Login to your account

Username *
Password *
Remember Me
NCR

दिल्ली में प्रदूषण को देखते हुए EPCA ने बैन किया डीजल जनरेटर का प्रयोग, 15 मार्च 2020 तक रहेगा लागू

By Saurabh Singh October 15, 2019

दिल्ली में हाल ही में लगातार बढ़ रहे प्रदूषण को देखते हुए कई तरह के कदम उठाए जा रहे है, और इसी पर पर्यावरण प्रदूषण प्राधिकरण (Environmental Pollution Control Authority) ने बड़ा फैसला लिया है। पर्यावरण प्रदूषण प्राधिकरण ने प्रदूषण को कम करने के लिए दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में आज से डीजल जनरेटर पर बैन लगा दिया है और यह नियम अब से 15 मार्च 2020 तक लागू रहेगा।

नए नियम के तहत डीजल जनरेटर का इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा। इससे जनता को होने वाली परेशानियों के चलते EPCA  ने स्टेट इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड (SEB) को इस बात का ध्यान रखने का आदेश भी दिया गया है, जिसमे उन्हें कहा गया है कि जिन जगहों पर कामकाज को लेकर बीजली की ज़रूरत है, वहां इलेक्ट्रिसिटी की उपलब्धता ठीक तरह से की जाए ताकि लोगों के कामकाजों में किसी तरह की परेशानी ना हो। पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण और संरक्षण प्राधिकरण के ये नियम लागू करने की वजह दिल्ली-एनसीआर की हवा की एयर क्वॉलिटी (Air Quality) इंडेक्स का रेड जोन तक आना है।

डीजल जनरेटर के इस्तेमाल न होने को लेकर अधिकारियों को इस बात की हिदायत दी गई है कि इस प्रक्रिया में किसी तरह की लापरवाही नहीं हो और कोई इसकी आवेहलना न करें, साथ ही साथ इस बात का भी ध्यान रखने को कहा गया है कि होटल और ढाबों में कोयला और लकड़ी नहीं जलाई जा सकेगी।

आपको बता दें कि दिल्ली में हर साल शर्दियों के मौसम के आसपास दिल्ली की हवा में बहुत अंतर देखा जाता है, जिसमें लोगों को सांस लेने जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है। इसी को ध्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार द्वारा कई तरह के कदम उठाएं जा रहे है, जिसमें ऑड-ईवन स्कीम को एक बार फिर से लागू किया जा रहा है।

Rate this item
(0 votes)