नोएडा में फिर बढ़ने लगे कोरोना के मामले, सक्रिय मरीजों की संख्या 82 हुई

Coronavirus cases in Delhi
Coronavirus cases in Delhi

 

Haider Ali

नोएडा ज़िलें में एक बार फिर कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है करीब सात महीने बाद एक दिन में 28 कोरोना के पॉजिटिव मरीज़ मिले हैं। बीते सात महीने में इतने कोरोना के मरीज़ नहीं मिले। कोरोना के मरीज़ों की बढ़ती संख्या से तीसरी लहर की आशंका लोगों को सताने लगी है। एक साथ इतने अधिक मामले मिलने से लोग सहम गए हैं। सावधानी हटते ही एक माह में कोरोना के तीसरी लहर की चपेट में जिला की आने आशंका विशेषज्ञ जता रहे हैं।

 

गौरतलब है कि जिले में 11 जून को 28 से अधिक रोगी सामने आए थे। इसके बाद से संक्रमण दर काफी धीमा हो गया था। एक दो मामले मिल रहे थे, लेकिन जिले में दिसंबर में कोरोना वायरस का प्रकोप तेजी से बढ़ा है। मंगलवार को ओमिक्रोन से प्रभावित चार देशों के संक्रमितों समेत 28 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। इनमें चार मरीज अन्य राज्यों से लौटने के बाद पाजिटिव पाए गए हैं अन्य मरीज नोएडा-ग्रेटर नोएडा के ही हैं। वहीं दो मरीज स्वस्थ भी हुए है। अबतक जिले में ओमिक्रोन वैरिएंट की पुष्टि नहीं हुई है। इससे जिले में सक्रिय केस की संख्या बढ़कर 82 पहुंच गई है। वहीं नोएडा लखनऊ को पीछे छोड़कर प्रदेश में सक्रिय संक्रमितों के मामले में पहले स्थान पर पहुंच गया है।

 

गौरतलब है कि दिसंबर का महिना खत्म होने वाला है। और इस पूरे माह में 120 कोरोना के केस अब तक मिल चुके हैं। पिछले मरीजों में जीनोम सिक्वेंसिंग की रिपोर्ट निगेटिव आई थी जबकि कुछ मरीजों की रिपोर्ट अभी आना बाकी है। जिले में कोरोना संक्रमित से अब तक 468 मरीजों की मौत इलाज के दौरान हुई है। स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या 63,010 हो गई है। वहीं कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 63,560 पहुंच गई है। और सक्रिय मरीजों की संख्या 82 है।

 

विदेशों से करीब दस हजार लोग आये गौतम बुध नगर

 

बता दें कि जिले में विदेश से लौटने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है। अब विदेश से लौटने वालों की संख्या दस हजार हो गई है। इनमें 2300 से अधिक हाई रिस्क जोन यानि अत्यधिक जोखिम वाले देशों है। इनमें से 80 फीसद को ट्रैक किया जा चुका है। अबतक 700 से अधिक के सैंपल जांच को लिए गए हैं। अबतक की जांच में 12 संक्रमित मिले हैं। मंगलवार को संक्रमित मिले विदेशी नागरिकों को फिलहाल के लिए होम आइसोलेशन में रखा गया है। जल्द ही इन्हें कोविड अस्पताल में इलाज को भर्ती कराया जाएगा। नोएडा कोविड अस्पताल में वर्तमान में एक संक्रमित भर्ती है। वहीं बाकी मरीजों का इलाज होम आइसोलेशन में चल रहा है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक मंगलवार को नए मिले संक्रमितों में अधिकांश बिना लक्षण वाले है। इसलिए ज्यादातर को अस्पताल में भर्ती करने के बजाए होम आइसोलेट किया गया है। वहीं सीएमओ डा सुनील कुमार शर्मा का कहना है कि संक्रमित मिले मरीजों का इलाज शुरू करा दिया गया है। अभी तक जिले में ओमिक्रोन का एक भी मरीज नहीं मिला है।