देश के 15 Power Plants में एक दिन का भी रिजर्व कोयला नहीं बचा, रोज़ाना हो रही आपूर्ति से चला रहे काम

 

देश के कई विद्युत उत्पादन संयंत्रों के लिए आज वो कहावत शब्दशः सही साबित हो रही है – रोज़ कुआं खोदो और पानी पीओ . ऐसा इसलिए क्योंकि इन संयंत्रों के पास एक दिन का भी रिजर्व कोयला नहीं बचा है. इनका काम रोज़ाना हो रही कोयले की आपूर्ति से ही चल पा रहा है .

 

15 Power Plants में एक दिन का भी रिजर्व कोयला नहीं

 

केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण के वेबसाइट पर दिए आंकड़ों से इन संयंत्रों में कोयले की कमी का अंदाज़ा लगाया जा सकता है. वेबसाइट पर उपलब्ध 11 अक्टूबर तक के आंकड़ों के मुताबिक़, देश के 15 विद्युत उत्पादन संयंत्रों में एक दिन का भी रिजर्व कोयला नहीं बचा है. इनमें उत्तर प्रदेश और हरियाणा के 3-3 जबकि महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल के 2-2 संयंत्र शामिल हैं.

 

राजस्थान , छत्तीसगढ़ , मध्यप्रदेश , तमिलनाडु और झारखंड के 1 – 1 संयंत्र भी कोयले की इस कमी से जूझ रहे हैं. इसका मतलब ये हुआ कि अगर इन संयंत्रों में एक दिन भी कोयले की आपूर्ति में रुकावट या कमी आयी तो इनमें उत्पादन बंद हो जाएगा

 

-आयुषी प्रधान

Share