ममता दीदी ने चुनाव आयोग की मंशा पर उठाए तीखे सवाल, बोली- वही कर रहा आयोग जो चाहते हैं शाह

Mamta Didi

 

-अक्षत सरोत्री

 

 

चुनाव आयोग ने 5 राज्यों में होने वाले चुनावों की तिथियों का (Mamta Didi) ऐलान कर दिया है। जिसको लेकर अलग-अलग राजनितिक दलों के की प्रतिक्रिया आनी शुरू हो गई हैं। ममता बनर्जी ने भी चुनाव आयोग पर तीखा हमला करते हुए सवाल खड़े किये हैं। आठ चरणों में मतदान की घोषणा के बाद ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग की मंशा पर सवाल उठाते हुए कहा कि बीजेपी के हिसाब से तारीखों का एलान हुआ। सवालिया लहजे में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पूछा कि आखिर एक जिले में तीन चरणों में क्यों चुनाव करवाए जा रह हैं। उन्होंने कहा कि इस बार पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में खेल खेला जाएगा।

 

नाइजीरिया में अज्ञात लोगों ने स्कूल में किया सामूहिक अपहरण, कई बच्चे लापता

 

बोली-चुनाव आयोग चाहता है भाजपा का फायदा

 

 

राज्य के मुख्यमंत्री ने कहा कि बीजेपी के कहने पर (Mamta Didi) चुनाव आयोग ने ऐसा किया। उन्होंने कहा कि बंगाल पर बंगाली ही राज करेगा किसी बाहरी को घुसने नहीं दिया जाएगा। ममता बनर्जी ने कहा, ”चुनाव आयोग ने पीएम मोदी और अमित शाह के दौरे के हिसाब से तारीखों का एलान किया है। जो बीजेपी ने कहा चुनाव आयोग ने वही किया है। गृह मंत्री अपनी ताकत का दुरुपयोग कर रहे हैं। हम हर हाल में बीजेपी को हराएंगे। खेल जारी है हम खेलेंगे और जीतेंगे भी।”

 

 

पीएम को भी लिया निशाने पर

 

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला (Mamta Didi) बोलते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, ”पीएम अपनी ताकत का दुरुपयोग न करें। इससे बीजेपी को कोई फायदा नहीं होगा। बीजेपी को बंगाल की जनता जवाब देगी। बीजेपी जनता को हिंदू मुस्लिम में बांट रही है।” चुनावी चरणों को लेकर चुनाव आयोग को घेरते हुए ममता ने कहा, ”आखिर एक जिले में दो या तीन चरणों में चुनाव क्यों करवाए जा रहे हैं। चुनाव आयोग की मंशा क्या है।” इस दौरान कहा कि चुनाव आयोग पश्चिम बंगाल को भी अपना समझे।

 

 

बंगाल में इन तिथियों को होंगे चुनाव

 

 

बता दें कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (Mamta Didi) के लिए तारीखों का एलान हो गया है। राज्य में 8 चरणों में वोट डाले जाएंगे और चार अन्य राज्यों के साथ यहां भी 2 मई को नतीजे आएंगे। चुनाव आयोग के मुताबिक, पश्चिम बंगाल में 1 लाख एक हजार 916 मतदान केंद्र बनाए जाएंगे। पश्चिम बंगाल में 27 मार्च को पहले चरण के लिए वोटिंग होगी। एक अप्रैल को दूसरे चरण, 6 अप्रैल को तीसरे चरण, 10 अप्रैल को चौथे चरण, 17 अप्रैल को पांचवें चरण, 22 अप्रैल को छठे चरण, 26 अप्रैल को सातवें चरण और 29 अप्रैल को आठवें चरण के लिए वोट डाले जाएंगे।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *