आज से शुरु होगा हरियाणा विधानसभा का मॉनसून सत्र, कोरोना संक्रमित होने के कारण कई नेता सत्र में नहीं लगा पाएंगे हाजिरी

haryana vidhansabha
Share

-आकृति वर्मा

 

 

हरियाणा विधानसभा आज से शुरू होने जा रहा है। वहीं इस बार सत्र काफी हंगामेदार रहने के पूरे आसार हैं। जहां एक तरफ विपक्ष केंद्रीय कृषि कानूनों के साथ शराब और रजिस्ट्री घोटाले को लेकर सरकार को घेरने को तैयार है, तो वहीं दूसरी तरफ सत्र शुरू होने से पहले कांग्रेस नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा के आवास पर विधायक दल की बैठक होगी। साथ ही यह भी लगभग तय हो गया है कि कांग्रेस और इनेलो की ओर से कृषि कानूनों को लेकर दिए गए प्राइवेट मेंबर बिल विधानसभा सत्र में नहीं लाया जाएगा। वैसे कांग्रेस के कई विधायकों ने यह प्रस्ताव दिया है। कांग्रेस बिल के साथ ही अपना प्रस्ताव पेश करने का भी दावा करेगी।

 

 

वहीं इसको लेकर नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा ने सत्र को लेकर बात करते हुए कहा कि “सभी मुद्दे विधानसभा में उठाए जाएंगे। हमने कृषि कानूनों को लेकर प्रस्ताव भी दिया हुआ है। जबकि इनेलो विधायक अभय चौटाला ने कहा कि प्राइवेट मेंबर दिया हुआ है, उसे लाना चाहिए। सरकार को इस पर चर्चा करानी चाहिए। हम बताएंगे कि कैसे यह बिल गलत है। दूसरी तरफ कृषि मंत्री जेपी दलाल ने कहा कि किसान व किसानी के लिए वे कहीं भी चर्चा को तैयार हैं, चाहे वह विधानसभा सदन हो या बाहर। वहीं, गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि विपक्ष में दमखम नहीं है और न ही विपक्ष का ऐसा किरदार है कि वो सरकार को कुछ कह सके”।

 

 

 

आपको बता दें कि कई विधायक कोरोना संक्रमण की वजह से विधानसभा सत्र में हाजिरी नहीं लगा पाएंगे। जिसमें से बड़खल विधायक सीमा त्रिखा जहां अभी पॉजिटिव होने के बाद निगेटिव तो हो चुकी हैं, लेकिन अभी स्वास्थ्य पूरी तरह ठीक नहीं है। इसी छोर में झज्जर से विधायक गीता भुक्कल भी कुछ दिनों पहले ही कोरोना संक्रमित हुई हैं। वहीं गुड़गांव विधायक सुधीर सिंगला और कालांवाली विधायक शीशपाल केहरवाला भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। वहीं विधानसभा में बिना निगेटिव रिपोर्ट के किसी को एंट्री नहीं दी जाएगी। सत्र से पहले कोरोना को ध्यान में रखते हुए सभी जरुरी काम किए जा चुके है जैसे- सदन में विधायकों को सोशल डिस्टेंसिंग से बैठाए जानें की तैयारी भी कर ली गई है। सभी बेंच के आगे प्लास्टिक की शील्ड लगाई गई है, ताकि बोलते वक्त किसी भी प्रकार का संक्रमण न फैलने का खतरा ना बनें। वहीं मास्क सभी के लिए अनिवार्य किया गया है। साथ ही आप ये भी जान लें कि प्रश्नकाल में जहां विधायक अपने क्षेत्र के मुद्दे उठाएंगे तो वहीं, शून्यकाल में ताजा घटनाक्रम पर सरकार को घेरने की भी पुरजोर कोशिश करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *