रिद्धिमान साहा को ‘धमकी देने के लिए BCCI ने पत्रकार बोरिया मजूमदार पर 2 साल का बैन लगाया

Journalist Boria Majumdar
Journalist Boria Majumdar

Journalist Boria Majumdar : भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने पत्रकार बोरिया मजूमदार पर भारत के विकेटकीपर-बल्लेबाज रिद्धिमान साहा को ‘धमकी देने और डराने वाले संदेश’ देने के आरोप में 2 साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया है। बीसीसीआई ने अंतरिम सीईओ हेमांग अमीन द्वारा संबोधित एक आंतरिक पत्र में सभी राज्य इकाइयों को प्रतिबंध के बारे में सूचित किया।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड के तीन दिवसीय दौरे पर मां से मिलने पैतृक गांव पहुंचे सीएम योगी, पैर छूकर लिया आशीर्वाद

रिद्धिमान साहा के आरोपों की जांच के लिए भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने 3 सदस्यीय समिति का गठन किया, जिसमें उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला, कोषाध्यक्ष अरुण धूमल और पार्षद प्रभातेज सिंह भाटिया शामिल थे, जिन्होंने दावा किया था कि उन्हें एक पत्रकार द्वारा धमकाया गया था। एक साक्षात्कार के लिए सहमत होने से इनकार करने के बाद। विशेष रूप से, 3 सदस्यीय समिति ने बीसीसीआई एपेक्स काउंसिल को 2 साल के प्रतिबंध की सिफारिश करने से पहले साहा और बोरिया मजूमदार दोनों से सुना।

यह भी पढ़ें: भारत को यूरोपीय संघ के साथ मुक्त व्यापार समझौता वार्ता के शीघ्र निष्कर्ष की उम्मीद: PM Modi

पिछले महीने हुए पेश : Journalist Boria Majumdar

कुछ समय से टेस्ट टीम से बाहर चल रहे 37 वर्षीय साहा पिछले महीने समिति के सामने पेश हुए थे. इस दौरान पत्रकार मजमूदार भी समिति के सामने पेश हुए थे. इस दौरान साहा ने आरोप बोरिया मजूमदार पर आरोप लगाते हुए कहा था कि उन्होंने इंटरव्यू ना देने पर उन्हें धमकाया था.

यह भी पढ़ें: ताजा हिंसा के बाद जोधपुर के 10 इलाकों में कर्फ्यू, गहलोत ने शीर्ष अधिकारियों को भेजा

ट्वीट कर के किया था खुलासा

23 फरवरी को साहा ने कई ट्वीट किये थे. इस दौरान उन्होंने बताया कि एक स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट ने उन्हें इंटरव्यू न देने की वजह से धमकाया है. जिसके बाद सहवाग, हरभजन जैसे खिलाड़ियों का उन्हें समर्थन मिला था. हालांकि इस दौरान उन्होंने स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट का नाम उजागर नहीं किया था. बाद में बीसीसीआई के हस्ताक्षेप करने के बाद ही उन्होंने नाम उजागर किया था. जिसमें बोरिया मजूमदार का नाम सामने आया था. हालांकि इस दौरान बोरिया ने अअपने ऊपर लगे सभी आरोपों को ख़ारिज किया था और कहा था कि वो साहा के ऊपर मानहानि का दावा करेंगे।

यह भी पढ़ें : भाषा कोई भी हो, हमारी संस्कृति भारतीय है: डेनमार्क में बोले पीएम मोदी