जालसाजों का शिकार हुआ श्रीराम मंदिर तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट, बैंक खाते से ठगों ने निकाले 6 लाख रूपये..जानिए कैसे हुआ खुलासा ?

Spread the love

रवि श्रीवास्तव

राममंदिर निर्माण और विकास के लिए बनाए गए श्रीराम मंदिर तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट भी जालसाजों का शिकार हो गया है। एक तरफ तो मंदिर के शिलन्यास से पहले ही देश विदेश से भक्तों ने मंदिर निर्माण के लिए अपना योगदान देना शुरू कर दिया था, जो अब भी जारी है। श्रद्धा अनुसार हर भक्त निर्माण के लिए अपने-अपने स्तर पर ट्रस्ट को योगदान दे रहा है..मंदिर निर्माण का काम गति भी पकड़ चुका है..लेकिन इस बीच ट्रस्ट के पैसों में सेंधमारी की खबर ने हर किसी को हैरान कर दिया है और प्रशासन में इसकों लकेर हड़कंप मचा हुआ है

ट्रस्ट के खाते से 6 लाख की अवैध निकासी
जानकारी के मुताबिक श्रीराम मंदिर तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के खाते में फर्जी चेक लगाकर लाखों रुपये की रकम निकाल ली है। ट्रस्ट के खाते से दो बार में तीन-तीन लाख रुपया की रकम, लखनऊ के दो बैकों से निकाली गई है। पूरा मामला तब संज्ञान में आया जब जालसाजों ने तीसरी बार करीब 9 लाख 86 हजार रुपये का चैंक बेैक में लगाकर फिर पैसे निकालने की कोशिश की। ये चेक राजधानी लखनऊ के ही बैंक में लगाया गया था..क्योंकि अमाउंट बड़ा था । लिहाजा बैंक ने चेक लगाने के बाद जब वेरिफिकेशन के लिए फोन राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय के पास किया… तो उन्होंने ऐसे किसी चेक को जारी करने से इंकार कर दिया। इसके बाद जब बैंक खाते की जानकारी की गई तो खाते से पैसे निकाले जाने की बात पता चली । खाते के ऑडिट करने पर पता चला जालसाज ऐसे ही पहले भी दो बार पैसों की निकासी कर चुके है..और ये तीसरी बार है जब ये दान के पैसों पर हाथ फेरने की कोशिश कर रहे थे

जालसालों के जेल में डालने की तैयारी
अयोध्या में ट्रस्ट के खाते से रुपये निकाले जाने के मामले को लेकर खलबली मची हुई है। जांच एंजेसियां अब पूरे मामले की जांच कर जालसाजों को जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाने में जुट गई हैं।कोतवाली अयोध्या में अज्ञात जालसाज के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। अयोध्या के क्षेत्राधिकारी राजेश कुमार राय के मुताबिक, ट्रस्ट ने जानकारी दी गई है कि फर्जी चेक के जरिए एक सितंबर और उसके दो दिन बाद तीन सितंबर को फर्जी चेक से पैसे निकाले गए हैं। सूचना के आधार पर मुकदमा पंजीकृत कर जांच की जा रही है।

राममंदिर के नाम पर हो रहा है फ्रॉड रहे सावधान !
ये कोई पहला मामला नहीं जब मंदिर निर्माण के पैसों को लेकर धोखाधड़ी हुई है…बल्कि इससे पहले भी कई शहरों में मंदिर निर्माण को लेकर पैसों की रसीद काटी गई और भक्तों के पैसों को इक्कठा कर जालसाज पचा गए।राम मंदिर के नाम पर जालसाजी के जरिए पैसा कमाने की कोशिशें जारी है । मतलब ये कि अब दान देने से पहले आप भी ये सुनिश्चित करले कि आप पैसे केवल मंदिर निर्माण के लिए बने ट्रस्ट में ही दें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *