महामारी फैलने से पहले ही चीन ने तैयार कर ली थी कोरोना वैक्सीन ? दुनिया से छुपाता रहा हकीकत

 

दुनिया भर में लोगों की परेशानियां बढ़ाने वाला कोरोना वायरस कहा से निकला है ये तो अभी तक साफ नहीं हो पाया है लेकिन अब सवाल ये उठ रहा है कि क्या विश्व भर में महामारी फैलने से पहले ही चीन ने कोरोना की वैक्सीन तैयार कर ली है. प्रसिद्ध भारतीय वायरोलॉजिस्ट ने दावा किया है कि संभवत: चीन ने वायरस के फैलने की संभावना को देखते हुए पहले ही वैक्सीन विकसित कर ली थी. दावा किया जा रहा है कि लाखों लोगों की जान लेने वाला वायरस एक लैब में तैयार किया गया था.

 

 

वैक्सीन आने के शुरुआती दौर में ही चीन कोरोना महामारी पर काबू पाने में कामयाब हुआ था.  और 140 करोड़ की जनसंख्या वाले देश में दिसंबर 2019 में सिर्फ 91,300 संक्रमण के मामले दर्ज किए गए और 4636 लोगों की इससे जान गई. दर्ज मामलों में चीन 98वें नंबर पर मौजूद है.

 

अपराधियों की तरह छुपा रहा चीन 

 

कुसुमा स्कूल ऑफ बायोलॉजिकल साइंसेज, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) दिल्ली के भारतीय जीवविज्ञानी ने कथित तौर पर SARS-CoV-2 वायरस के स्पाइक प्रोटीन में चार जीन सम्मिलन का पता लगाया था. स्पाइक प्रोटीन वायरस के मानव सेल में प्रवेश करने का एक हथियार है. ये 2020 की शुरुआती जनवरी की रिसर्च थी, जिसे रिव्यू नहीं किया गया और फरवरी में वापस ले लिया गया.

 

 

Share