धारावाहिक रामायण का पुनः हो प्रसारण : नरेंद्र नाथ

Spread the love

-प्रणय शर्मा, संवाददाता

 

हर साल बड़े स्तर पर देशभर में रामलीला का मंचन किया जाता है। देश की राजधानी दिल्ली भी इससे अछूती नहीं है। दिल्ली में भी हजारों की तादाद में हर साल रामलीला आयोजित की जाती हैं। लेकिन मौजूदा स्थिति को देखते हुए इस बार रामलीला के मंचन पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। इसी बीच दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉक्टर नरेंद्र नाथ का कहना है कि इस बार अगर रामलीलाओं का मंचन होता है तो उसमें बेहद कम दर्शक पहुंचेंगे, जो उत्साह पहले देखने को मिलता था वह इस बार नहीं देखने को मिलेगा। यही वजह है कि उन्होंने प्रधानमंत्री से अनुरोध किया है कि दूरदर्शन पर एक बार फिर से रामायण का प्रसारण किया जाए ताकि घर बैठे ही बच्चे, बूढ़े और महिलाएं रामलीला और भगवान राम के बारे में जान सकें।

 

डॉक्टर नरेंद्र नाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर नवरात्रि के समय धारावाहिक रामायण को दोबारा प्रसारित करने का आग्रह किया है उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि देश में इस वर्ष कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए रामलीला कमेटियों के द्वारा अगर रामलीला का मंचन होता है तो संक्रमण का खतरा और भी ज्यादा बढ़ जाएगा । वही बच्चे ,बूढ़े और महिलाएं रामलीला देखने नहीं पहुंचेंगे ऐसे में अगर नवरात्रों के समय धारावाहिक रामलीला का पुनः प्रसारण किया जाता है तो घर बैठकर ही एक बार फिर पूरा परिवार राम की लीला देख पाएंगे। साथ ही में इस कदम से कोरोना के संक्रमण को फैलने को भी रोका जा सकेगा ।

 

डॉक्टर नरेंद्र नाथ ने कहा कि भगवान राम के प्रति सभी की आस्था है और मौजूदा समय को देखते हुए यह कदम सभी की भलाई में लिया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *