राम मंदिर का निर्माण जोरों पर, 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले होगा पूरा

 

– कशिश राजपूत

 

 

अयोध्या में राम मंदिर का बहुप्रतीक्षित निर्माण 2024 तक पूरा हो जाएगा। रिपोर्ट्स के मुताबिक, राम जन्मभूमि मंदिर में नींव रखने का काम इस साल अक्टूबर तक पूरा हो जाएगा, जिसके बाद पहली मंजिल का निर्माण शुरू हो जाएगा। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि देश 2024 में लोकसभा चुनाव आयोजित करेगा। राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने कहा है कि दिसंबर माह से दूसरे चरण का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा जिसमें आगामी भव्य मंदिर की संरचना बनाने के लिए पत्थरों को ठीक करना शामिल है |

 

Ram Mandir To Be Built Using Only Domestic Funds, Says Temple Trust

 

ट्रस्ट ने यह भी कहा कि मिर्जापुर के गुलाबी पत्थरों से बेस प्लिंथ पर काम शुरू होगा और ऑर्डर दे दिया गया है। राजस्थान समेत अन्य राज्यों के पत्थरों का भी इस्तेमाल किया जाएगा। राम जन्मभूमि के प्रांगण में पत्थरों को काटकर आकार दिया जाएगा। 400 फीट लंबी और 300 फीट चौड़ी लगभग 50 फीट गहरी नींव में निर्माण सामग्री के 10 इंच मोटे मिश्रण की लगभग 50 परतें बिछाई जाएंगी। राम मंदिर की नींव को मजबूत करने के लिए जमीन में 40 फीट की खुदाई की गई है।

 

Ram temple architecture | Lord Ram's holy abode in Ayodhya to be a 161-feet tall edifice – Know more about the architectural marvel | India News

 

अब साइट पर कंक्रीट की परत बिछाने का काम चल रहा है। अब तक एक के ऊपर एक 4 परतें बिछाई जा चुकी हैं। इन परतों की लंबाई 400 फीट और चौड़ाई 300 फीट है। लगभग 12 इंच मोटी एक परत बिछाई जाती है, उसे बिछाकर रोलर से दबा दिया जाता है। जब यह परत 2 इंच दबा कर 10 इंच रह जाए तो दूसरी परत बिछा दी जाती है।मंदिर निर्माण कार्य पूरा करने के बारे में पूछे जाने पर ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा कि 2024 तक निर्माण कार्य पूरा करने का लक्ष्य है और कोविड पाबंदियों के कारण काम में आई मंदी से निपटने के लिए 18-20 घंटे की दो पालियों में काम चल रहा है |

 

 

 

Share