आखिर Ravindra Jadeja को क्यों नहीं बनाने दी गई डबल सेंचुरी? जड्डू ने खुद बताई वजह

Ravindra Jadeja
रवींद्र जडेजा

Ravindra Jadeja: भारत और श्रीलंका के बीच हो रहे पहले टेस्ट मैच में टीम इंडिया मजबूत स्थान पर है और इसका श्रेय सिर्फ एक ही खिलाड़ी को जाता है और वो है भारत के ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja). शनिवार 5 मार्च को मैच के दूसरे दिन भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के इस स्टार ऑलराउंडर ने एक यादगार और रिकॉर्ड पारी खेलकर इतिहास रचा. जडेजा ने अपने करियर की सबसे बड़ी पारी खेलते हुए नाबाद 175 रन बनाए. उनके पास दोहरे शतक के लिए जाने का मौका था, लेकिन भारतीय टीम ने 574/8 के स्कोर पर पारी घोषित कर दी, जिससे ये सवाल उठने लगे कि क्यों उन्हें दोहरा शतक पूरा करने का मौका नहीं दिया गया. लेकिन जडेजा ने खुलासा किया है कि ये उनका ही सुझाव था कि टीम पारी घोषित करे, ताकि पिच से मिल रही मदद का फायदा उठाया जा सके.

यह भी पढ़ें : भारतीय स्पिनर अमित मिश्रा ने शेन वार्न के निधन पर जताया दुख

जड्डू ने खुद दिया सुझाव

जिस अंदाज में जडेजा बल्लेबाजी कर रहे थे और शमी उनका साथ दे रहे थे, ऐसा लग रहा था कि वह कुछ ही ओवरों में अपना पहला दोहरा शतक लगा देंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. ऐसे में जब दिन का खेल खत्म होने पर जडेजा से इस बारे में सवाल पूछा गया, तो उन्होंने बताया कि असल में ये उनका ही सुझाव था. जडेजा ने कहा,

“मैंने उन्हें (टीम को) बताया कि पिच पर ‘वैरिएबल बाउंस’ है और गेंदों ने भी टर्न करना शुरू कर दिया है. इसलिये मैंने एक संदेश भेजा कि पिच से कुछ मदद हासिल की जा सकती है और मैंने सुझाव दिया कि हमें अब उन्हें (श्रीलंका को) बल्लेबाजी के लिये उतारना चाहिए.”

यह भी पढ़ें:Mohali Test: ख़त्म हुआ दूसरे दिन का खेल, श्रीलंका ने 108 रन पर खोए 4 विकेट