दिल्ली में ऑक्सीजन संकट पर HC ने फिर केंद्र को लगाई फटकार, कहा-हम स्तिथि को अनदेखा नहीं कर सकते

 

– कशिश राजपूत

 

 

राष्ट्रीय राजधानी में ऑक्सीजन की कमी से हो रही मौत मामले में दिल्ली हाई कोर्ट ने मंगलवार को सुनवाई की | इस दौरान कोर्ट ने केंद्र सरकार को फटकार लगाते हुए कहा है कि दिल्ली में लोग मर रहे हैं और आपको लग रहा है कि ये मजाक है |

 

दिल्ली हाई कोर्ट ने कहा कि केंद्र को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा पहले जारी निर्देशों के अनुसार, ऑक्सीजन की उचित आपूर्ति दिल्ली तक पहुंचे | कोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा कि अगर महाराष्ट्र में अभी ऑक्सीजन की जरूरत नहीं है तो उसे दिल्ली में उपयोग किया जा सकता है |  उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र की स्थिति में सुधार है |

 

The High Court began hearing the petition relating to various issues arising due to the rise of Covid-19 infection in the national capital on Tuesday. (PTI)

 

दिल्ली उच्च न्यायालय ने मंगलवार को केंद्र सरकार से कहा कि अगर आईआईटी या आईआईएम बेहतर काम करेंगे तो केंद्र ऑक्सीजन टैंकरों के प्रबंधन को प्रमुख संस्थानों को सौंप देगा। दिल्ली HC के अनुसार, सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि केंद्र सरकार को 700 मीट्रिक टन जीवन रक्षक गैस की आपूर्ति करनी होगी।

 

DELHI HC ने मंगलवार को केंद्र को बताया, “यदि आप इस अभ्यास को नहीं करते हैं, तो आप अवमानना ​​में होंगे। अब, यह आपका काम है, टैंकर उपलब्ध हैं लेकिन आप यह काम करने को तैयार नहीं हैं।”

 

 

 

 

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published.