बिहार में 339 दिन बाद खुले छठी से आठवीं तक के स्कूल….स्कूलों में नहीं दिखी पहले जैसी चहल-कदमी

रवि श्रीवास्तव

 

बिहार में आखिरकार सरकार ने छोटी कक्षाओं के लिए स्कूल  खोल दिए हैं…आज करीब 339 दिन बाद बिहार के स्कूलों में छठी से आठवीं तक की कक्षाएं सोमवार से शुरू हो गईं हैं..इसी के साथ करीब 8 हजार सरकारी और 25 हजार प्राइवेट स्कूलों में छठी से ऊपर की पढ़ाई शुरू हुई है

 

 

पहले जैसी चहल-कदमी नहीं दिखी

 

कोरोना काल की वजह से ज्यादातर अभिभावकों ने अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजा। यही वजह है कि स्कूलों में पहले जैसी चहल-कदमी नहीं देखने को मिली। इसके पीछे एक वजह ये भी रही कि छात्रों को अपने अभिभावकों से सहमति पत्र लिखवा कर लाना है। लेकिन कई छात्र बगैर सहपति पत्र के आ गए। जिसके बाद उन्हें इंट्री नहीं दी गई।

 

केवल 50 फीसदी छात्रों को ही इजाजत 

बिहार सरकार की तरफ से जारी सर्कुलेशन के मुताबिक किसी  भी क्लास में केवल 50 फीसदी छात्रों की ही  उपस्थिति रहेगी, इसमें बचे हुए50 फीसदी हाजिरी दूसरे दिन रहेगी। इससे पहले आठवीं से ऊपर तक के स्कूल खुले थे। पहले दिन पटना में स्कूल तो खुले, लेकिन उपस्थिति ज्यादा नहीं दिख रही है

 

गौरतलब है कि 4 जनवरी से 18 लाख छात्रों को स्कूल जाने की इजाजत मिल चुकी है,आज से खुले मिडिल स्कूलों के बाद 12 लाख और छात्रों का इसमें इजाफा हो गया है। इस तरह कुल 30 लाख बच्चों की पढ़ाई शुरू हो गई है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *