हरामखोर’ वाले बयान पर कंगना का संजय राउत को कड़ा जवाब

Spread the love

बॉलिवुड ऐक्ट्रेस कंगना रनौत और शिवसेना के सांसद संजय राउत के बीच जुबानी जंग थमने का नाम नहीं ले रही है. दोनों लगातार एक-दूसरे पलटवार करने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं. बीते दिनों कंगना ने मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से कर दी थी. इसके बाद संजय राउत ने तो कंगना को ‘हरामखोर लड़की’ तक बोल दिया था.अब कंगना ने संजय राउत को करारा जवाब देते हुए अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो पोस्ट किया है.

वीडियो में कंगना रनौत ने कहा, ‘संजय राउत जी आपने कहा कि मैं एक हरामखोर लड़की हूं. आप एक सरकारी मुलाजिम हैं, आप तो जानते ही होंगे ही इस देश में हर दिन नहीं हर घंटे कितनी लड़कियों के बलात्कार हो रहे हैं और कितने लड़कियों का शोषण हो किया जा रहा है. उनकी बॉडीज काटकर एसिड डालकर फेंक दी जा रही हैं. उनके काम की जगह पर उनको गाली दी जा रही हैं और अपमान किया जा रहा है. उनके खुद के पति उनके कान, नाक, मुंह, जबड़े तोड़ रहे हैं. आपको पता है कि इसके जिम्मेदार कौन है? इसका जिम्मेदार ये जो मानसिकता, आपने जिनका भौंडा प्रदर्शन पूरे समाज और पूरे देश के सामने किया है, वो मानसिकता इसकी जिम्मेदार है. इस देश की बेटियां आपको माफ नहीं करेंगी संजय जी, आपने उन सब महिलाओं का शोषण करने वालों का सशक्तिकरण किया है. इस देश की बेटी आपको माफ नहीं करेंगी.जब आमिर खान जी ने कहा था कि मुझे इस देश में डर लगता है तब उन्हें किसी ने हरामखोर नहीं कहा और जब नसीरुद्दीन शाह जी ने कहा तब उनको किसी ने हरामखोर नहीं कहा.’

कंगना ने कहा, ‘मुंबई पुलिस की मैं तारीफ करते नहीं थकती थी, आप मेरे पुराने इंटरव्यूज देख लीजिए. लेकिन जब मुंबई पुलिस सुशांत के पिता की शिकायत नहीं दर्ज कर रहे थी तब उनकी मैंने उनकी निंदा की और ये मेरी अभिव्यक्ति की आजादी है.’

कंगना ने आगे संजय राउत को चैलेंज करते हुए कहा, ‘आप महाराष्ट्र नहीं हैं. आप ये नहीं कह सकते कि मैंने महाराष्ट्र की निंदा की. संजय जी मैं 9 सितंबर को मुंबई आ रही हूं. आपके लोग कह रहे हैं वे मेरा जबड़ा तोड़ देंगे, मुझे मार डालेंगे. आप लोग मुझे मारिए क्योंकि इस देश की मिट्टी वो ऐसे ही खून से सींचकर बनी है. इस देश की गरिमा के लिए ना जाने कितने लोगों ने अपनी जान दी है और हमें भी अपना कर्ज निभाना है. मिलते हैं 9 सितंबर को. जय हिन्द…जय महाराष्ट्र.’

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *