोना कम होगा या बढ़ेगा?

Share

 

 

अक्षत सरोत्री

 

कोरोना वायरस के मामले में तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। इसी बीच कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि जैसे ही ठण्ड बढेगी कोरोना वायरस भी बढ़ सकता है। कुछ रिसर्च में दावा किया जा रहा है कि ठंड में सर्दी जुकाम होने से भी कोरोना वायरस के फैलने की आशंका बहुत ज्यादा हो सकती है। एमआईटी की रिसर्च में ये भी कहा गया है कि भारत, पाकिस्तान, इंडोनेशिया और अफ्रीकी देशों में कोरोना के मामले ठंड के मौसम के कारण ही मामले बढ़ सकते हैं। कोरोना वायरस और तापमान के कनेक्शन को अभी डॉक्टरों ने पूरी तरह सच नहीं माना है। लेकिन डॉक्टर इस बात को ज़रूर मानते हैं कि तेज या कम तापमान के कारण कोरोना का वायरस किसी निर्जीव सतह से जल्दी खत्म हो भी सकता है और बढ़ भी।

 

गर्मी के मौसम में भी किया गया था कम होने का दावा

 

 

 

मौसम और तापमान से कोरोना को रोकने की सच्चाई का वैज्ञानिक प्रमाण अभी तक नहीं है। ऐसे में आपके लिए जरूरी है कि आप पूरी तरफ से पूरी सावधानी बरतें और घरों में ही रहें, ताकि कोरोना वायरस आप तक किसी भी हालत में न पहुंच सके। ऐसी बहुत सी बीमारियां हैं जो मौसम बदलते समय सिर उठाती हैं। जैसे ही मौसम स्थिर होता है, वो ख़त्म हो जाती हैं। मौसमी बुख़ार इसकी सबसे आम मिसाल है। इसी तरह टायफ़ाइड या ख़सरा अक्सर गर्मी के मौसम में सिर उठाती है। मैदानी इलाक़ों में ख़सरा अक्सर गर्मी के मौसम में पैर फैलाता है जबकि, उष्णकटिबंधीय इलाक़ों में ये बीमारी सूखे मौसम में सबसे ज़्यादा फैलती है। कोविड-19 वायरस सबसे पहले चीन में दिसंबर महीने में फैलना शुरू हुआ था। और तभी से ये वायरस लगातार फैल रहा है।

 

यूरोप में बरपा चूका है कहर

 

 

अमरीका और यूरोप के देशों में भी इसने क़हर बरपाया हुआ है। अभी तक देखा गया है कि ठंडे इलाक़ों में ये काफ़ी तेज़ी से फैल रहा है। वहीं जिन इलाक़ों में अभी थोड़ा सर्द और थोड़ा गर्म मौसम है वहां इसकी रफ़्तार धीमी है। लिहाज़ा माना जा रहा है कि गर्मी का मौसम शुरू होने के साथ ये वायरस ख़त्म हो जाएगा। हालांकि बहुत से जानकार, अभी भी इस बात से सहमत नहीं हैं। वैसे अगले कुछ दिनों में देश का तापमान बढ़ेगा। देश में 15 अप्रैल तक उत्तर भारत में तापमान 40 डिग्री तक पहुंचने की उम्मीद मौसम विभाग ने जताई है। लेकिन हमारी कोशिश है और भगवान से यह दुआ भी है कि जल्द से जल्द कोरोना कम हो जाए और हमें इससे मुक्ति मिल जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *