दुनिया के दूसरे सबसे अधिक आबादी वाले देश में जानिए क्यों है शीर्ष संक्रामक रोग चिंता

Share

 

-कशिश राजपूत

 

संयुक्त राष्ट्र (United Nations) के आंकड़ों के अनुसार भारत 2020 की आबादी 1,380,004,385 है,जिसके साथ भारत दुनिया का दूसरा सबसे आबादी वाला देश है। भारत की जनसंख्या कुल विश्व जनसंख्या के 17.7 फीसदी (Percent)  के बराबर है, पर सिर्फ जनसँख्या ही नहीं,बल्कि भारत संक्रामक रोग (Infectious Diseases) के मामलो में भी उच्च स्थान पर है ,जिसके कई कारण है जैसे-

 

 

1 – बढ़ती आबादी (Increasing Population)
भारत अपनी संस्कृति,संस्कार,परिवेश के लिए जाना जाता है , पर अब लगता है की भारत अपनी आबादी को लेकर भी जाना जाएगा | भारत दुनिया का दूसरा सबसे आबादी वाला देश है ,जहा हर दूसरे minute एक बच्चे का जन्म होता है जिसके कारण बढ़ती आबादी की वजह से लोगो में बिमारियों के संक्रमण का खतरा भी ज्यादा होता है |

 

 

2 – बदलती लाइफस्टाइल (Changing Lifestyle)
आज कल की भाग-दौड़ भरी जिंदगी में,लोग अपना ख्याल रखना तो जैसे भूल ही गए हैं ,जिसकी वजह से ना सिर्फ उनकी लाइफस्टाइल में बदलाव आता है बल्कि अचानक आए बदलाव से उनकी सेहत पर भी असर पड़ता है ,जिस वजह से बिमारियों का खतरा भी बड़ जाता है |

 

 

3 – एंग्जायटी एंड डिप्रेशन (Anxiety and Depression)
बदलती लाइफस्टाइल और रूटीन के कारण स्ट्रेस बेहद आम बात है,जो डिप्रेशन और एंग्जायटी का रूप भी ले सकता है ,जिस वजह से मेन्टल हेल्थ इश्यूज होना बेहद आम है ,जिस कारण हाइपरटेंशन ,दिल की बीमारी के चांस बड़ जाते हैं |

 

 

भारत में शीर्ष बीमारियां – (Top Diseases in India)

1 – दिल की बीमारी (Heart Attack)
दिल की बीमारी भारत में मृत्यु का एक प्रमुख कारण बना हुआ है। भारत में दो दशकों (decades) से अधिक समय से अनुचित आहार से हाई ब्लडप्रेशर और ब्लॉक्ड आर्टरीज (Arteries)  होने की संभावना है ,जो आर्टरीज में दीवारों, निष्क्रियता, मोटापा और धूम्रपान के कारण होता है।

 

 

2 -दस्त (Diarreah)
दस्त की बीमारी मौत के सबसे बड़े कारणों में से एक हैं ,जो वायरस के कारण होती है ,सावधानी और सुरक्षा बरतने से बीमारी से बचा जा सकता है और साथ ही नवजात बच्चे को इसका वक्सीनेशन (Vaccination) भी दिया जाता है ,ताकि बच्चा बीमारी से सुरक्षित रहे |

 

 

3 – ट्यूबरक्लोसिस (Tuberculosis)
WHO की टीबी रिपोर्ट 2016 के अनुसार,ग्लोबली 10.4 मिलियन नए टीबी के मामलों में भारत की 2.8 मिलियन की हिस्सेदारी है। जिस से बचाव के लिए भारत का राष्ट्रीय कार्यक्रम सभी को मुफ्त दवाइयाँ और उपचार प्रदान करता है, लेकिन कई मरीज दवा का पूरा कोर्स पूरा नहीं करते हैं, जिसे छह से आठ महीने तक बिना किसी अनकंप्लिकेटेड (uncomplicated)  बीमारी के लिया जाना चाहिए,जिस से इस खतरनाक बीमारी से बचा जा सकता है |

 

 

4- कोविड 19 (COVID-19)
भारत में यह बीमारी यमराज का रूप लेकर आई है,जो जाने का नाम ही नहीं ले रही है |इस बीमारी के चलते भारत में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में लोगो की मौत हुई है और इससे लोग संक्रमित हुए हैं | हालाँकि बीमारी के विषय में पूरी जानकारी अभी तक नहीं है, पर यह एक वायरस संक्रमित बीमारी है जो दूसरे व्यक्ति के कॉन्टैक्ट में आने से फैलती है ,जिसके लिए सरकार द्वारा दिशा निर्देश जारी किये गए हैं और साथ ही इसकी वैक्सीन (Vaccine) पर भी काम किया जा रहा है |

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *