चीन ने जापान को दी हमले की धमकी!

 

भारत ताइवान औऱ फिलिपींस के बाद अब चीन ने जापान को धमकी दी है.धमकी भी जंग की नहीं.धमकी पमराणु बम हमले की है..चीन ने कहा है की अगर जापान ने ताइवान के साथ हाथ मिलाया तो तब तक परमाणु हमले किए जाएंगे.जब तक जापान सरेंडर नहीं कर देता.

 

जापान पर परमाणु हमला करने की धमकी!

 

वीओ चीन दुनिया के लिए नई परेशानी बन चुका है..पहले चीन ने भारत के साथ विवाद को खड़ा किया फिर चीन ने ताइवान को धमकी दी..उसके बाद फिलीपींस को धमकाने का काम भी चीन ने किया. मगर अब चीन ने उस देश से पंगा लिया है जो देश चीन को जंग में दो बार मात दे चुका है और आज भी उस देश के नाम से चीन के नागरिक खौफ खाते हैं. हालात एसे है की चीन में आज भी उस देश के अत्याचारों का पाठ पढाया जाता है। उस देश का नाम है जापान.

 

ताइवान की मदद करना पड़ेगा जापान को भारी

 

इतिहास इस बात का गबाह हैकी जब जब चीन और जापान के बीच जंग हुई है जापान की जीत हुई है और चीन की हार हुई है.चीन अभी तक किसी भी जंग में जीत हासिल नही कर पाया है। मगर चीन इन हारों का बदला लेने का प्लान तैयार कर लिया है। और चीन ने बदला लेने के लिए परमाणु हमले को चुना है.चीन की कम्युनिस्ट पार्टी सीसीपी ने एक वीडियो जारी किया है, इस वीडियो के जरिए जापान पर परमाणु हमले की धमकी दी गई है। कहा गया है कि अगर जापान ने ताइवान की मदद की तो वो परमाणु बम से हमला कर देगा.

 

चीन के द्वारा जारी इस वीडियो में कहा गया है कि ‘हम सबसे पहले जापान पर परमाणु बम का इस्तेमाल करेंगे। हम लगातार परमाणु बम का इस्तेमाल करते रहेंगे.’ वीडियो में आगे यह भी कहा गया है कि ‘हम यह तब तक करते रहेंगे जब तक कि जापान बिना किसी शर्त के आत्मसमर्पण ना कर दे.’ चीन के इस वीडियो को सामने लाने का काम ताइवान ने किया है.ताइवान ने कहा है की चीन की सीसीपी पार्टी द्वारा जारी वीडियो को कई लोग देख चुके थे.मगर जापान के पलटबार के डर से चीनने बाद में इस वीडियो को डिलिट कर दिया.

 

चीन जापान में 1894-95 में हुआ था पहला युद्ध

 

चीन जापान के बीच का इतिहास दुश्मनी का रहा है. चीन जापान से आकार में काफी ज्यादा बड़ा है मगर हर जंग में चीन को जापान से मुंह की खानी पड़ी थी। चीन-जापान युद्ध 1894-95 के दौरान चीन और जापान के मध्य कोरिया पर प्रशासनिक तथा सैन्य नियंत्रण को लेकर लड़ा गया था। वहीं दूसरे विश्व युद्ध में चीन जापान का टकराव हुआ था वहीं भी चीन को मुह की खानी पडे़गी.

 

चीन की तरफ से परमाणु हमले की यह धमकी तब दी गई है जब अभी दो हफ्ते पहले ही जापान ने ताइवान की संप्रभुता की रक्षा किये जाने की बात कही थी। जापान के उप प्रधानमंत्री Taro Aso ने कहा था कि जापान को निश्चित तौर से ताइवान की रक्षा करनी चाहिए। उन्होंने आगे कहा था कि ‘अगर ताइवान में बड़ी घटना घटती है तो यह मानने में असामान्‍य बात नहीं होगी कि यह जापान के अस्तित्‍व के लिए खतरा बन जाएगा।’ उन्‍होंने कहा था कि ऐसी स्थिति में जापान और अमेरिका को मिलकर ताइवान की रक्षा के लिए काम करना होगा.

 

https://jk24x7news.tv/weather-update-today-chance-of-heavy-rain-in-many-states-of-the-country-including-delhi-up-bihar-today-red-alert-in-maharashtra/

Share