कोरोना की वजह से 50 साल में सबसे कम विकास दर, जानिए कोरोना के मामले भारत कैसे अमेरिका को पीछे छोड़ रहा है

Spread the love

रवि श्रीवास्तव 

भारत में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं..आलम ये हैं कि अब तक देश में कोरोना मरीज 60 लाख के बड़े आकड़े को पार कर चुके हैं…वहीं. देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 70,589 नए मामले सामने आए, जबकि 776 लोगों की इस संक्रमण से मौत हो गई. यही रफ्तार रही तो भारत जल्द ही अमेरिका को पीछे छोड़ देगा.

दरअसल, पिछले 2 महीनों में आकड़े इतनी तेजी से बढ़े हैं कि भारत ने ब्राजील तक को पीछे छोड़ दिया ..भारत पहले कोरोना के मामले में दुनिया में तीसरे नंबर पर था..लेकिन तेजी से बढ़े आकडों ने ब्राजील को पीछे छुड़वा दिया… अब भारत में कोरोना के ग्राफ पर नजर डाले तो..

भारत में कोरोना की रफ्तार
देश में अब कोरोना मरीजों का आंकड़ा 61,45,292 हो गया.
इनमें से एक्टिव मरीज 9,47,576 हैं
51,01,398 मरीज ठीक हो चुके हैं
कोरोना से अब तक देश में 96,318 लोगों की मौत हो चुकी है
अमेरिका में अब तक 73 लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं
अमेरिका में अबतक 2 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है
45 लाख से अधिक मरीज ठीक हो चुके हैं
अमेरिका में 35 हजार तो भारत में हर रोज 80 हजार केस

भारत कैसे अमेरिका को पीछे छोड़ देगा इसका सिंपल उदाहरण यही है कि हर दिन देश में अमेरिका से डबल मामले आ रहे हैं..इसके आलावा भी कोरोना के लिहाज से अमेरिका और भारत की तुलना करें तो
कैसे अमेरिका को पीछे छोड़ देगा भारत ?
सितंबर तक अमेरिका में 61 लाख कोरोना केस थे
भारत में 38 लाख के करीब 23 लाख का अंतर था
26 सितंबर तक अंतर घटकर केवल 13 लाख रह गया
भारत में हर रोज 80 हजार से अधिक केस सामने आ चुके हैं
अमेरिका में हर रोज तकरीबन 35 हजार केस सामने आ रहे हैं.

भारत के लिए अच्छी खबर है कि यहां कोरोना से ठीक होने वालों का आंकड़ा 50 लाख को पार कर गया है. यानी कोरोना से रिकवरी रेट 80 फीसदी से अधिक है. वहीं, अमेरिका में अब तक 73 लाख में से 45 लाख लोग ठीक हो पाए हैं. यानी अमेरिका की तुलना में भारत का रिकवरी रेट काफी बेहतर है.

विकास दर पर भी बुरा असर
वर्ल्ड बैंक के मुताबिक कोरोना के वजह से इस बार ईस्ट एशिया और पसिफिक (चीन सहित) में पिछले 50 सालों की सबसे कम विकास दर होगी। अनुमान के मुताबिक 2020 में इस क्षेत्र की विकास दर 0.9 प्रतिशत रह सकती है जो कि 1967 के बाद सबसे कम है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *