चीन ने पाकिस्तानियों को नौकरी से निकाला, अपने 9 लोगों की मौत से गुस्से में ड्रैगन

 

पाकिस्तान के आका चीन ने इमरान खान को बड़ा झटका दिया है. 9 लोगों की मौत से नाराज चीन ने सीपैक के काम पर रोक लगा दी है। इतना ही नहीं चीन ने पाकिस्तान के मजदूरों को भी काम से निकाल दिया है. और धमकी भी दी है की जरुरत पड़ी तो चीन मिसाइलों से पाकिस्तान पर हमला करेगा.

 

पाकिस्तान औऱ चीन के रिश्तों में तल्खी देखने को मिल रही है,जबसे पाकिस्तान में चीन की मजदूरों की आतंकियो ने हत्या है उसी दिन से ड्रैगन पाकिस्तान के उपर सख्त हो चुका है। पाकिस्तान में जहां चीन ने अपने जांचदल को भेजा है वहीं अब खबर है की चीन ने सीपैक के काम पर रोक लगा दी है। इतना ही नहीं कई पाकिस्तानी मजदूरों को बाहर का रास्ता दिखाने का काम चीन ने किया है. पाकिस्तान के आतंकियों के कारण चीन पाकिस्तान के बीच चल रहा हाइड्रोपावर प्रोजेक्ट भी फिलहाल खटाई में पड़ता दिख रहा है.

 

चीन ने पाकिस्तानियों को नौकरी से निकाला

 

खैबर पख्तुनवा में हुए आतंकी हमले में 9 चीनी नागरिको की मौत हो गई थी. उसी दिन से चीन ने पाकिस्तान को कडा संदेश दिया था। चीन ने महत्वकांक्षी बेल्ट एंड रोड प्रोजेक्ट पर काम को लेकर गठित उच्च स्तरीय समितियों की बैठकों को स्थगित कर दिया है. इसके अलावा अरबों डॉलर की लागत से बन रहा हाइड्रोपावर प्रोजेक्ट भी फिलहाल खटाई में पड़ता दिख रहा है. चीन अपने नागरिकों की सुरक्षा के लिए भी पाकिस्तान को फंड देता है, लेकिन इसके बावजूद हमले में उसके इंजीनियरों की मौत से वो बौखला गया है.

 

चीन के इंजनियर के हाथ में AK 47

 

पाकिस्तान से नाराज चीन ने तो यहां तक बोल दिया था की अगर जरुरत पडी तो वो पाकिस्तान के उपर अपनी मिसाइलों से हमला कर सकता है. ड्रैगन की इस धमकी के बाद से पाकिस्तान की हवा निकल गई थी औऱ उसने जांच की बात कही थी.मगर अब पाकिस्तान में हालात एसे हैं की चीन वहां काम करने वाले इंजनियर अपने साथ एक के 47 लेकर काम कर रहे हैं ताकी अगर आतंकी हमला होता है तो वो आतंकियों को जवाब दे सकें.

 

पाकिस्‍तान में काम कर रहे चीनी नागरिक बस हमले के बाद इतना डर गए हैं कि खुद ही AK-47 राइफल लेकर चल रहे हैं. चीन अपने शिंजियांग प्रांत को पाकिस्‍तान के ग्‍वादर बंदरगाह से जोड़ने के लिए 60 अरब डॉलर से ज्‍यादा का निवेश कर रहा है. पाकिस्‍तानी सेना अशांत बलूचिस्‍तान में चीनी कामगारों को सुरक्षा देती है लेकिन बस हमले के बाद उसकी पोल खुल गई है। अब चीनी नागरिक पाकिस्‍तानी विद्रोहियों से खुद ही अपनी सुरक्षा करने के लिए असॉल्‍ट राइफल लेकर चल रहे हैं.

 

दरअसल चीन को शुरु से इस बात का डर सताता रहाहै की वो पाकिस्तान में निवेश कर रहा है. मगर उसके आतंकियो से इस निवेश का बचाना आसान नहीं होगा.और अब यह सच साबित होने लगा है.पाकिस्तान के पाले आतंकी चीन के लिए सबसे बड़ा सिरदर्द बन चुके हैं. वो चीनी नागरिको की हत्या भी कर रहे हैं साथ ही साथ चीनियो मशीनो को भी निशाना बनाया जा रहा है। चीन के लिए पाकिस्तान के ब्लूच विद्रीही सबसे बड़ा खतरा बने हुए हैं क्योंकी चीन ने दावा किया था की वो स्थानीय लोगों को काम देगा.मगर हुआ उल्टा.सारे अच्छे काम सीपैक में चीन ने अपने इंजनियरो को दे रखे हैं..जिससे पाकिस्तान में काफी ज्यादा नाराजगी है.

 

https://jk24x7news.tv/navjot-singh-sidhu-says-today-i-become-head-of-all-punjab-congress-workers/

Share