बिहार में विधानसभा चुनाव: गरमाया शराबबंदी का मुद्दा

Share

(अक्षत सरोत्री)

बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों का ने शराबबंदी के मुद्दा उठाकर माहौल को गरमा दिया है। विपक्षियों ने इस मुद्दे को पकड़ कर अब मतदाताओं को रिझाने चला है। इसी कड़ी में एक विपक्ष के प्रत्याशी भी इस शराबबंदी के मुद्दे को जकड़ कर पकड़ लिया है। अब मधुबनी जिले में भी शराबबंदी कानून को लेकर विरोध प्रदर्शन होना शुरू हो गया है। मधुबनी जिले के खजौली विधानसभा सीट से जाप के प्रत्याशी बृज किशोर यादव ने प्रचार प्रसार के दौरान मढ़िया पंचायत पहुंचा। जहां इस मढ़िया पंचायत राजद विधायक सीताराम यादव का घर है। जब हमारे संवाददाता ने शराबबंदी कानून मुद्दे को लेकर सवाल किया तो उसने भी बताया कि नीतीश कुमार के शराबबंदी कानून फ्लोवर है।

शांति व्यवस्था हेतु पुलिस एवं अर्धसैनिक बलों की हुई बैठक

चुनाव मे शांति व्यवस्था कायम रहे इसके लिए मुंगेर डीआईजी मनु महाराज ने झाझा एसडीपीओ कार्यालय मे सभी पुलिस पदाधिकारी एवं अर्धसैनिक बलो के वरीय पदाधिकारी के साथ की बैठक। बैठक के दौरान एसपी पीके मंडल, एएसपी अभियान सुंधाशु कुमार, झाझा एसडीपीओ सतीश चंद्र मिश्रा सहित झाझा,सोनो सहित पुलिस अनुमंडल क्षेत्र मे आने वाले सभी थाना के थानाध्यक्ष उपस्थित हुये। बैठक के दौरान डीआइजी मनु महाराज ने झाझा, सिमुलतला, चकाई थानाक्षेत्र से सटे सीमावर्ती क्षेत्र का भौगौलिक स्थितियो का जायजा लिया।

नक्सलप्रभावित क्षेत्रों पर राखी जायेगी नजर

नक्सलप्रभावित क्षेत्रो मे कितने मतदान केंद्र आते है इनसभी चीजो की जानकारी मौजूद पुलिस के वरीय पदाधिकारी से ली| चुनाव मे किसी भी तरह की कोई दखल अंदाजी न हो इसका भी खास ध्यान रखा जायेगा। इस दौरान डीआइजी ने सभी मौजूद पुलिस तथा अर्धसैनिक बलो के पदाधिकारियो को कहा कि चुनाव को शांतिपूर्ण संपन्न करना हमलोगो की सबसे बड़ी चुनौती है। कार्य के दौरान किसी भी प्रकार की कोई लापरवाही न करे। डीआइजी बताया कि मतदाता भयमुक्त होकर मतदान करने के लिये जाये। वही नक्सलप्रभावित क्षेत्रो मे लोग मतदान के दिन न घबराये क्योकि पुलिस, अर्धसैनिक बल चप्पे चप्पे पर मुस्तैद रहेगे। उन्होने बताया कि चुनाव को लेकर पुलिस प्रशासन की ओर से सभी तरह की तैयारी पूरी कर ली गयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *