हरियाणा के रेवाड़ी व जींद में कोरोना संक्रमित पाए गए कई स्टूडेंट्स

Share

-आकृति वर्मा

 

कोरोना महामारी के चलते 8 महिने से सभी शिक्षक संस्थान बंद होने के कारण सबसे ज्यादा नुकसान स्टूडेंट्स की पढ़ाई का हुआ है। जिसको देखते हुए सरकार की ओर से 9वीं से 12वीं तक के स्टूडेंट्स के लिए स्कूल खोल दिए थे। लेकिन अब स्कूल जाने वाले स्टूडेंट्स की कोरोना संक्रमित होने की खबरें सामने आ रही है।

 

बता दें कि रेवाड़ी जिले व जींद में कई स्टूडेंट्स कोरोना संक्रमित पाए गए है। रेवाड़ी में नौ स्कूलों के 610 विद्यार्थियों में से 81 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं व जींद में 8 शिक्षक व 11 स्टूडेंट्स कोरोना पॉजिटिव पाए गए है। जिसके बाद स्वाथ्य विभाग में पूरी से हड़कंप मचा हुआ है। उनके द्वारा संपर्क में आए सभी विद्यार्थियों व परिजनों की कोरोना जांच कराई जा रही है।

 

वहीं इसको लेकर हरियाणा सरकार के प्रवक्ता जवाहर यादव ने इस पर कहा कि स्कूल खुलने पर नियमों का पालन पूरी तरह किया जा रहा है। मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के साथ स्टूडेंट्स को बुलाया जा रहा है। हालांकि ये जरूरी नहीं है कि सभी बच्चे स्कूल आएं। अभिभावकों पर ये निर्भर करता है कि वो बच्चों को भेजना चाहते हैं या नहीं। अभी स्कूलों में अटेंडेंस भी बहुत कम है। सभी स्टूडेंट्स स्कूल नहीं आ रहे है।

 

वहीं कोरोना महामारी की बात करें तो इस सब के बीच स्टूडेंट्स की पढ़ाई का काफी नुकसान हुआ है खासकर की उन स्टूडेंट्स को जिन्होंने कॉलेजों में दाखिला लेना था। उनके लिए काफी असमंजस कि स्थिती बनी हुई है। बता दें कि सरकार की ओर से सभी अभिभावकों को यह निर्देश दिए गए थे कि यह उनपर निर्भर करता है कि क्या वह अपने बच्चों को स्कूल भेजना चाहते है कि नहीं। लेकिन इस सब के बीच सबसे बड़ा सवाल यह खड़ा होता है कि अगर सरकार द्वारा पूर्ण तरीके से स्कूल खोल दिए गए तो काफी स्टूडेंट्स कोरोना संक्रमित पाए जा सकते है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *