Babri masjid case : जानिए फैसले से पहले क्या कह रहे हैं सभी आरोपी, आडवाणी, जोशी, उमा फैसले के वक्त नहीं होंगे मौजूद

Spread the love

रवि श्रीवास्तव 

तकरीबन 28 साल बाद बाबरी विध्वंश मामले में फैसला आने वाला है।लखनऊ की विशेष सीबीआई अदालत इस मामले में बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, और उमा भारती समेत कुल 5 बड़े आरोपियों को लेकर फैसला सुनाएगी

12 जून को बजरंग दल के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और मध्य प्रदेश बीजेपी के कद्दावर नेता जयभान सिंह पवैया के अंतिम बयान दर्ज किए गए थे. ग्वालियर से लखनऊ पहुंचे जयभान सिंह पवैया ने सीबीआई कोर्ट में अपने बयान दर्ज कराए थे. 5 घंटे तक चली कार्यवाही के दौरान उनसे कुल 1050 सवाल किए गए थे. इनमें कुछ सवाल प्रश्नावली के तहत पूछे गए. जबकि कुछ सवाल जज की ओर से पूछे गए थे. जयभान सिंह पवैया ने इन सभी 1050 सवालों के जवाब दिए थे.

आडवाणी, जोशी, उमा फैसले के वक्त नहीं होंगे मौजूद

लालकृष्ण आडवाणी की उम्र 92 साल है। उम्र अधिक होने के कारण वह ठीक से चलने-फिरने में असमर्थ हैं। उनका स्वास्थ्य भी ठीक नहीं है। आरोपी उमा भारती कोरोना संक्रमित हैं, जोशी की उम्र भी बहुत ज्यादा है वह भी कोर्ट में नहीं आ सकते हैं। एक अन्य आरोपी रामचंद्र खत्री हरियाणा के सोनीपत की जेल में एक दूसरे केस को लेकर बंद हैं, जिसके कारण उनकी भी उपस्थिति कोर्ट में नहीं हो सकती है।

फैसले से कल्याण सिंह का बयान 

फैसले से ठीक पहले यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और  आरोपी कल्याण सिंह ने कहा जो फैसला आएगा वह स्वीकार होगा। यह करोर्ड़ों हिंदुओं की भावना का सवाल है। इसको देखते हुए कोई भी बलिदान देने के लिए तैयार हूं। श्रीराम के लिए जो भी हमारी तरफ से हुआ, मैं उसे अब भी कम समझता हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *