चमत्कारिक पहाड़ी: क्या आप जानते हैं लद्दाख की मैग्नेटिक हिल के बारे में ये रोचक तथ्य?

-करिश्मा राय तंवर

 

कहते है भारत चमत्कार और रहस्यों की भूमी है यहा कई ऐसी जगहें है जिसके रहस्य से पर्दा आजतक वैज्ञानिक भी नही उठा पाए. इन्ही रहस्यों में से एक है लेह सीमा पर स्थित चमत्कारिक पहाड़ी जिसे मैग्नेटिक हिल के नाम से जाना जाता है.

 

 

दरअसल आमतौर पर पहाड़ी के फिसलन पर किसी भी गाड़ी को गियर में डालकर खड़ा किया जाता है. यदि ऐसा नहीं किया जाए तो गाड़ी नीचे की ओर लुढ़ककर खाई में गिर सकता है लेकिन इस मैग्नेटिक हिल पर वाहन को न्यूट्रल करके खड़ा कर दिया जाए तब भी यह नीचे की और नहीं जाता. इतना ही नहीं हैरानी तो तब होती है जब वाहन नीचे जाने के बजाय खुद ब खुद उपर की ओर जाने लगता है. सही सुना आपने यही तो इस पहाड़ी का चमत्कार है कि वाहन लगभग 20 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ऊपर की ओर चढ़ने लगता है.

 

 

आपका बता दें कि सिर्फ जमीन पर दौड़ने वाली गाड़ियां ही नहीं, बल्कि हवा से गुजरने वाले विमान भी इस मैग्नेटिक POWER से खुद को नहीं बचा पाते. मैग्नेटिक हिल के ऊपर से विमान उड़ा चुके पायलट्स का दावा है कि यहां से गुजरते वक्त विमान में हल्के झटके महसूस होते हैं. यही वजह है कि पायलट इस क्षेत्र में प्रवेश करने से पहले ही विमान की रफ्तार बढ़ा लेते हैं ताकि प्लेन को पहाड़ के मैग्नेटिक POWER से बचाया जा सके.

 

 

हालांकि इस रहस्यमई ताकत का पता लगाने यहां पर बहुत से वैज्ञानिक पहुंच चुके हैं. जिनमें से कुछ का मानना है कि कि मैग्नेटिक हिल की जियोग्राफिक और एल्टीट्यूड पोजीशन कुछ ऐसी है कि गाड़ियां अपने आप ही ऊपर की ओर बढ़ती जाती हैं. वहीं कुछ लोग इसे ग्रैवटी का चमत्कार मानते हैं लेकिन उनका मनना है कि यह एक तरह का अल्यूजन है, जो लोगों की नजरों को धोखा देता है.

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *