भूलकर भी कोल्ड ड्रिंक की खाली बोतन में रखा पानी न पीएं , हो सकती हैं कई बिमारियां!

करिश्मा राय

 

भारत एक ऐसा देश है जहां ज्यादातर काम जुगाड़ से चलता है. यहां के लोग किसी भी चीज को बेकार नहीं जाने देते हैं और उसके इस्तेमाल का अलग-अलग तरीका निकाल ही लेते हैं. हालांकि कभी-कभी यही जुगाड़तंत्र लोगों की सेहत के लिए हानिकारक भी साबित हो सकता है. ऐसा ही एक उदाहरण है कोल्ड ड्रिंक की खाली बोतल. जी हां जैसा कि आप जानते हैं कि हमारे देश में गर्मियां आते ही लोग कोल्ड ड्रिंक की खाली बोतल को पानी की बोतल के तौर पर इस्तमाल करते हैं जो सेहत के लिए काफी हानिकारक हो सकता है.

 

दरअसल मिनरल वॉटर या कोल्ड ड्रिंक की बोतल सिर्फ वन टाइम यूज करने के लिए होती है. एक बार इस्तेमाल करने के बाद इसे क्रश करके फेंक देना चाहिए. अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो ये आपकी सेहत पर बुरा असर डाल सकते हैं. प्लास्टिक की बोतल में पानी रखने से इसमें fluoride और arsenic जैसे कई तत्व पैदा हो जाते हैं. ये तत्व धीरे धीरे अपना असर दिखाते हैं और शरीर को काफी नुकसानदायक पहुंचाते हैं.

 

इसके अलावा जो लोग प्लास्टिक की बोतल में पानी भर कर कार में रख लेते हैं उनके लिए ये आदत और भी ज्यादा घातक साबित हो सकती है. आप चाहें तो प्लास्टिक की बोतल में गर्म पानी डाल कर इसे चेक भी कर सकते हैं. क्योंकि प्लास्टिक की बोतल में गर्म पानी डालने पर प्लास्टिक पिघलने लगता है. ठीक वैसे ही कार में रखी बोतल सूरज की रोशनी से गर्म हो जाती है जिससे डायॉक्सिन पैदा होते हैं. वहीं कई रिसर्च से ये बात सामने आई है कि प्लास्टिक की बोतल में रखे पानी को पीने से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है. साथ ही इससे ब्रेस्ट कैंसर का भी खतरा होता है.

Share