FARMER’S PROTEST: वार्ता से पहले राकेश टिकैत को समाधान की उम्मीद, कृषि कानून लागू करने का फैसला राज्यों पर छोड़ने का प्रपोजल रख सकती है सरकार

FAREMERS AND GOVERNMENT MEETING

 

– कशिश राजपूत

 

 

FARMER’S PROTEST: किसान आंदोलन का आज 44वां दिन है। आज किसानों की सरकार के साथ 8वें दौर की मीटिंग होगी।

 

 

इससे पहले गुरुवार को किसानों ने दिल्ली के चारों तरफ ट्रैक्टर मार्च निकालकर ताकत दिखाई।

 

 

. कृषि कानूनों को लागू करने का फैसला केंद्र अब राज्य सरकारों पर छोड़ सकती है। सूत्रों के मुताबिक केंद्रीय मंत्री ने बाबा लक्खा सिंह को बताया कि सरकार अब एक प्रस्ताव तैयार कर रही है, जिसमें राज्य सरकारों को कृषि कानून लागू करने या न करने की छूट दी जाएगी।

 

 

COVID-19 VACCINE DRY RUN: कोविड वैक्सीन ड्राई रन फेज 2 आज, डॉ हर्षवर्धन ने लिया तैयारियों का जायजा

 

 

किसान आंदोलन का बुधवार को 42वां दिन था। इधर, सुप्रीम कोर्ट में कृषि कानूनों को रद्द करने की अर्जी पर सुनवाई 11 जनवरी तक टल गई। चीफ जस्टिस एस ए बोबडे की बेंच ने सरकार से कहा कि स्थिति में कोई सुधार नहीं है। साथ ही कहा कि हम किसानों की हालत समझते हैं।

 

 

Noida :फर्जी पुलिसकर्मी बनकर आरोपियों ने महिला से लूटा सोने का कंगन, जानिए असली पुलिस क्या कह रही है ?

 

 

आज की बैठक में देखना यह होगा की क्या सरकार और किसान किसी नतीजे पर उतरेंगे या प्रदर्शन ऐसे ही जारी रहेगा।

 

 

 

 

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *