मुंबई को पीओके बताने के ट्वीट पर कंगना की बांद्रा पुलिस स्टेशन में पेशी

Mumbai

 

 

-अक्षत सरोत्री/अशोक पांडेय, मुंबई

 

 

 

जब सुशांत सिंह राजपूत का मामला सुर्ख़ियों में आया है (Mumbai) तबसे कई चेहरे उभर कर सामने आये हैं। कंगना रनौत ने भी बॉलीवुड माफिया पर खुल कर बयान बाजी की है। इसी बजह से कंगना की भिड़ंत शिवसेना से हो गई थी। और होने एक बयान में कंगना मुंबई को पीओके कह बैठी। पुलिस स्टेशन आने से पहले कंगना ने वीडियो संदेश दिया है कि उनकी आवाज़ दबाई जा रही है। इस दौरान कंगना रनौत के वकील रिजवान सिद्दीकी भी पहुचे हैं। बांद्रा कोर्ट के आदेश के बाद बांद्रा पुलिस स्टेशन में दर्ज मामले में राजद्रोह की आरोपी बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली चंदेल को मुम्बई पुलिस के सामने पहुची हैं।

 

 

FARMER’S PROTEST: बातचीत से पहले अमित शाह के साथ नरेंद्र तोमर-पीयूष गोयल कर रहे बैठक

 

 

 

बयान किये दर्ज बांद्रा पुलिस ने

 

 

 

हाई कोर्ट के आदेश के मुताबिक कंगना और उनकी बहन (Mumbai) रंगोली को बांद्रा पुलिस स्टेशन में आकर बयान दर्ज कराना था। सुशांत सिंह राजपूत प्रकरण के दौरान कंगना और रंगोली ने कई ट्वीट किए थे। शिक़ायत कर्ता के मुताबिक यह ट्वीट और बयान आपत्तिजनक है। मुम्बई में रहने वाले साहिल सय्यद नाम के शख्स के कोर्ट में याचिका के बाद बांद्रा मैजिस्ट्रेट कोर्ट के आदेश पर बांद्रा पुलिस स्टेशन में कंगना और रंगोली के खिलाफ राजद्रोह, धार्मिक भावना भड़काने और समाज मे द्वेष निर्माण करने का आरोप लगा है।

 

 

 

 

 

 

153ए के तहत दर्ज है मामला

 

 

बांद्रा पुलिस स्टेशन में दर्ज FIR के बाद कंगना को समन जारी हुआ था। (Mumbai) कंगना ने हाई कोर्ट से समय मांगा था। 8 जनवरी आज का दिन दिया गया था। शिकायतकर्ता साहिल का कहना है कि कंगना ने समाज को बाटने का काम किया इसलिए कानून अब अपना काम कर रहा। पेशे से फ़िल्म इंडस्ट्री में कास्टिंग डायरेक्टर साहिल की शिकायत पर अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ आईपीसी की धारा 153ए, 295ए, 124ए के तहत कंगना रनौत को आरोपी बनाया गया है।

 

 

 

आपत्तिजनक ट्वीट का है मामला

 

 

साहिल के वकील के मुताबिक कंगना और रंगोली के दर्जनों आपत्तिजनक ट्वीट, न्यूज़ क्लिपिंग, अखबार में बयान को आधार बनाकर याचिका की गई है। कंगना के बयानों और पोस्ट से समाज मे धार्मिक भावना भड़काने और समाज मे द्वेष निर्माण करने का आरोप लगा है। गौरतलब है कि कंगना सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से लेकर टीवी तक, बॉलीवुड के खिलाफ, कुछ कलाकारों, नामी लोगो के ख़िलाफ़ बोलने के साथ साथ बॉलीवुड को नेपोटिज्म और फेवरेटिज्म का अड्डा बता रही है।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *