मुख्यमंत्री ने ‘वार मेमोरियल’ और ‘हरियाणा भवन’ के निर्माण को लेकर बुलाई बैठक

Manoharlal Khattar

-चंद्रशेखर पुनिया

 

हरियाणा के मुख्यमंत्री (Chief Minister) मनोहर लाल (Manoharlal Khattar) ने वीरवार को वार मेमोरियल तथा गुजरात में ‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’ के पास ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत कॉम्पलेक्स’ में बनाए जा रहे ‘हरियाणा भवन’ (Haryana bhawan) के बारे में बुलाई गई एक बैठक की अध्यक्षता की। गृह मंत्री अनिल विज भी बैठक में उपस्थित रहे। बैठक में बताया गया कि अम्बाला में 22 एकड़ भूमि पर बनाए जा रहे इस वार मेमोरियल का निर्माण कार्य 31 मार्च, 2022 तक पूरा होने की संभावना है।

 

 

मुख्यमंत्री (Manoharlal Khattar) की अध्यक्षता वाली इस बैठक में बताया गया कि इस युद्ध स्मारक में एक ओपन एयर थियेटर होगा के अलावा एग्जीबिशन हॉल, फूड कोर्ट, रिहर्सल रूम आदि होंगे। यहां पर एक इंटरप्रीटेशन सेंटर भी बनाया जाएगा जहां वीआईपी लॉन्ज एवं कॉफ्रेंस रूम, वार मेमोरियल ओरियंटेशन रूम, दुकानें आदि होंगे। यहां पर 11 हजार वर्ग मीटर में एक म्यूजियम भी बनाया जाएगा। इसके अलावा, ऑडिटोरियम, वाटर बॉडी और मेमोरियल टावर भी होंगे। इस दौरान बताया गया कि राष्ट्रीय राजमार्ग पर होने के चलते इस स्मारक में बड़ी संख्या में पर्यटक आएंगे जिससे सरकार के राजस्व में बढ़ोतरी होगी।

 

हरियाणा में निकाय चुनाव की तारीखों की घोषणा, 27 दिसंबर को मतदान

 

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने संबंधित अधिकारियों और पक्षों को इस वार मेमोरियल में राखी गढ़ी को भी शामिल करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अम्बाला में बनने वाला म्यूजियम प्रथम स्वतंत्रता संग्राम की पूरी कहानी बयान करेगा। इसमें अम्बाला, मेरठ और दिल्ली समेत क्रांति के प्रमुख स्थानों तथा झांसी की रानी लक्ष्मीबाई, तांत्या टोपे और बहादुरशाह जफर जैसे वीरों के शौर्य को भी दर्शाया जाएगा। यहां पर आजादी की लड़ाई के प्रतीक कमल और चपाती को भी दर्शाया जाएगा।

 

CM अमरिंदर सिंह के पास इस बिल को रोकने के लिए कई मौके आए: CM केजरीवाल

 

इसी तरह, गुजरात में नर्मदा नदी के किनारे पर ‘स्टेच्यू ऑफ यूनिटी’ के निकट लगभग 28 एकड़ भूमि में स्थापित किए जा रहे ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत कॉम्पलेक्स’ में हरियाणा सरकार द्वारा बनाए जा रहे राज्य भवन की वास्तुकला कुछ इस तरह की होगी जिससे कि दर्शक को दूर से पता लग जाएगा कि यह बिल्डिंग हरियाणा की है। इस भवन की दीवारों पर गीता के श्लोक उकेरे जाएंगे। धर्मक्षेत्र कुरुक्षेत्र का संबंध द्वारिका से भी दर्शाया जाएगा। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ने पहली जनवरी, 2019 को इस ‘हरियाणा भवन’ की आधारशिला रखी थी।

 

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *