किसान आंदोलन की लड़ाई ट्वीट पर आई, अब महाराष्ट्र सरकार करेगी कार्रवाई

farmers protest

 

 

-अक्षत सरोत्री

 

जबसे किसान आंदोलन (farmers protest) चल रहा है कई मोड़ आ चुके हैं। कुछ सेलिब्रिटी आंदोलन के पक्ष में हैं तो कुछ लोग इसके खिलाफ हैं। ऐसा ही मामला महाराष्ट्र में सामने आया है जहाँ कांग्रेस की शिकायत के बाद उद्धव सरकार ने सचिन तेंदुलकर और लता मंगेशकर के ट्वीटों की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। अब आप यह मान कर चलिए महाराष्ट्र में जो भी सरकार के खिलाफ बोलेगा या आवाज उठाएगा उस पर कार्रवाई पक्की है। क्योंकि अगर सोशल मीडिया पर आपका पक्ष सरकार के खिलाफ है तो सरकार आपको रडार पर ले लेगी और फिर कानून भी कार्रवाई करेगा।

 

पाकिस्तान की जीडीपी सबसे ज्यादा खराब, हर नागरिक है कर्जदार

 

इन सेलिब्रिटी पर यह लगे हैं आरोप

 

 

महाराष्ट्र कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि (farmers protest) इंटरनेशनल पॉप सिंगर रिआना के ट्वीट के बाद सचिन तेंदुलकर, लता मंगेशकर, विराट कोहली और अक्षय कुमार समेत कई भारतीय सितारों ने ट्वीट किए, जिनमें कई शब्द कॉमन थे। कांग्रेस के कहना था कि इन सभी सितारों ने दबाव में ट्वीट किए थे, इसलिए इसकी जांच होनी चाहिए। इसके बाद महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने जांच के आदेश दिए हैं।

 

उत्तराखंड त्रासदी: अभी भी दूसरी सुरंग में फंसे हैं 35 लोग, रेस्क्यू जारी

 

 

यह पूरा मामला

 

बता दें कि इंटरनेशनल पॉप स्टार रिआना ने किसानों के प्रदर्शन (farmers protest) को लेकर ट्वीट किया था और कहा था कि हम इस पर बात क्यों नहीं कर रहे हैं। इसके बाद पर्यावरण एक्टिविस्ट ग्रेटा थनबर्ग और मिया खलीफा समेत कई अंतरराष्ट्रीय सितारों ने किसान आंदोलन के समर्थन में ट्वीट किया और भारत की छवि खराब करने की कोशिश की। इसके बाद सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली, लता मंगेशकर और अक्षय कुमार सहित देश की विभिन्न हस्तियों ने सोशल मीडिया पर इसका विरोध किया और ‘हैशटैग इंडिया टुगेदर’ और ‘हैशटैग इंडिया अगेन्स्ड प्रोपेगैंडा’ के साथ ट्वीट किया। सभी हस्तियों ने सरकार के रुख के समर्थन में ट्वीट किया और किसान आंदोलन को भारत का आंतरिक मामला बताया था।

 

PM मोदी का किसानों को बातचीत का न्योता कहा MSP था, है और रहेगा

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *