पीएसएलवी-सी54 के प्रक्षेपण की उल्टी गिनती शुरू

चेन्नई 25 नवंबर (वार्ता) : श्रीहरिकोटा के शतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र पर शनिवार को प्रक्षेपित होने वाले पीएसएलवी-सी54 की 24 घंटे की उलटी गिनती शुक्रवार को शुरू हो गयी, जिसमें ओशनसैट श्रृंखला में पृथ्वी अवलोकन उपग्रह-06 ईओएस-06 और आठ अन्य नैनो उपग्रह शामिल हैं। इसरो के सूत्रों ने ‘यूनीवार्ता’ को बताया कि शार रेंज पर 11 बजकर 56 मिनट पर 24 घंटे की उलटी गिनती शुरू हुयी। उलटी गिनती के दौरान, प्रणोदक भरने की प्रक्रिया चार चरणों वाले यान में होगी। इसरो के वर्कहॉर्स लॉन्च व्हीकल का एक्सएल संस्करण है।

इसरो अपनी 56वीं उड़ान में ओशनसैट श्रृंखला में अर्थ ऑब्जर्वेशन सैटेलाइट -06 और आठ नैनो उपग्रहों को लेकर शनिवार को पूर्वाह्न 11.56 बजे पहले लॉन्च पैड से प्रक्षेपित करेगा। नैनो-उपग्रह में चार एस्ट्रोकास्ट-2 स्विस उपग्रह, दो थायबोल्ट उपग्रह-थायबोल्ट-1 और थायबोल्ट-2-, पिक्ससेल से आईएनएस-2 भूटानसैट तथा आनंद शामिल हैं। पूरा मिशन लगभग 8,200 सेकेंड (2 घंटे 20 मीटर) तक चलने वाला है। इस दौरान प्राथमिक उपग्रहों और नैनो उपग्रहों को दो अलग-अलग सोलर सनक्रोनस पोलर ऑर्बिट्स (एसएसपीओ) में लॉन्च किया जाएगा। प्रज्वलन और पृथक्करण के सभी चार चरणों के बाद ईओए -06 को 17.22 मिनट की उड़ान अवधि के बाद कक्षा-1 में अलग किया जाएगा। इसके बाद पीएसएलवी-सी54 यान के प्रणोदन बे रिंग में पेश किए गए दो ऑर्बिट चेंज थ्रस्टर्स (ओसीटीएस) का उपयोग करके कक्षा परिवर्तन किया जाएगा।