FARMER’S PROTEST: किसी के कहने पर धरना देने बैठे है किसान – हेमा मालिनी

 

 

 

FARMER’S PROTEST – मथुरा से भाजपा सांसद हेमा मालिनी किसानों पर टिप्णी को लेकर इन दिनों काफी चर्चा में है. उन्होनें  ट्विटर पर जारी पोस्ट में कहा की ”वे (आंदोलनकारी किसान) यह भी नहीं जानते कि वे क्या चाहते हैं और खेत कानूनों के साथ क्या समस्या है, जो दर्शाता है कि वे ऐसा कर रहे हैं क्योंकि किसी ने उन्हें ऐसा करने के लिए कहा है ” 

 

तो वहीं दूसरी तरफ हेमा मालिनी के पति और मशहूर कलाकार धर्मेन्द्र किसानों के पक्ष में हैं. उन्होने कहा था की “मै अंतिम सांस तक देश के हर एक किसान के साथ हूँ ”

 

 

COVID-19 VACCINE: आज सुबह दिल्ली, हरयाणा, गोवा, MP पहुंची कोविड वैक्सीन

 

 

 

 

 

Sonu Sood : बॉम्बे हाई कोर्ट से Sonu Sood को राहत, रिहायशी बिल्डिंग में होटल बनाने का था केस

 

 

धरने पर बैठे किसान ने जहर खाकर की आत्महत्या – 

 

इस सबंध में जानकारी देते हुए किसानों ने बताया कि किसान सुच्चा सिंह (गुरदासपुर के गांव खोखर निवासी) संघर्ष में हिस्सा लेने के लिए पहुंचा था. उसने कहा था कि उससे किसानों का दुख देखा नहीं जा रहा और लगता है कि इसी वजह से उस ने अपनी शहादत दी है.

 

 

 

 

 

 

पठानकोट-अमृतसर राष्ट्रीय राजमार्ग पर पड़ते लदपालवा टोल प्लाजा के समीप एक किसान ने कृषि कानूनों के विरोध में जहर निगल लिया. जिसके बाद किसान को इलाज के लिए निजी अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई. किसान की मौत के बाद अन्‍य किसानों ने अस्पताल के बाहर प्रदर्शन किया.

 

 

 

 

 

किसान नेताओं ने कहा कि वे 15 जनवरी को सरकार के साथ होने वाली बैठक में शामिल होंगे. संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा घोषित आंदोलन के कार्यक्रम में कोई बदलाव नहीं है. आज लोहड़ी पर तीनों कानूनों को जलाने का कार्यक्रम, 18 जनवरी को महिला किसान दिवस मनाने, 20 जनवरी को श्री गुरु गोविंद सिंह की याद में शपथ लेने और 23 जनवरी को आज़ाद हिंद किसान दिवस पर देश भर में राजभवन का घेराव करने का कार्यक्रम जारी रहेगा.

 

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *