दिल्ली में भी बर्ड फ्लू फैलने की आशंका, मयूर विहार पार्क में मिले 100 मृत कौवे

Bird flu

 

 

-अक्षत सरोत्री

 

 

बर्ड फ्लू (Bird flu) की खबरें आने से और कई पक्षियों की मौत से इस समय पूरा उत्तर भारत परेशान है। हिमाचल, राजस्थान, गुजरात में कई पक्षियों की मौत के मामले सामने आ रहे थे। लेकिन अब तक कोई मामला दिल्ली में नहीं आया था। लेकिन अब दिल्ली के मयूर विहार स्थित सेंट्रल पार्क में कौवों की मौत की खबर से हडकंप मचा है। स्थानीय केयर टेकर टिंकू चौधरी ने अंदेशा जताया है कि इनकी मौत बर्ड फ्लू के कारण ही हुई है।

 

 

CSD CANTEEN: केंद्र मंत्री राजनाथ सिंह ने AFD की वस्तुओं की खरीद के लिए CSD ऑनलाइन पोर्टल किया लॉन्च

 

 

दो डॉक्टरों की टीम पहुंची पार्क

 

 

 

केयर टेकर टिंकू चौधरी ने कहा कि दिल्ली सरकार (Bird flu) के डॉक्टरों की दो टीम मुआयना करने पहुंची थी। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो में मामला मयूर विहार फेज-3 में वार्ड नंबर 6 का बताया गया है। वीडियो में रोजाना 40-45 कौवे के मरने की बात कही गई है। वीडियो में दो कर्मचारी मरे हुए कौवों को उठाकर एक जगह एकत्रित कर रहे हैं। इससे पहले देश के अनेक राज्‍यों में तेजी से फैलते बर्ड फ्लू को देखते हुए केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों को बर्ड फ्लू फैलने के खिलाफ चेतावनी जारी की है।

 

मुंबई को पीओके बताने के ट्वीट पर कंगना की बांद्रा पुलिस स्टेशन में पेशी

 

 

इससे पहले केरल में आए थे मामले

 

 

केरल में बड़ी संख्या में पक्षियों के एच-5 एन-8 वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद (Bird flu) बर्ड फ्लू को राज्य आपदा घोषित कर दिया गया है। ये वायरस अलप्पुझा और कोट्टायम जिले में मिला है। राजस्‍थान में पिछले 24 घंटों के दौरान दस और जिलों में बर्डफ्लू के मामले सामने आए हैं। अब तक राज्‍य के 18 जिलों में पक्षियों की मौत के मामले देखे जा चुके हैं।

 

 

 

हिमाचल के काँगड़ा में मृत पाए गए थे विदेशी पक्षी

 

 

 

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में हाल ही में पोंग बांध में मृत पाये गए दो हजार तीन सौ से अधिक प्रवासी पक्षी बर्ड फ्लू से संक्रमित पाए गए हैं। मध्य प्रदेश के इंदौर में अगार- मालवा और मंदसौर जिलों में मृत कौवों में एच-5 एन-8 वायरस पाया गया है। पशुपालन विभाग राज्य में पहले ही बर्ड फ्लू की चेतावनी जारी कर चुका है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *