Corona side effects :देश में कोरोना के आने के बाद 43 फीसदी आबादी डिप्रेशन का शिकार, जानिए कैसे रखें अपनी सेहत का ख्याल

Spread the love

रवि श्रीवास्तव

दुनिया में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं..हालांकि भारत में अब धीरे-धीरे इसकी रफ्तार कम होना शुरू हो गई है…लेकिन इस बीच WHO की एक रिपोर्ट ने सबकों सकते में डाल दिय है..दरअसल विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, भारत में 7.5 फीसदी आबादी किसी न किसी तरह के मेंटल डिसऑर्डर से जूझ रही है…विश्व स्वास्थ्य संगठन एक तरफ ये भी लगातार कह रहा है कि कोरोनाकाल में मास्क लगाएं और सोशल डिस्टेंसिंग बरकरार रखें…लेकिन अब यही लोगों को मेंटल प्रॉबलम भी दे रहा है

कोरोना दो तरह से दिमाग को नुकसान पहुंचा रहा है। पहला, यह मरीजों में दिमाग तक अपना असर छोड़ रहा है, उनमें सिरदर्द के मामले सामने आ रहे हैं। दूसरा, उन लोगों में तनाव और डिप्रेशन के मामले बढ़ रहे हैं जो संक्रमण से डर रहे हैं, कोरोना के कारण नौकरी जाने से परेशान हैं और महामारी में अकेले पड़ गए हैं।स्मार्ट हेल्थकेयर प्लेटफार्म GOQii की हालिया रिसर्च बताती है, देश में कोरोना के आने के बाद 43 फीसदी आबादी डिप्रेशन से जूझ रही है।एक रिपोर्ट से कई चौंकाने वाले खुलासे भी हुए हैं..जिसमें बताया गया है कि

कोरोना से जुड़े रिसर्च से खुलासा
नाक के जरिए दिमाग तक पहुंचकर अपनी संख्या बढ़ा सकता है कोरोना
मरीज अपना नाम तक नहीं बता पाया
जांच में ब्रेन स्ट्रोक की पुष्टि हुई
संक्रमण के बाद सिरदर्द शुरू हुआ
जांच में दिमागी सूजन कन्फर्म हुई
कोरोना के मरीजों में ब्रेन स्ट्रोक
दिमाग में खून के थक्के जमने के लक्षण भी दिखे

हालांकि कई डॉक्टर्स का मानना है कि मेंटल प्रॉब्लम से खुद भी निपटा जा सकता है.. मेंटल हेल्थ से जुड़ी पेरशानियों ना हो या फिर हो तो उससे कैसे बचे इसके लिए जरूरी है आप कुछ बातों का विशेष ध्यान रखें

मेंटल हेल्थ को दुरुस्त रखने का तरीका
अपनों से बात करना न छोड़े
खुद को किसी ना किसी काम में व्यस्त रखें
अधूरे कामों को निपटाएं, काम संग समय बिताए
हर वक्त घर में बंद रहना भी ठीक नहीं
म्यूजिक सुनें जो मन को सुकून दें
हर वक्त घर में बंद ना रहें

तो कुछ ऐसे टिप्स के जरिए आप कोरोना महामारी और उसके साइडइफैक्ट से बच सकते हैं…और मौजूदा वक्त में मानसिक स्वस्थ्य रहने के लिए ये बेहद जरूरी है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *