भारत ने ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का किया सफल परीक्षण, राजनाथ सिंह ने दी बधाई

Spread the love
ब्रह्मोस के लंबी दूरी तक मार करने वाले पहले संस्करण का परीक्षण 11 मार्च 2017 को किया गया था. जमीन पर 490 किमी दूर लक्ष्य को भेदने में सक्षम ब्रह्मोस ने सफलतापूर्वक परीक्षण पूरा किया था. पिछले साल सितंबर में ही डीआरडीओ ने 290 किमी तक दूरी तक वार करने वाली ब्रह्मोस का परीक्षण ओडिशा के चांदीपुर टेस्ट रेंज में किया गया था.
रक्षा मंत्री ने कहा कि यह उपलब्धि आत्मनिर्भर भारत की दिशा में एक मील का पत्थर साबित होगी.
दरअसल, सीमा पर चीन और पाकिस्तान की गोलबंदी के कारण भारत अपनी सामरिक और सैन्य ताकत बढ़ाने में जुटा है. पूर्वी लद्दाख में चीन की जिद और अतीत में उसके रवैये को देखते हुए भारत को हर तरह की स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहना होगा. यहीं वजह है कि भारत रक्षा सौदों में भी तेजी लाया है और परीक्षणों में भी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *