नोएडा में कोरोना आउट ऑफ कंट्रोल, 10 हजार एक्टिव मरीज के साथ प्रदेश में सबसे ज्यादा पॉजिटिव

Uttar Pradesh corona update

 

Haider Ali

गौतमबुद्ध नगर जिले में कोरोना के 10 हज़ार से ज्यादा सक्रिय मामले हैं। उत्तर प्रदेश में नोएडा पहला ऐसा जिला है जहां पर कोरोना के 11942 एक्टिव केस हैं। बता दें कि पिछले 24 घंटों में यहां 1813 नए मामले सामने आए हैं। सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 11942 हो गई है। हालांकि इनमें से ज़्यादातर लोगों में माइल्ड सिम्पटम्स है। और ज्यादातर मरीज होम आइसोलेशन में है। राहत की बात यह है कि तीसरी लहर में जिले में अभी तक किसी की मृत्यु नहीं हुई है। वहीं, ओमिक्रॉन का एक मामला ही सामने आया है। वह भी पूरी तरह से स्वस्थ्य हो चुका है।

 

कोरोना की चपेट में जिले के स्वास्थ्य वर्कर भी आने लगे हैं। बता दें कि गौतमबुद्ध नगर जिले में स्वास्थ विभाग के अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर ललित मिश्रा सबसे पहले संक्रमित हुए। एहतियात के तौर पर CMO ने भी कोरोना की जांच कराई तो वह भी पॉजिटिव निकले हैं। हालांकि दोनों में सिम्टम्स माइल्ड हैं। इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग में अबतक 15 स्वास्थ्य कर्मी भी संक्रमित हुए हैं, जिसमें वार्ड नर्स, लैब टेक्नीशियन, डॉक्टर शामिल हैं। इसके अलावा ग्रेटर नोएडा के GIMS में 30 से अधिक शारदा अस्पताल में 40 से करीब , जिला चिकित्सालय के 4 डॉक्टर, एक स्वास्थ्य कर्मी समेत विभिन्न निजी अस्पतालों के 100 से ज्यादा चिकित्सक संक्रमित हो चुके हैं।

गौरतलब है कि बढ़ते कोरोना को देखते हुए लगातार जिला अस्पताल में सैकड़ों की संख्या में लोग टेस्ट कराने पहुंच रहे हैं। ऐसे में संक्रमण का खतरा और भी बढ़ रहा है। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो पा रहा है। ऐसे में संक्रमण दर बढ़ने में कहीं ना कहीं जिला अस्पताल का भी बड़ा योगदान देखने को मिल रहा है। हालांकि स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि जिले में निगरानी समितियां बना दी गई हैं जो कि अपने अपने क्षेत्र में नजर बनाए हुए हैं, लेकिन उसके बावजूद कोरोना आउट ऑफ कंट्रोल है।